scriptNP president post unreserved woman, veterans eye wards | नप अध्यक्ष पद अनारक्षित महिला, दिग्गजों की नजर वार्डों पर | Patrika News

नप अध्यक्ष पद अनारक्षित महिला, दिग्गजों की नजर वार्डों पर

वार्डो में कर रहे जमावट, राजनैतिक पार्टियों में घमासान।
वरिष्ठ नेताओं के आने से छोटे कार्यकत्र्ता परेशान, उन्हें कैसे मिलेगा अवसर।

रायसेन

Published: June 12, 2022 10:41:32 pm

उदयपुरा. जबसे राज्य में त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव एवं नगरीय निकाय की घोषणा हुई है, तब से संपूर्ण जनपद क्षेत्र में राजनीतिक गतिविधियां गांव से लेकर नगरों तक तेजी से चल रही है। चुनाव लडऩे के लिए दावेदार अपने-अपने दाव पेंच आजमा रहे हैं। इस बार नगर परिषद अध्यक्ष का चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली से होना है। इसलिए अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल वरिष्ठ नेता अपनी-अपनी बिसात बिछाने में व्यस्त हैं। उदयपुरा नगर परिषद के अध्यक्ष का पद अनारक्षित महिला है।
बीते वर्षों में चुनी हुई परिषद में अध्यक्ष पद पर दो-दो बार कन्हैयालाल समेले एवं केशव पटेल अध्यक्ष रह चुके हैं। एक बार पिछड़ा महिला होने पर रश्मि विश्नोई भी अध्यक्ष रह चुकी हैं। अब फिर अध्यक्ष पद महिला अनारक्षित होने से राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की नजर अनारक्षित मुक्त या अनारक्षित महिला वार्डों पर लगीं हैं। सबसे दिलचस्प मुकाबला इन्हीं वार्डों में होने वाला और दावेदारों की संख्या भी अधिक है।
ये है वार्डो की स्थिति
परिषद के अनारक्षित वार्ड एक तीन, ग्यारह और चौदह हैं। इसके अलावा वार्ड क्रमांक ४, ८, १२ और १३ महिला के लिए आरक्षित हैं। इन वार्डों में ही दोनों पार्टियों का मंथन चल रहा है। मगर सबसे ज्यादा परेशानी दोनों पार्टियों के छोटे कार्यकर्ताओं की बढ़ रही है जो चुनाव लड़कर पार्षद बनना चाह रहे थे कहीं न कहीं उनकी आशाओं पर पानी फिरता हुआ दिखाई दे रहा है। अब इन वार्डों पर भावी अध्यक्ष की नजर है। ऐसे में जमीनी स्तर के कार्यकत्र्ता निराश हैं।
भाजपा कांग्रेस ने शुरु किया आवेदन लेना
नगरीय निकाय चुनाव को लेकर भाजपा एवं कांग्रेस से दावेदारों ने टिकट प्राप्त करने के लिए आवेदन पार्टी पदाधिकारी और पर्यवेक्षकों को देना शुरु कर दिया। दोनों पार्टियों में पार्षद प्रत्याशियों के आवेदन मंडल-ब्लॉक कार्यकारिणी ले लिए हैं। जिसमें अभी तक भाजपा-कांग्रेस से 15 वार्डों के लिए 50-50 से अधिक दावेदारों के आवेदन आ चुके हैं।
पन्द्रह में से आठ वार्ड है अनारक्षित
नगर परिषद में 15 वार्ड हैं, जिनमें से दो अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं। बाकी बचे 13 वार्डों में से आठ वार्ड पर अनारक्षित हैं। इस बार अध्यक्ष पद महिला अनारक्षित होने के कारण अधिकांश वार्डो से सामान्य महिलाओं के चुनाव लडऩे की संभावना है। कुछ दावेदार अपने वार्ड आरक्षति होने से दूसरे वार्ड से भाग्य आजमाने का प्रयास कर रहे। जातीय समीकरण पर भी दोनों पार्टियों की पैनी नजर है।
नप अध्यक्ष पद अनारक्षित महिला, दिग्गजों की नजर वार्डों पर
नप अध्यक्ष पद अनारक्षित महिला, दिग्गजों की नजर वार्डों पर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

शिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें ListVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.