scriptIncreased trend of farmers towards watermelon cultivation | तरबूज की खेती की तरफ किसानों का बढ़ा रुझान | Patrika News

तरबूज की खेती की तरफ किसानों का बढ़ा रुझान

आर्थिक रुप से किसान हो रहे मजबूत, गेहूं, चना की फसल लेने के बाद उसी खेत से ले रहे तरबूज की फसल।
बेगमगंज में उद्यानिकी खेती का निरीक्षण करने पहुंचे अधिकारी।

रायसेन

Published: February 17, 2022 10:27:44 pm

रायसेन. खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए किसान अपने खाली खेतों में उद्यान विभाग की अनुदान योजना के तहत तरबूज की फसल बोने लगे हैं। जिसका निरीक्षण करने के लिए उद्यान अधिकारी आरएस शर्मा ग्राम बसिया पहुंचे। जहां पर किसानों ने सामूहिक रुप से तरबूज, टमाटर, मिर्ची की खेती कर रहे हैं। उद्यान अधिकारी आरएस शर्मा, आत्मा परियोजना के प्रभारी मोतीराम इवनाती व सुरेंद्र कुशवाहा द्वारा किसानों को उन्नत खेती करने के टिप्स दिए गए। इस दौरान ग्राम बसिया के उन्नतशील किसान दुर्गा प्रसाद लोधी, श्यामलाल लोधी, चैन सिंह, मजबूत सिंह लोधी आदि उपस्थित रहे। तरबूज की बोवनी, सिंचाई, खरपतवार, गुड़ाई आदि के बारे में किसानों को विस्तार से जानकारी दी गई।
फसल निकालने के बाद खेत में बोएं तरबूज
उद्यान अधिकारी ने दूसरे क्षेत्रों से आए किसानों को बताया कि रबी फसलों की कटाई शुरु हो रही है। खेत खाली होगें अब जून में बारिश होने के बाद ही बोवनी होगी। मध्यप्रदेश में मानसून जून के अंतिम सप्ताह में दस्तक देता है। ऐसे में मई 23 दिन, जून 23 दिन, यानि 46 दिन और मानसून की बारिश लगभग 3.50 इंच बारिश न हो, तब तक खेत खाली रहेंगे। ऐसे में किसान उन्नत किस्म का तरबूज लगाकर मुनाफा कमा सकते हैं। तरबूज की खेती किसान 12 महीने तक कर सकता है। अभी जिन किसानों के खेत खाली थे उन्होंने तरबूज की फसल की बुआई कर दी है।
ड्रिप और मल्चिंग पद्धति का करें उपयोग
यदि किसान ड्रिप और मल्चिंग पद्धति से तरबूज की खेती करेगा तो उसे पानी की बचत भी होगी। यानि कम पानी में भरपूर सिंचाई होगी, मल्चिंग के कारण वायरस या कीट व्याधि आदि का प्रकोप भी नहीं आएगा। मल्चिंग विधि से तरबूज बोने से खरपतवार पैदा नहीं होता, पैदावार अच्छी होती है और फसल टूटने के दस दिन तक खराब नहीं होती। इससे 140 से 160 क्विंटल तरबूज प्रति एकड़ में निकलता है। तरबूज की फसल से किसान अन्य फलों की तुलना में अधिक मुनाफा कमा सकता है। उद्यान अधिकारी शर्मा ने बताया कि अनाज की फसल लेने के बाद तरबूज खरबूज की खेती करने पर किसान आर्थिक रुप से मजबूत हो रहे हैं। पिछले वर्ष की तरह इस बार भी क्षेत्र के कई किसानों ने अपने खेतों में तरबूज की फसल लगा दी है।
तरबूज की खेती की तरफ किसानों का बढ़ा रुझान
तरबूज की खेती की तरफ किसानों का बढ़ा रुझान

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Bharatpur Road Accident: भीषण सड़क हादसे में 5 लोगों की मौत, मचा हाहाकारLPG Price Hike Today: घरेलू गैस की कीमत 3.50 रुपए बढ़े, कमर्शियल सिलेंडर पर 8 रुपए का इजाफापोर्नोग्राफी मामले में व्यवसायी राज कुंद्रा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का भी मामला दर्जज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का पहला बयान, केंद्रीय मंत्री भी बोलेज्ञानवापी मामले को लेकर अखिलेश यादव ने हिंदू देवी-देवताओं पर की विवादित टिप्पणीअमरीकी शेयर बाजार धड़ाम, मंदी की आशंका के बीच दो साल की सबसे बड़ी गिरावटअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस काउंटडाउन कार्यक्रम में शामिल हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंहदुनिया की आखिरी रॉल्स रायल यूपी में, कंपनी ने भी लेने के लिए दिए ऑफर, 500 करोड विरासत के मालिक...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.