न्यायपालिका की गरिमा बनाए रखना हमारी नैतिक जिम्मेदारी: न्यायाधीश सोनी

न्यायाधीश सोनी को अधिवक्ताओं ने दी विदाई, न्यायालय परिसर में किया समारोह का आयोजन।

By: Rajesh Yadav

Published: 29 Mar 2019, 02:59 PM IST

सिलवानी. न्यायालय में पदस्थ न्यायाधीश कमलेश कुमार सोनी का स्थानांतरण सिलवानी से इंदौर व्यवहार न्यायाधीश वर्ग 1 के रूप में हुआ है। न्यायाधीश सोनी व्यवहार न्यायाधीश वर्ग दो के रूप में वर्ष 2016 में सिलवानी आए थे और तीन वर्ष के सफलतम कार्यकाल के बाद स्थानांतरित हुए हैं।

अधिवक्ता संघ सिलवानी द्वारा न्यायाधीश सोनी का विदाई समारोह कार्यक्रम गरिमामय रूप से किया गया। इस अवसर पर समस्त अधिवक्ता गण एवं एसडीएम ब्रजेन्द्र रावत, तहसीलदार सीजी गोस्वामी, नायब तहसीलदार, नगर पालिका अधिकारी संतोष रघुवंशी, वन परिक्षेत्र अधिकारी संजय राजपूत, पुलिस अधिकारी सहित न्यायालय कर्मचारी उपस्थित रहे। समारोह को संबोधित करते हुए सभी अधिवक्तागणों ने न्यायाधीश सोनी की निष्पक्ष न्याय व्यवस्था एवं न्यायालयीन कार्य के सफ ल क्रियान्वयन पर बधाई दी। साथ ही उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उनका अभिनंदन किया।

न्यायाधीश सोनी ने कहा कि न्यायपालिका सबसे ऊपर है इसकी गरिमा बनाए रखना हमारी नैतिक जिम्मेदारी है। प्रत्येक अधिकारी का यह दायित्व है कि वह सहजता के साथ सभी की परेशानियों को समझें और उसका सामाजिक ताने-बाने में निराकरण करें। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति न्याय से वंचित ना हो।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एसडीएम रावत ने कहा कि न्यायाधीश का पद कांटों का ताज होता है। जिसे दोनों पक्षों को सुनकर युक्तियुक्त निर्णय देना होता है। इस कार्यक्रम की सफलता इस बात का घोतक है कि न्यायाधीश सोनी का कार्यकाल बहुत ही अच्छा रहा है। अधिवक्ता एस के जैन ने कहा कि अधिवक्ता एवं न्यायाधीश धुरी के दो पहिए हैं। दोनों में सामंजस्य होने पर वातावरण स्वस्थ रहता है और स्वस्थ वातावरण में न्याय निराकरण सुगम हो जाता है। सोनी ने उपस्थित सभी विभागीय अधिकारियों अधिवक्ता गणों एवं कर्मचारियों का सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

इस अवसर पर सुरेश मेहरा ने विदाई पत्र का सुरम्य तरीके से वाचन कर सभी का मन मोह लिया। कार्यक्रम का सफ ल संचालन एडवोकेट सुनील श्रीवास्तव ने किया। जबकि आभार माना एडवोकेट आर के नेमा ने। इस अवसर पर एडवोकेट एसके जैन, दीपेश समैया, एसएम इमरान, एस एम लुकमान, बीएम बैरागी, मोहन सोनी, जीएस रघुवंशी, आलोक श्रीवास्तव, मनोज राजपूत, शैलेन्द्र श्रीवास्तव, राकेश नेमा सहित न्यायालयीन अधिकारीए कर्मचारी आदि शामिल हुए।

Rajesh Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned