हम्माल मजदूरी नहीं मिलने से परेशान

मजदूरी के नौ लाख रुपए बकाया, मामले की शिकायत कलेक्टर से की।

By: Rajesh Yadav

Published: 07 Jun 2018, 09:33 AM IST

रायसेन. कृषि उपज मंडी परिसर में बने समर्थन मूल्य पर खरीदी केन्द्र पर गेहूं, चना, मसूर और सरसों की खरीदी की गई। इसमें तीन सौ हम्माल, तुलैयों ने उपज की तुलाई और हम्माली की। लेकिन इन हम्माल, तुलैयों को अभी तक मजदूरी की राशि का भुगतान नहीं किया गया।

इस कारण खरीदी केन्द्र के हम्माल, तुलैये बेहद परेशान हैं। परेशान हम्माल, तुलैयों ने कृषक सेवा सहकारी समिति अर्जुन नगर रायसेन के चैयरमेन सौदान सिंह यादव, केंद्र प्रभारी एसबी शर्मा को आवेदन देकर हम्माली की राशि भुगतान की शिकायत की है।

एक आवेदन की प्रतिलिपि कलेक्टर भावना बालिम्वे को भी दी गई। हम्मालों के मुकद्दम राजा खान और मुकीम खान ने बताया कि अनाज की तुलाई 300 तुलावटियों ने की थी। करीब तीन माह का समय बीत चुका है। लेकिन जिम्मेदारों ने उनकी हम्माली मजदूरी की राशि भुगतान कराना अभी तक मुनासिब नहीं समझा।

केंद्र प्रभारी एसबी शर्मा भी राशि भुगतान के लिए गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मजदूरी की राशि जल्द भुगतान नहीं कि तो हम्माल, तुलैये उग्र आंदोलन करने के लिए मजबूर होंगे।

हम्माल, मजदूरों का आवेदन मिल चुका है। जल्द ही उन्हें तुलाई की राशि का भुगतान करवा दिया जाएगा।
- एसबी शर्मा, चना खरीदी केंद्र प्रभारी।

हम्माल, तुलैये बेहद परेशान

परेशान हम्माल, तुलैयों ने कृषक सेवा सहकारी समिति अर्जुन नगर रायसेन के चैयरमेन सौदान सिंह यादव, केंद्र प्रभारी एसबी शर्मा को आवेदन देकर हम्माली की राशि भुगतान की शिकायत की है। तीन सौ हम्माल, तुलैयों ने उपज की तुलाई और हम्माली की। लेकिन इन हम्माल, तुलैयों को अभी तक मजदूरी की राशि का भुगतान नहीं किया गया।

एक आवेदन की प्रतिलिपि कलेक्टर भावना बालिम्वे को भी दी गई। हम्मालों के मुकद्दम राजा खान और मुकीम खान ने बताया कि अनाज की तुलाई 300 तुलावटियों ने की थी। करीब तीन माह का समय बीत चुका है। लेकिन जिम्मेदारों ने उनकी हम्माली मजदूरी की राशि भुगतान कराना अभी तक मुनासिब नहीं समझा।

Rajesh Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned