scriptAway from profit, brick kiln workers, neither Aadhaar nor ration card | योजनाओं के लाभ से दूर, ईंट भट्ठा मजदूर, न आधार है न राशन कार्ड | Patrika News

योजनाओं के लाभ से दूर, ईंट भट्ठा मजदूर, न आधार है न राशन कार्ड

किले की पहाड़ी के चारों तरफ चल रहा है ईंट भट्ठों का काम आधार कार्ड बनाने में मांगते हैं 500 रुपए

रायसेन

Published: March 31, 2022 11:56:10 pm

रायसेन. रायसेन शहर के किले की पहाड़ी के चारों ओर चल रहे अवैध ईंट भट्ठों पर काम करने वालों के पास न तो आधार कार्ड हैं न राशन कार्ड। भट्ठा संचालक ही इनके माई बाप हैं। मजदूरों के बच्चे भी भट्ठे पर काम करते हैं। गुरुवार को बाल कल्याण समिति रायसेन के अध्यक्ष, अतुल कृष्ण दुबे एवं सदस्य शक्ति सिंह बघेल, चाइल्ड लाइन कार्यकर्ता, अनुराग ने भट्ठों का निरीक्षण किया। जहां बाल श्रमिकों को काम करते हुए देखा गया। दरगाह के पास राम छज्जा पर बनी बस्ती के पास ईंट भट्ठों का काम जोर-शोर से चल रहा है। काम करने वाले लोगों के बच्चे आंगनबाड़ी जुड़े नहीं है ना ही उनके पास आधार कार्ड है। वार्ड क्रमांक 18 में चल रही आंगनबाड़ी में नाम ही नहीं है।
बच्चे आंगनबाड़ी नहीं जाते और ना ही उनके आधार कार्ड बने हैं। बच्चे स्कूली शिक्षा से भी वंचित है। ईंट बनाने में लगे इन बच्चों के पिता अपने बच्चों को स्कूल भी नहीं पहुंचा पाते। बात करने पर वहां काम करने वाले मजदूरों ने बताया कि उनके पास रहने की जगह तक नहीं है, शासन प्रशासन में उनकी कोई सुनता नहीं है।

किले की पहाड़ी के चारों तरफ चल रहा है ईंट भट्ठों का काम आधार कार्ड बनाने में मांगते हैं 500 रुपए
योजनाओं के लाभ से दूर, ईंट भट्ठा मजदूर, न आधार है न राशन कार्ड

ग्राम पीपलखेड़ा में संचालित रईस खान के भट्ठे पर काम करने वाले ग्राम कमका सुल्तानपुर जिला रायसेन के आदिवासी बाबूलाल के दो बच्चे हैं, रवि 2 वर्ष तथा रोशनी 3 वर्ष। ये आंगनबाड़ी तो जाते हैं पर आधार नहीं है और ना ही उनके पास पीला परमिट है। वही राम कुमार ग्राम पीपलखेड़ा स्कूल नहीं जाते गांव के पास लगे हरे-भरे सागौन के पेड़ भी लोगों के द्वारा काट दिए गए हैं। वन विभाग की भूमि पर चल रहे अवैध भट्ठों पर जिम्मेदारों की नजर नहीं पड़ती। पीपलखेड़ा ग्राम के देवालाल सुबह उठते ही भीख मांगने निकल जाते हैं और बच्चों को भी दरगाह पर बिठा कर भीख मांगने का काम करवाते हैं। इसी तरह पीपलखेड़ा के रविंद्र 17 वर्ष अशफाक भाई के भट्ठे पर काम करता है।

ईंट भट्ठों पर काम करने वाले लोग आदिवासी सपेरा समाज के हैं। इनके बच्चों के स्कूल में नाम नहीं है। आधार कार्ड नहीं है। इनके पीले परमिट नहीं बने हैं। इन्हें शासन से मिलने वाला खाद्यान्न भी नहीं मिलता। बाल कल्याण समिति द्वारा कलेक्टर को अवगत कराया गया है। वहीं बच्चों के आधार कार्ड बनवा कर उन्हें आंगनबाड़ी और स्कूल में पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। वार्ड 18 के रामछज्जा की बस्ती के बच्चों को बीमारी का कारण वहां के पानी के प्रदूषित होना है। इसके लिए नगर पालिका अधिकारी को वहां नलकूप लगाने को निर्देश दिए हैं।
-अतुल कृष्ण दुबे, जिलाध्यक्ष बाल कल्याण समिति रायसेन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र का सियासी संकट जल्द खत्म होने के आसार कम! सदस्यता को लेकर बागी विधायक कर सकते है कोर्ट का रुखMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMumbai News Live Updates: गुवाहाटी में शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे आज विधायकों संग करेंगे बैठक, आगे की रणनीति पर होगी चर्चाBy-Elections 2022: तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के नतीजे आजमेरे पास ममता बनर्जी को मनाने की ताकत नहीं: अमित शाहपंजाब: भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार IAS के बेटे ने खुद को गोली मारी, अधिकारी की पत्नी ने विजिलेंस टीम पर लगाया हत्या का आरोपMann Ki Baat : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 'मन की बात' कार्यक्रम को करेंगे संबोधितसरबजीत सिंह की बहन दलबीर कौर का निधन, पाकिस्तान की जेल में बंद भाई को भारत लाने के लिए छेड़ी थी मुहिम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.