पेंशनर लड़ेंगे सरकार से आरपार की लड़ाई : यूपीएन सक्सेना

पेंशनर लड़ेंगे सरकार से आरपार की लड़ाई : यूपीएन सक्सेना

Deepesh Tiwari | Publish: Apr, 15 2018 08:04:10 PM (IST) Raisen, Madhya Pradesh, India

जिला स्तरीय सम्मेलन - पेंशनर बोले नोटंकीबाज घोषणावीर मुख्यमंत्री को विस चुनाव में सिखाएंगे सबक

रायसेन। रविवार को यशवंत मैरिज गार्डन में जिला पेंशनर यूनियन द्वारा जिला स्तरीय सम्मेलन आयोजित किया गया।इस जिला स्तरीय सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में नगरपालिका के अध्यक्ष जमना सेन उपस्थित हुए।वहीं विशेष अतिथि के रूप में पेंशनर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष यूपीएन सक्सेना,नरेश चंद चतुर्वेदी,कोषाध्यक्ष सलाह उद्दीन खालिद कोटि,हरीश पाराशर,संतोष कुमार राठौर, एमसी श्रीवास्तव, एमएल अग्रवाल, ओमबाबू सक्सेना, हनुमान प्रसाद शर्मा, धीरज सिंह ठाकुर, आरबीएल श्रीवास्तव, राम कृपाल श्रीवास्तव, एसडी मिश्रा, वाहिद पठान मास्साब, जेपी गुप्ता, ओपी सक्सेना, आरडी मिश्रा, जीएन शर्मा, मो.शहीद खान, अब्दुल रसीद खान, प्रेम नारायण राजपूत,गोपाल सिंह, अब्दुल हमीद, विजय श्रीवास्तव, हरिशंकर चौरसिया, एमके वर्मा सहित तहसीलों के अध्यक्ष,पदाधिकारी शामिल हुए। कार्यक्रम में शामिल सभी आगंतुकों को शॉल श्रीफल सहित उपहार भी भेंट किए गए।

जिला स्तरीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए नपाध्यक्ष जमनासेन ने कहा कि पेंशनरों का मैं ऋणि हूं जिन्होंने मुझे इस काबिल समझाकर कर मुख्य अतिथि बनाया। आपकी समस्याओं को मैं मप्र सरकार तक भेजने की जिम्मेदारी निभाऊंगा। आपने उम्रभर शासन प्रशासन में रहकर पूरी ईमानदारी लगननिष्ठा से कर्तव्य परायणता का परिचय दिया वह काबिले तारीफ है। जिला पेंशनर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष यूपीएन सक्सेना ने कहा कि हम अपने हक अधिकारों की लड़ाई के लिए मप्र सरकार से आरपार की लड़ाई लडऩे भोपाल रैली निकाल कर ताकत दिखाएंगे।

क्योंकि पेंशनरों की सुविधाओं को मप्र की शिव सरकार अनदेखा कर रही है। पेंशनरों को हर महीने नकद चिकित्सा भत्ता चाहिए। 7 वें वेतनमान में पेंशन का निर्धारण किया जाए। साथ ही एरियर्स की राशि दी जाए। वरना अब पेंशनर एकजुट होकर मप्र सरकार से आरपार की लड़ाई लडऩे के लिए तैयार हैं। आगामी विस चुनाव में मप्र सरकार के खिलाफ जनमत ना देकर उसे सबक सिखाने का समय आ चुका है। प्रदेश सरकार धर्म,जातपात में बांटकर पेंशनरों के हितों की अनदेखी कर रही है। नरेश चंद चतुर्वेदी ने कहा कि ऐसे निकम्मे, ढोंगी नौटंकी बाज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पेंशनर एकजुट होकर विस चुनाव में सबक सिखाएं। मेरी नजर में सीएम एक घोषणावीर बन चुके हैं जो आम जनता से वायदे तो चुनावी सभाओं में कर लेते हैं पर उनको पूरा करने में मुंह मोड़ लेते हैं। पेंशनरों की कई मांगें बरसों से लंबित हैं लेकिन एक दो को छोड़कर बाकी पूरी नहीं की जा रही है। आखिर वह क्या वजह है। उन्होंने एक गजल पेश करते हुए कहा कि कल चले जाएंगे तेरी मेहफिल से तन्हा होकर।

पेंशनर एकजुट हों
हनुमान प्रसाद शर्मा ने कहा कि अपने हक अधिकारों,सुविधाओं को हासिल करने पेंशनरों को एकजुट होने की बेहद जरूरत है। वरना आप पिछड़ जाएंगे अपनी सुविधाओं के लिए तरसेंगे।शासन की वादा खिलाफी को करारा जबाव देने के लिए एकता का परिचय देकर अपनी आवाज को बुलंद करें। कार्यक्रम में एमएल अग्रवाल आरडी मिश्रा,सलाह उद्दीन ,हरीश पाराशर आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए ।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned