scriptChild abuse is child abuse: Nausheen Khan | बच्चों के साथ दुव्र्यवहार है चाइल्ड एब्यूज: नौशीन खान | Patrika News

बच्चों के साथ दुव्र्यवहार है चाइल्ड एब्यूज: नौशीन खान

खान ने कहा कि यदि आपके साथ कोई दुव्र्यवहार करता है, ऐसी परिस्थिति में आप अपनी समस्या करीबियों को बता सकते हैं

रायसेन

Updated: September 23, 2022 12:02:51 am

रायसेन. बच्चों के साथ शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक स्तर पर किया जाने वाला दुव्र्यवहार चाइल्ड एब्यूज कहलाता है। हालांकि हम शोषण को सामान्यत: शारीरिक शोषण ही समझते हैं, जबकि मानसिक व भावनात्मक स्तर पर होने वाला शोषण भी बच्चों के मन पर दीर्घकालिक प्रभाव डालता है। यह जानकारी विशेष न्यायाधीश पॉक्सो अधिनियम नौशीन खान ने कन्या शाला में छात्राओं को दी। वे जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अनीष कुमार मिश्रा के मार्गदर्शन में एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण संगीता यादव के निर्देशन में कन्या शाला में आयोजित विधिक साक्षरता शिविर को संबोधित कर रही थीं। खान ने कहा कि यदि आपके साथ कोई आपका रिश्तेदार, बाहरी व्यक्ति किसी प्रकार का दुव्र्यवहार करता है, ऐसी परिस्थिति में आप अपनी समस्या को अपने माता-पिता या करीबियों को बता सकते हैं।

खान ने कहा कि यदि आपके साथ कोई दुव्र्यवहार करता है, ऐसी परिस्थिति में आप अपनी समस्या करीबियों को बता सकते हैं
बच्चों के साथ दुव्र्यवहार है चाइल्ड एब्यूज: नौशीन खान

अन्यथा समीप स्थित थाने में शिकायत दर्ज करा सकते हैं, ताकि संबंधित व्यक्ति को दंडित किया जा सके। शिविर में उपस्थित जिला विधिक सहायता अधिकारी दिव्या भलावी ने बाल मैत्रीपूर्ण विधिक सेवा योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि प्रत्येक बालक को यह अधिकार है कि उसके साथ सम्मान, दया एवं करुणा का व्यवहार किया जाए, वह इसके योग्य है। उन्होंने बच्चे की सुरक्षा का अधिकार, सुनवाई का अधिकार, समानता व पक्षपात न किए जाने का अधिकार के बारे में भी बताया। भलावी ने स्कूल बैग पॉलिसी के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि सरकार ने प्रत्येक कक्षा के लिए स्कूल बैग का वजन तय कर दिया है, क्योंकि छोटे बच्चे प्रतिदिन ढेर सारी पुस्तकें साथ ले जाने में सक्षम नहीं हैं, इस संबंध में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने जिला शिक्षा विभाग को निरंतर गंभीरतापूर्वक मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं।

स्कूल संचालकों को दी हिदायत
सुल्तानपुर. शासन के निर्देश के अनुसार स्कूली बसों में बच्चों की सुरक्षा के इंतजाम करने स्कूल संचालकों को समझाइश दी जा रही है। गुरुवार को पुलिस ने स्कूलों का निरीक्षण कर छात्रों की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए स्कूल प्रबंधन से चर्चा की। उन्हे स्कूल वाहनों में सीसीटीवी कैमरे, ड्राइवर कंडक्टर का पुलिस वेरिफिकेशन कराने, फस्र्ट एड बॉक्स रखने, अग्निशामक रखने के निर्देश दिए। ड्राइवर कंडक्टर से बच्चों की सुरक्षा के संबंध में चर्चा की। ग्लोबल स्कूल, प्रिंस कान्वेंट स्कूल, एमएस स्कूल, गिरजा स्कूल, मदर टेरेसा स्कूल सहित सभी निजी एवं सरकारी स्कूलों में पहुंच कर चर्चा की। थाना प्रभारी रंजीत सराठे ने बच्चों से से चर्चा कर उन्हें नियम बताए। डायल हंड्रेड की सहायता किस तरह ली जा सकती है इस संबंध में जानकारी दी।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

विपक्षी दलों का मेगा शोः चौटाला संग मंच पर दिखे शरद पवार, प्रकाश सिंह बादल, सीताराम येचुरी, नीतीश संग पहुंचे तेजस्वीJammu-Kashmir News: सुरक्षाबलों ने कुपवाड़ा में 2 आतंकवादियों को किया ढेर, कई हथियार बरामद'मन की बात' में PM मोदी की इस घोषणा से पंजाब के CM भगवंत मान हुए खुश, कहा धन्‍यवादकर्नाटक: आर्थिक तंगी से जूझ रहे हिंदू युवक का जबरन धर्म परिवर्तन, मस्जिद में बंद कर खिलाया बीफ, 11 लोगों पर केसअंकिता के पिता ने रोका अंतिम संस्कार, बुलडोजर की कार्रवाई और पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर उठाए सवालकर्नाटक के पूर्व CM एसएम कृष्णा की तबीयत हुई खराब, बेंगलुरू के इस हॉस्पिटल में कराया गया भर्तीझारखंडः पाकुड़ में गाय को बचाने की कोशिश में जिंदा जले मुस्लिम पिता-पुत्र, मचा मातमCISF Recruitment 2022 : HC और ASI के लिए 540 पदों पर भर्ती, 12वीं पास करें आवेदन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.