हलाली की पाइप लाइन फूटी, आज आठ वार्डों में नहीं पहुंचेगा पानी

हलाली की पाइप लाइन फूटी, आज आठ वार्डों में नहीं पहुंचेगा पानी

chandan singh rajput | Publish: Apr, 17 2019 02:06:46 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2019 02:06:47 PM (IST) Raisen, Raisen, Madhya Pradesh, India

जलसंकट से जूझ रहा शहर, बेतवा और हलाली पर निर्भर

रायसेन. जिले सहित रायसेन शहर में जल संकट एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है। क्योंकि पर्याप्त पेयजल को लेकर पहले ही आमजन त्रस्त हो चुके हैं, अभी इससे राहत भी नहीं मिल पाई थी कि मंगलवार को हलाली बांध से आने वाली पानी की लाइन फूट गई। गौरतलब है कि नगर पालिका ने तीन दिन पहले दो नए पंप डालकर हलाली बांध से पानी की मात्रा बढ़ाई थी, लेकिन मंगलवार को सुबह लगभग १० बजे पग्नेश्वर के पास पाइप लाइन फूट गई। जिससे सुबह से शाम तक पानी बहता रहा।

इसका असर यह होगा कि आज शहर के आठ वार्डों में पानी की सप्लाई प्रभावित होगी। केवल बेतवा से आने वाले पानी पर ही निर्भर रहना होगा। जो लगभग आधे शहर में ही पहुंच पाता है। नगर पालिका के जल प्रभारी कन्हैया कुशवाहा ने बताया कि हाइवे का निर्माण कर रही एजेंसी की पोकलेन मशीन ने पाइप लाइन को छतिग्रस्त कर दिया, जिससे टंकियां नहीं भर सकीं।

आठ वार्डों में होगी किल्लत
हलाली की पाइप लाइन फूटने से आज शहर के आठ वार्डों में पानी की किल्लत होगी। वार्ड 04, 09, 10, 11, 12, 13, 14, और 15 में पानी सप्लाई नहीं होगा। इन क्षेत्र के लोगों को पानी की परेशानी उठाना पड़ेगा। हालांकि यह कोई पहला मामला नहीं है। कुछ दिन पहले ही हलाली का जल स्तर कम होने के कारण लगभग एक सप्ताह तक इन वार्डों में पानी की परेशानी रही थी। कई वार्डों में तो तीन से चार दिन तक नल नहीं आए थे। लोगों को निजी नलकूपों और नपा के टेंकरों से पानी का इंतजाम करना पड़ा था।

ये है हलाली और बेतवा के पानी का गणित
शह में नपा के निजी नलकूप लगभग बंद हो गए हैं। इन दिनों बेतवा नदी के माना फिल्टर प्लांट से तथा हलाली बांध से शहर में पानी की पूर्ति की जा रही है। इन दोनों जगहों से शहर में प्रतिदिन 44 लाख लीटर पानी सप्लाई किया जाता है, जिसमें से बेतवा के माना फिल्टर से 14 लाख लीटर पानी मिल रहा है। जबकि हलाली बांध से ३० लाख लीटर पानी की पूर्ति की जा रही है। पाइप लाइन फूटने से आज शहर को 30 लाख लीटर पानी नहीं मिलेगा।

आठ प्रमुख टंकियों से सप्लाई
शहर में आठ प्रमुख स्थानों पर विभिन्न भराव क्षमता की टंकियां बनाई गई हैं, जिनसे पानी सप्लाई किया जाता है। वार्ड चार और जामा मस्जिद के पास नौ-नौ लाख लीटर की टंकियां हैं, जबकि मुखर्जी नगर वार्ड 12 में 7.5 लाख लीटर क्षमता की टंकी है। वार्ड 13 में 4.5 लाख लीटर की तो वार्ड 14 में 3.5 लाख लीटर की टंकी है। इसी तरह वार्ड 18, 01 और टांका के पास ढाई-ढाई लाख लीटर क्षमता की टंकियां हैं, जिनसे नजदीकी क्षेत्र में पानी सप्लाई किया जाता है।

हाइवे निर्माण कंपनी की पोकलेन से पाइप लाइन फूट गई है। इसके खाली होने का इंतजार कर रहे हैं। रात में ही लाइन की मरम्मत की जाएगी। ताकि सुबह से टंकियां भर सकें। बुधवार को जरूरत के मुताबिक शहर में टेंकरों से पानी सप्लाई करेंगे।
-कन्हैया कुशवाहा, जल सप्लाई प्रभारी नपा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned