ऊर्जा मंत्री के केंद्र में ही मिली बत्ती गुल

मंत्री ने अफसरों को फटकारा, सहायक यंत्री निलंबित। रायसेन के बिजली उपकेंद्र में अव्यवस्था।

By: Hitendra Sharma

Published: 15 Sep 2021, 04:29 PM IST

भोपाल. ऊर्जा मंत्री प्रद्यम्न सिंह तोमर रात 12 बजे अचानक रायसेन में बिजली उपकेंद्र पर निरीक्षण करने पहुंच गए। यहां यार्ड में ही बिजली गुल थी। इस लापरवाही पर नाराजगी व्यक्त कर उन्होंने सहायक यंत्री को निलंबित करने और जूनियर इंजीनियर की वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश दिए। इसके अलावा मंत्री ने मुखर्जी नगर में जर्जर ट्रांसफॉर्मर का मेंटेनेंस और कंट्रोल रूम को ठीक करने को कहा।

बिजलीघर में भी बदहाली
मंत्री तोमर ने बिजलीघर के हर हिस्से में जाकर देखा। मुख्य ट्रांफॉर्मर के पास पानी भरा था। स्ट्रीच लाइट भी नहीं बंद थी। मंत्री ने ककहा कि ऐसे हालात में कर्मचारी कैसे का्म करेंगे। अभी जरूरत पड़ जाए तो यहां कैसे काम होगा।

Must See: मौसम विभाग ने एक साथ जारी किया रेड ओरेंड और येलो अलर्ट

मंत्री सोमवार को सीहोर जिले के दोराहा में लोगों से चर्चा कर बिजली की उपलब्धता के संबंध में जानकारी ली। अधिकारियों को लाइन मेंटेनेंस करने, उपभोक्ताओं की समस्याओं के निराकरण के निर्देश दिए। ठेका कर्मचारियों ने समस्याएं बताईं। उन्होंने समय पर वेतन नहीं मिलने और बोनस नहीं मिलने की बात कही। तोमर ने एसी से कहा कि ये गरीब दिन-रात मेहनत कर रहे हैं फिर भी इन्हें समय पर वेतन क्यों नहीं दिया जा रहा है। कंपनी के डीई राजेश तुषाद और एईं बीबी तिवारी रायसेन में नहीं थे। मंत्री ने दोनों की वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश दिए।

Must See: जलसंकट का आहट: जीवनदायिनी नर्मदा का बहाव क्षेत्र खतरे में

उधर जिला मुख्यालय से लगभग 20 किलोमीटर दूर परमौरा गांव में तीन माह से बिजली नहीं है कारण डीपी खराब होना बताया, ऐसे में महिलाओं ने कलेक्ट्रेट के सामने जाम लगा दिया। महिलाओं ने सड़क पर बैठकर नारेबाजी की। इसकी जानकारी कलेक्टर तक पहुंची और फिर एसडीएम, तहसीलदार, एसडीओपी, टीआई सहित पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। अधिकारियों ने महिलाओं की समस्या सुनी और हमेशा की तरह आश्वासन देकर उन्हे घर भेजने का प्रयास किया, लेकिन महिलाएं तय कर आई थीं, कि बड़ा ट्रांसफार्मर लेकर ही जाएंगी। एसडीएम ने बिजली कंपनी के अधिकारियों को बड़ा ट्रांसफार्मर तुरंत परसौरा भेजने के आदेश दिए तब तक महिलाएं सड़क पर डटी रहीं। लगभग 30 मिनट तक हाइेव पर आवागमन बंद रहा।

Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned