पिता की अस्थियां विसर्जित करने गया था परिवार हादसे में चार की मौत

सुल्तानपुर निवासी परिवार रीवा जिले के चोरहटा थाना क्षेत्र में हुआ हादसे का शिकार।

By: praveen shrivastava

Published: 25 Sep 2021, 08:52 PM IST

रायसेन/सुल्तानपुर. जिले के कस्बा सुल्तानपुर निवासी वंशकार परिवार प्रयागराज से लौटते समय रीवा शहर के चोरहटा थाना क्षेत्र में किटवरिया बाइपास पर हादसे का शिकार हो गया, जिसमें परिवार के चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन गंभीर रूप से घायल हुए हैं। वंशकार परिवार अपने पिता अस्थियां विसर्जित करने कार से प्रयागराज गया था। जहां से लौटते समय एक ट्रक ने उनकी कार को जोरदार टक्कर मारी। हादसा शुक्रवार-शनिवार की रात लगभग दो बजे हुआ। चोरहटा पुलिस ने मृतकों को शवरों को दो एंबुलेंस से सुल्तानपुर के लिए रवाना कर दिया है। जबकि घायलों को रीवा के संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे की सूचना मिलते ही सुल्तानपुर में शोक छा गया।
जानकारी के अनुसार सुल्तानपुर निवारी कमलेश वंशकार अपने पिता गोरा वंशकार की अस्थियों का विसर्जन करने तवेरा कार से प्रयागराज गया था। उसके साथ परिवार के अन्य सदस्य थी। जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं। रात लगभग दो बजे एनएच 30 किटवरिया बाइपास पर उनकी कार को सामने से आ रहे एक ट्रक ने जोरदार टक्कर मारी। जिसमें वंशकार परिवार के चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद पहुंची पुलिस ने जेसीबी तथा कटर की मदद से मृतकों के शवों को बाहर निकाला। जबकि घायलों को तुरंत संजय गांधी अस्पताल पहुंचाया।
इनकी हुई मौत
हादसे में 14 वर्षीय वैशाली पुत्री संदेश वंशकार निवासी सुल्तानपुर, 50 वर्षीय शशी वंशकार निवासी नकतरा, 30 वर्षीय विनोद वंशकार निवासी सुल्तानपुर, 17 वर्षीय मयंक वंशकार निवासी सुल्तानपुर की मौके पर मौत हो गई है, जबकि 48 वर्षीय कमलेश वंशकार निवासी सुल्तानपुर, 38 वर्षीय बबली वंशकार तथा 43 वर्षीय उषा वंशकार शामिल हैं।
सुबह पीएम कर सुल्तानपुर भेजे शव
जानकारी के अनुसार चोरहटा पुलिस ने शनिवार सुबह चारों शवों का पीएम कराने के बाद प्रशासन की मदद से शवों को एंबुलेंस से सुल्तानपुर के लिए रवाना किया। रात में शवों के सुल्तानपुर पहुंचने के बाद आज अंतिम संस्कार किया जाएगा।
एक भाई, दो बच्चे और ***** की मौत
गोरा वंशकार के तीन बेटे हैं। इनमें सबसे बड़ा कमलेश सुल्तानपुर अस्पताल में वार्ड बॉय है। हासदे में उसका बेटे मयंक की मौत हुई है, जबकि दूसरे भाई संजय की बेटी वैशाली की थी मौत हुई है। कमलेश की ***** शशि की भी इस हादसे में मौत हुई है।
-------------------

praveen shrivastava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned