मिलिए रायपुर की यूट्यूबर क्वीन से, एक क्लिक में खुलेगा आईपीसी पिटारा

5 लाख से ज्यादा हैं इनके सब्सक्राइबर, करवा रहीं कॉम्पीटेटिव एग्जाम कर प्रिपरेशन

By: Tabir Hussain

Published: 04 Jun 2020, 02:29 PM IST

ताबीर हुसैन @ रायपुर. ये कहानी है शहर की प्रिया जैन की। मैट्स यूनिवर्सिटी से लॉ में ग्रेजुएशन के बाद नालसर यूनिवर्सिटी हैदराबाद से मास्टर किया। उसी शहर में सिम्बायोसिस लॉ स्कूल हैदराबाद में पढ़ाना शुरू किया। टीचिंग में शुरू से इंट्रेस्ट रहा। छुट्टियों में घर आईं तो यहां एक टर्निंग प्वाइंट आया। सोच थी कि कॉम्पीटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहे छात्रों को आईपीसी की धाराओं के बारे में बताना। सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट और उससे जुड़े प्रावधान को इस तरीके से बताना कि झट से याद हो जाए। हालांकि इतनी बड़ी कामयाबी का सोचा नहीं था लेकिन आज फिनोलॉजी लीगल में 5 लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर इस बात के गवाह हैं कि प्रिया का नॉलेज उनके बहुत काम का है।

मिलिए रायपुर की यूट्यूबर क्वीन से, एक क्लिक में खुलेगा आईपीसी पिटारा

फैमिली में पहला लॉ बैकग्राउंड

मेरी फैमिली में बहुत सारे लोग डॉक्टर हैं, इंजीनियर और सीए हैं पर लॉ बैकग्राउंड वाली मैं पहली मेम्बर हूँ। बचपन से ही मुझे नई चीजें सीखने और ट्राई करने का बहुत शौक रहा है। ज्यादातर लोग जब किसी यूटूबर्स या वीडियो को देखते हैं तो उनको लगता है कि ये तो बड़ा आसान काम होगा। लेकिन आप यूट्यूब के जरिये किसी छात्र को कोई नई चीज सिखाते हैं तो वो बहुत डिफीकल्ट होता है। किसी बच्चे को कॉम्पिटेटिव एग्जाम के लिए प्रिपेर करवा रहे हैं। ऐसे में आपके दिमाग में ये प्रेशर होता है कि गलती से भी आप किसी बच्चे को गलत न पढ़ा दें। इस वजह से आपको हर बार, आपने जो भी स्क्रिप्ट बनाई है या वीडियो को क्रॉस चेक करते रहना पड़ता है।

मिलिए रायपुर की यूट्यूबर क्वीन से, एक क्लिक में खुलेगा आईपीसी पिटारा

हजार सीढिय़ों के लिए पहली सीढ़ी जरूरी

मुझे आज भी वो दिन याद है जब मैं मोबाइल और ट्राइपॉड से वीडियो रिकॉर्ड कर रही थी। रिकॉर्डिंग से लेकर एडिट, सबटाइटल और ग्राफिक, अपलोड सारा काम खुद किया करती थी। इन सारी चीजों को सीखने में मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। आर्टिकल और संविधान से जुड़ा मेरा पहला वीडियो जब 100 लोगों ने देखा तो मैं काफी उत्साहित हुई। मैंने कहीं पढ़ा था कि हजार सीढिय़ां चढऩे के लिए पहली सीढ़ी में कदम रखना होता है। ये मेरा पहला कदम था। बीते दिनों कई बड़े जजमेंट आए हैं जैसे 377, ट्रिपल तलाक, अयोध्या। इन पर मैंने जब वीडियोज बनाए तो उसे काफी पंसद किया जाने लगा। पिछला डेढ़ साल मेरे चैनल के लिए गोल्डन ईयर साबित हुआ।

Tabir Hussain Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned