मनमानी: साधारण पेट्रोल नहीं है, लेना है तो पॉवर पेट्रोल लो 

मनमानी: साधारण पेट्रोल नहीं है, लेना है तो पॉवर पेट्रोल लो 
raisen

praveen praveen | Publish: Jun, 24 2017 11:29:00 PM (IST) Raisen, Madhya Pradesh, India

रोज नए दाम वाली नीति के बाद साधारण पेट्रोल की बढ़ी किल्लत 

रायसेन. पेट्रोलियम उत्पादों में दैनिक मूल्य परिवर्तन की नई प्रणाली  लागू  होने के बाद अब पेट्रोल पंप संचालक भी कमाई का नया जरिया निकालने लगे हैं। शहर में चार और जिलेभर में 28 पेट्रोल पंप हैं। इन दिनों इन पेट्रोल पंप पर आश्चर्यजनक रूप से साधारण पेट्रोल की किल्लत बनी हुई है। जब भी कोई ग्राहक आता है तो उसे अपेक्षाकृत थोड़ा महंगा स्पीड पेट्रोल ही खरीदने को मजबूर होना पड़ता है। केंद्र सरकार के आदेश के बाद से ही अंतरराष्ट्रीय बाजार के आधार पर पेट्रोलियम उत्पादों के दाम प्रतिदिन निर्धारित किए जाने लग हैं। ये व्यवस्था 16 जून से लागू की गई है। शुरू में तो इसका फायदा उपभोक्ताओं को मिलने की बात पेट्रोल पंप संचालकों और अधिकारियों द्वारा की जा रही थी, लेकिन जब से ये व्यवस्था लागू हुई है, पेट्रोल पंप संचालकों ने नई तिकड़में लगाना शुरू कर दिया है। अब अधिकतर पेट्रोल पंप मालिकों ने साधारण पेट्रोल की बजाय सिर्फ स्पीड यानि पॉवर पेट्रोल बेचना शुरू कर दिया है। स्पीड या पावर पेट्रोल का दाम करीब दो रुपए प्रति लीटर अधिक रहता है। इसकी जानकारी होने के बाद भी पेट्रोल पंपों की जांच अब तक जिम्मेदार विभाग के अधिकारियों द्वारा नहीं की गई है। इसका भरपूर फायदा पेट्रोल पंप संचालक उठा रहे हैं। वहीं जिला मुख्यालय के आसपास के कस्बों समेत गांवों के पेट्रोल पंपों पर पिछले सप्ताह से डीजल-पेट्रोल की कमी बरकरार है।   

विभागीय अधिकारी साधे हैं चुप्पी  
इस मामले में उचित कार्रवाई की जिम्मेदारी प्रशासन द्वारा खाद्य और नापतौल विभाग को सौंपी गई है। इन दोनों जिम्मेदार विभाग के आला अधिकारियों को पेट्रोल पंपों की जांच करने तक की फुरसत नहीं है। जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी आरके शुक्ला ने भी पेट्रोल पंप जाकर यह पता नहीं किया कि उपभोक्ताओं को किस दर पर डीजल-पेट्रोल दिया जा रहा है। स्पीड पेट्रोल ही क्यों बेचा जा रहा है। मशीनों की जांच करना तक मुनासिब नहीं समझा है। नापतौल विभाग के अधिकारी भी लापरवाह बने हुए हैं। शहर के किसी भी पेट्रोल पंप पर उपभोक्ताओं को बिल नहीं दिया जाता है। इसकी वजह से भी उपभोक्ता अपने आपको छला हुआ महसूस कर रहे हैं।

 एक भी पंप नहीं है ऑटोमेटिक 
रायसेन शहर क्या पूरे रायसेन जिले में एक भी पेट्रोल पंप ऑटोमेटिक नहीं है। इसकी वजह से कई पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा सुबह छह बजे से परिवर्तित दरें डिस्पले नहीं की जा रही हैं। पुराने दरों पर ही ग्रामीण क्षेत्रों के पेट्रोल पंपों पर डीजल -पेट्रोल बेचा जा रहा है। इससे उपभोक्ता स्वयं को ठगा सा महसूस कर रहे हैं।

डीजल पेट्रोल पंपों पर प्रतिदिन रेट क्या हैं इसकी जानकारी बकायदा जिला-प्रशासन को प्रेस नोट जारी कर जानकारी देना चाहिए। इससे उपभोक्ताओं को ठगा नहीं जा सकेगा। 
गजेंद्र मीणा, युवा 

&शहर समेत जिलेभर के पेट्रोल पंपों पर सुविधाओं की कमी वाहन मालिकों द्वारा हमेशा महसूस की जा रही है। जिम्मेदार अधिकारी इन पर गंभीरता पूर्वक ध्यान नहीं दे रहे हैं।  
बासिर बेग

&इस संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी लेकर खाद्य निरीक्षकों को पेट्रोल पंपों की जांच के लिए निर्देशित किया जाएगा। ऐसे लापरवाह पेट्रोल पंप संचालकों के खिलाफ नियमानुसार उचित कार्रवाई की जाएगी। 
राजेंद्र कुमार शुक्ला, जिला आपूर्ति अधिकारी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned