फसल बीमा कराने बैंक के सामने किसानों की लगी भीड़, दिनभर हुए परेशान

सोमवार को अंतिम तिथि होने के कारण बैंक शाखा परिसर से लेकर सड़कों तक किसानों की लंबी कतारें लगी रही

By: chandan singh rajput

Published: 08 Sep 2020, 02:04 AM IST

सुल्तानगंज. किसानों की मांग पर प्रदेश सरकार द्वारा फ सल बीमा की अवधि बढऩे के बाद फ सल बीमा के फॉर्म जमा करने के लिए सोमवार को नगर की बैंक में बड़ी संख्या में किसान पहुंचे। सोमवार को अंतिम तिथि होने के कारण बैंक शाखा परिसर से लेकर सड़कों तक किसानों की लंबी कतारें लगी रही। खसरा नकल निकालने के लिए कियोस्क व ऑनलाइन सेंटरों पर भी किसानों की भीड़ दिखाई दी। किसान बुवाई प्रमाण पत्र के लिए बेगमगंज एवं पंचायत मुख्यालयों के चक्कर काटते रहे। किसानों ने बताया कि अधिकांश पटवारी व सचिव तहसील मुख्यालय पर रहते हैं। ऐसे में किसानों को इस दौरान मशक्कत करनी पड़ी, तब जाकर किसानों के फॉर्म जमा हुए। आवेदन के फॉर्म के साथ संबंधित किसान की खाता बही, बैंक खाता व आधार कार्ड की प्रतिलिपि जमा कर प्रक्रिया करने की बात अधिकारियों द्वारा कही गई। वहीं किसानों की भीड़ के कारण मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां भी उड़ती रहीं।

शाम को बैंक ने बंद कर दिए गेट
फ सल बीमा के लिए सोमवार को देर शाम तक बैंक के दरवाजों पर किसानों की भीड़ रही। बैकिंग समय समाप्त होने पर बैंकों ने मुख्य गेट बंद कर दिया। इसके बावजूद भी इक्का-दुक्का किसान आवेदन फ ार्म लेकर गेट पर खड़े रहे। शाखा प्रबंधक मुकेश भसीन ने बताया करीब 80 गांव में एक ही बैंक है, जिसके चलते बैंक में किसानों की भीड़ रही। फसल बीमा की अवधि बढऩे के तीन दिनों में करीब 300 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से करीब 200 फ सल बीमा आवेदनों के माध्यम से किसानों के खाते से प्रीमियम राशि काटी जा चुकी है। प्रीमियम काटने का समय केवल शाम चार बजे तक का है। ऐसे में करीब 100 किसान फ सल बीमा के लाभ से वंचित रह सकते हैं।

बीमा प्रीमियम राशि जमा करने सड़क तक लगी रही
बेगमगंज. फसल बीमा प्रीमियम राशि जमा करने के लिए अंतिम तिथि बढ़ाकर शासन द्वारा सात सितम्बर निर्धारित की गई थी। सोमवार को अंतिम दिन होने के कारण सुबह 8.30 बजे से ही भारतीय स्टेट बैंक में किसानों की कतार लगने लगी थी। किसान प्रीमियम जमा करने के लिए दिन भर धूप में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करते रहे।
दशहरा मैदान स्थित भारतीय स्टेट बैंक की शाखा में सुबह से ही किसान पहुंचना शुरू हो गए थे। बैंक कर्मचारी मुख्य गेट से केवल एक-एक व्यक्ति को ही अंदर जाने दे रहे थे। भारतीय स्टेट बैंक के अलावा अन्य बैंकों में भी प्रीमियम राशि जमा करने के लिए किसानों की लंबी-लंबी लाइनें लगी रहीं।

Show More
chandan singh rajput
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned