गेहूं खरीदी केंद्र पर असुविधाओं को लेकर नाराज किसानों ने की शिकायत

गेहूं खरीदी केंद्र पर असुविधाओं को लेकर नाराज किसानों ने की शिकायत

chandan singh rajput | Publish: Apr, 13 2019 02:04:04 AM (IST) Raisen, Raisen, Madhya Pradesh, India

सैकड़ों किसानों ने आज अनुविभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपा साथ ही किसानों ने पैसे लेने का आरोप भी लगाया

बेगमगंज. खरीदी केंद्रों पर असुविधाओं को लेकर तथा समय पर तुलाई ना होने के कारण क्षेत्र के सैकड़ों किसानों ने आज अनुविभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपा साथ ही किसानों ने पैसे लेने का आरोप भी लगाया।
ग्राम पाड़ाझिर, तुलसीपुर, बिजोरा, जरुआ, पिपलिया पाठक, उचेहरा, परसौरा, पिपलिया मंदिर, महगवा, ध्वाज, रेहटवास, सागोनी, नैनविलास, महुआखेड़ा कलां, महुआ खेड़ा खुर्द, खामखेड़ा, मझगवां सान, रामपुरा सहित लगभग तीन दर्जन गांव के किसानों ने तहसील कार्यालय पहुंचकर अनुविभागीय अधिकारी ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में आरोप लगाया है कि गेहूं की फसल की तुलाई के लिए पंजीयन सेवा सहकारी समिति मर्यादित पाड़ाझिर खरीदी केंद्र पाड़ाझिर में करवाया है। गेहूं की तुलाई ग्राम पाड़ाझिर में नहीं हो रही है और तुलाई प्रक्रिया प्रारंभ हुए करीब 10 दिन का समय बीत गया है, लेकिन आज तक हमारे केंद्र के लोगों को किसी प्रकार की सूचना नहीं दी गई। ना ही कोई गेहूं की फसल की तुलाई की गई। साथ ही सैकड़ों किसानों के अभी तक एसएमएस भी नहीं पहुंचे हैं।

किसानों ने कहा कि वर्तमान में खरीदी केंद्र को तुलाई होने संबंधी हम काश्तकारों को कोई सूचना नहीं दी गई और ना ही किसी भी प्रकार की कोई तुलाई आदि हो रही है। हमारे रजिस्ट्रेशन समिति क्षेत्र के बाहर समिति में कर दिए हैं। किसानों ने चेतावनी दी की जल्दी ही इस समस्या का समाधान नहीं किया तो उग्र आंदोलन के लिए समस्त किसान बाध्य रहेंगे। ज्ञापन सौंपने वालों में अशोक खडिय़ा, रामस्वरूप, मदन, रेवाराम विश्वकर्मा, गिरजा प्रसाद, वीर सिंह, रघुराज सिंह, नर्मदा प्रसाद, भगवान सिंह, ओम प्रकाश, संतोष, माधो सिंह, कीरत सिंह आदि शामिल थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned