राजस्व वसूली के लिए छुट्टियां बंद

राजस्व वसूली के लिए छुट्टियां बंद

chandan singh rajput | Publish: Mar, 06 2019 02:04:04 AM (IST) Raisen, Raisen, Madhya Pradesh, India

परिवहन मंत्री के निर्देश पर विभाग के मैदानी अमले की छुट्टियां बंद कर लक्ष्य पूर्ति की जिम्मेदारी सौंपी गई है

रायसेन. आमजन की सुविधा और क्षेत्र के विकास के लिए शासन का ध्यान भले ही न रहे मगर कर वसूली करके सरकार का खजाना भरने के लिए जिम्मेदार पूरी तत्परता से काम करते हैं। जी हां, ऐसे ही खजाने में ज्यादा राजस्व पहुंचे इसके लिए परिवहन मंत्री के निर्देश पर विभाग के मैदानी अमले की छुट्टियां बंद कर लक्ष्य पूर्ति की जिम्मेदारी सौंपी गई है। यही नहीं परिवहन महकमे के सभी अधिकारियों की भोपाल संभाग जोन की चार टीमें गठित कर हर जिले का निर्धारित टारगेट वसूलने की जवाबदारी सौंपी गई है।

इनमें डीटीओ से लेकर सहायक डीटीओ व परिवहन महकमे का अमला जुट गया है। राजस्व वसूली करने के लिए परिवहन मंत्री, परिवहन आयुक्त ने रीतेश कुमार तिवारी समेत स्टाफ की छुट्टियां भी रद्द कर दी हैं। अब हरेक रविवार को भी दफ्तर में बैठकर राजस्व वसूली कराने की रणनीति बनाई जा रही है। रविवार समेत अन्य अवकाश के दिनों के समय में भी कामकाज लगातार किया जा रहा है। राजस्व वसूली पूरा करने वाहनों के कर बकायादारों की सूचियां कम्प्यूटर से खंगाली जा रही हैं।

20 करोड़ मिला शासन से टारगेट
शासन से रायसेन जिला परिवहन विभाग को २० करोड़ राजस्व आय वसूलने का लक्ष्य निर्धारित किया है। जिला परिवहन विभाग अधिकारी रीतेश कुमार तिवारी के अनुसार इस लक्ष्य के विरुद्ध वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए लगभग 15 करोड़ से ज्यादा राजस्व की वसूली हो चुकी है। उनका कहना है कि अभी तक 85 फीसदी राजस्व वसूली हो चुकी है। जल्द ही 100 फीसदी राजस्व आमदनी वसूल कर ली जाएगी। जिला परिवहन विभाग का भी यह कोशिश है कि शासन से मिले इस लक्ष्य को चुनौती मानकर उसे पूर्ण कराना है।

महाशिवरात्रि पर भी चला कामकाज
जिला परिवहन विभाग में रविवार के अलावा महाशिवरात्रि के त्यौहार पर भी दफ्तर खुला रहा। यहां राजस्व वसूली कराने की कार्यशैली तैयार की गई। इस काम के लिए क्लर्क राहुल शाक्या, सुधीर मिश्रा, दिनेश कुमार वर्मा, राखी आदि को जिम्मेदारी सौंपी गई है। वाहनों के टैक्स के अलावा अन्य करों की राशि वसूलने को लेकर फाइलों को खोलकर रिकॉर्ड को बारीकी से देखा जा रहा है। किन वाहनों से कितने साल की कितने कर की रकम वसूली की जाना है, इसके आंकड़े निकाले जा रहे हैं।

इधर नपा को छूट रहा पसीना
परिवहन विभाग के पास तो वसूली के लिए कई हथकंडे हैं, लेकिन नपा के कर्मचारी अपने राजस्व की वसूली के संघर्ष कर रहे हैं। संपत्ति कर, समेकित कर, जल कर से लेकर शिक्षा उपकर, नगरीय निकाय विकास उपकर, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स दुकान किराया, साप्ताहिक तहबाजारी शुल्क बकाया, पशु पंजीयन शुल्क वसूलने में नपा के जिम्मेदारों को पसीना आ रहा है।

नगरपालिका के विभिन्न करों की बकायादारों से राशि जमा कराने के लिए जल्द ही विश्ेाष अभियान चलाया जाएगा। इसमें शिक्षित बेरोजगार युवा-युवतियों समेत नपा कर्मी हरेक वार्ड में शिविर लगाकर बकाया राशि जमा कराएंगे।
-ओमपाल सिंह भदौरिया, नपा सीएमओ रायसेन

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned