'मुश्किलों से डरो नहीं, डट कर करो मुकाबलाÓ

निर्भीक बचपन अभियान : सुल्तानपुर में छात्राओं ने की पुलिस अधिकारियों से सीधी बात

रायसेन/सुल्तानपुर. पत्रिका का निर्भीक बचपन अभियान बुधवार को सुल्तानपुर पहुंचा। यहां शासकीय कन्या हाई स्कूल में छात्राओं ने पुलिस अधिकारियों से सीधा संवाद करते हुए अपनी बात रखी। सुरक्षा को लेकर कई सवाल किए तो, पुलिस की कार्यप्रणाली को भी जाना। थाना प्रभारी जयपाल इवनाती ने छात्राओं के सवालों के जवाब देते हुए उन्हें मन से डर को निकालकर हर समस्या का डटकर मुकाबला करने की सीख दी। इस मौके पर स्कूल की प्राचार्या विनीता वर्मा ने पत्रिका के अभियान की सराहना करते हुए छात्राओं के हित में उन्हे जागरूक करने की पहल का स्वागत किया।

मनचले करते हैं अभद्रता
स्कूल की छात्राओं ने कहा कि वे पढऩे के लिए गांव से बस से सुल्तानपुर आती हैं, लेकिन बस में कई बार मनचले उनके साथ अभद्रता करते हैं, जिससे उन्हे कई बार विपरीत परिस्थतियों का सामना करना पड़ता है। इस पर थाना प्रभारी इवनाती ने कहा कि ऐसे लोगों से डरें नहीं। बात को छुपाएं नहीं। तुरंत जवाब दें और अपने स्कूल में शिक्षक, शिक्षिका को घटना की जानकारी दें। जरूरत पड़े तो पुलिस को सूचना दें। डायल 100 पर काल करें। पुलिस आपकी मदद के लिए तुरंत पहुंचेगी। इवनाती ने बताया कि यदि एक बार आपने सह लिया तो ये आपके लिए घातक हो सकता है। इसलिए तुरंत जवाब दें। ऐसे लोगों को सबक सिखाएं।

मार्शल आर्अ सीखें, खुद करें सुरक्षा
कार्यक्रम के दौरान छात्राओं ने कानूनी प्रावधानों और पुलिस की कार्यप्रणाली के संबंध में भी प्रश्न किए, जिनके जवाब देकर पुलिस अधिकारी ने छात्राओं की जिज्ञासा को शांत किया। उन्होंने छात्राओं से अपनी सुरक्षा के लिए मार्शल आर्ट जैसी कला सीखने के लिए कहा, ताकि जरूरत पडऩे पर वे खुद अपनी सुरक्षा कर सकें। उन्होंने खुद अपने दम पर स्थिति का मुकाबला करने के लिए छात्राओं का हौसला बढ़ाया।
Show More
Ram kailash napit
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned