ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अभी और करना होगा इंतजार, आरटीओ के बाकी काम पटरी पर

तीसरे चरण के लकडाउन के आखिर में सॉफ्टवेयर अनलॉक हुए। जिसके बाद नाम ट्रांसफार, वाहनों के रजिस्ट्रेशन, फिटनेस जैसे काम हो रहे हैं। लाइसेंस का काम शुरू होने के बाद आरटीओ कार्यालय में भी भीड़ लगनी शुरू हो जाएगी।

By: Karunakant Chaubey

Published: 06 Jun 2020, 08:19 PM IST

रायपुर. लॉकडाउन में लागू हुई फिजिकल डिस्टेंसिंग की बाध्यता के कारण आरटीओ में लाइसेंस बनवाने के लिए और इंतजार करना होगा। रोड, परमिट व टैक्स से संबंधित काम के लिए विभाग में आवेदन लिए जा रहे हैं। दूसरी ओर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने वालों को वापस भेजा जा रहा है। कोरोनाबंदी और लॉकडाउन के कारण परिवहन विभाग में अब लाइसेंस बनना शुरू नहीं हो पाया है। दो पहिया व चार पहिया वाहनों के अलावा सभी तरह के लाइसेंस बनवाने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा।

इस दौरान जो नए लोग लाइसेंस बनवाने के लिए आ रहे हैं, उनको वापस लौटना पड़ रहा है। वहीं लाइसेंस के नवीनीकरण नहीं होने के कारण भी यही परेशानी है। तीसरे चरण के लकडाउन के आखिर में सॉफ्टवेयर अनलॉक हुए। जिसके बाद नाम ट्रांसफार, वाहनों के रजिस्ट्रेशन, फिटनेस जैसे काम हो रहे हैं। लाइसेंस का काम शुरू होने के बाद आरटीओ कार्यालय में भी भीड़ लगनी शुरू हो जाएगी।

सिर्फ 30 फीसदी काम ही शुरू

वर्तमान में परिवहन विभाग में 30 फीसदी कर्मचारियों के साथ कामकाज फिर से शुरू हो पाया है। कार्यालय में भीड़ एकत्रित न हो इसलिए लाइसेंस को छोड़कर शेष सभी परिवहन संबंधी काम रोजाना निपटाए जा रहें है। विभाग के अफसरों के अनुसार लाइसेंस बनवाने के लिए लोगों को थोड़ा और इंतजार करना होगा।

परिवहन सुविधा शुरू होते ही बढ़ने लगे हैं आवेदन

शहर में ऑटो-रिक्शा, टैक्सी के बाद सिटी बसों का परिवहन की अनुमति मिल गई है। इससे संबंधित कामकाज के लिए आवेदन बढऩे लगे हैं। लॉकडाउन के दौरान परिवहन विभाग का सॉफ्टवेयर लॉक होने के कारण कामकाज काफी समय तक प्रभावित रहा।

COVID-19 virus
Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned