scriptraisen, barna dam se raha sukhi machhli ka avedh karobar | बारना डेम से किया जा रहा सूखी मछली का अवैध व्यापार | Patrika News

बारना डेम से किया जा रहा सूखी मछली का अवैध व्यापार

संबंधित अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान सरकार को प्रतिमाह लग रहा लाखों का चूना।

रायसेन

Published: December 24, 2021 01:18:03 pm

बाड़ी. क्षेत्र के किसानों को संपन्न करने में अहम भूमिका निभाने वाले बारना डेम से जहां प्रतिवर्ष बड़ी मात्रा में किसानों को पानी मिलता है तो वही दूसरी ओर हजारों एकड़ में फैले बारना डेम से रसूखदारो के द्वारा बड़ी मात्रा में मछली का अवैध व्यापार किया जा रहा है।
बता दें कि नियमानुसार किसी भी तालाब या डेम से सुखान (छोटी) मछली निकालना पूरी तरह प्रतिबंधित है। बावजूद इसके बारना डेम से में मत्स्य विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों की मिलीभगत से सुखान (छोटी) मछली सिंघोरीं अभ्यारण के अंतर्गत आने वाले डेम से मछली निकाली जा रही है और मत्स्य विभाग इस मतस्य आखेट पर रोक लगाने में असमर्थ है।
जिले का सबसे बड़ा बारना डैम जो लगभग 4000 हेक्टेयर में फैला हुआ है जिसका प्रति वर्ष मछली का ठेका कई करोड़ रुपये में जाता है और इस बार भी इस डेम को मुम्बई की हुल्लड़ मुरादावादी फर्म ने लिया है और इस फर्म ने पेटी ठेके पर बारना डेम को एक रसूखदार नेता को दे रखा है जो सुखान (छोटी) मछली सेंचरी क्षेत्र से निकाल कर बड़ी मात्रा में महानगरों में परिवहन कर रहा है।
जबकि नियमानुसार तालाब एवं डेम से छोटी एवं 500 ग्राम से कम वजन की मछली निकालना पूरी तरह प्रतिबंधित किया है इसके बाद भी मत्स्य विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से बारना डैम सेंचरी क्षेत्र में सुखान(छोटी) मछली बेरोक टोक निकाली जा रही है,और इस मछली को निकालने पर पूरी तरह प्रतिबंध है।
ग्रामीणों के द्वारा की जा चुकी है शिकायत
बता दें कि पूर्व में ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों के द्वारा शिकायत के माध्यम से कहा गया है कि बारना डेम के आखरी कोने घने जंगल में कई क्विटल सुखान (छोटी) मछली पड़ी है जिसकी सूचना विभाग के नीचे से लेकर ऊपर के बड़े अधिकारियों तक को दी गयी बावजूद इसके अधिकारियों ने कोई कार्यबाही करना मुनासिब नही समझा।बहीं दिन दहाड़े मछली की कालाबाजारी जारी है बताया जा रहा है ।
बारना डेम से किया जा रहा सूखी मछली का अवैध व्यापार
बारना डेम से किया जा रहा सूखी मछली का अवैध व्यापार
अन्य प्रदेशों में मिलता है अधिक मूल्य

इसका बाजार मूल्य बहुत अधिक होता है और यह दवाई बनाने के काम में आती है इस कारण ठेकेदारों द्वारा सुखान (छोटी) मछली को निकालने के लिए बिहार या बंगाल से पार्टियां बुलाई जाती है जो इस सुखान (छोटी) मछली को नवंबर माह से जनवरी माह तक निकालती हैं ।
इनका कहना है

मत्स्य महासंघ- सुखान मछली पर प्रतिबंध है मेरे पास शिकायत आयी थी हमने तुरन्त अपने स्टाफ को भेजा था लेकिन तब ऐसी गतिविधि नही मिली कुछ एरिया सेंचुरी का है जहां ऐसी गतिबिथि चल रही है में फिर अपने स्टाफ को भेजकर दिखवाता हूं ।
वीके राय , रीजनल मैनेजर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: पंजाब में चुनाव की तारीख टली, अब 20 फरवरी को होगी वोटिंगचुनाव आयोग का बड़ा फैसला, पत्रकारों सहित इन लोगों को मिलेगी पाँच राज्यों के चुनावों में पोस्टल बैलेट की सुविधापीएम मोदी की सुरक्षा में चूक मामले की जांच कर रहीं जस्टिस इंदु मल्होत्रा को SFJ ने दी धमकीहरक रावत की बीजेपी से छुट्टी पर सीएम पुष्कर धामी का बड़ा बयान, बोले- पार्टी पर बना रहे थे दबावभारत में एक दिन में कोरोना के 2.71 लाख नए मामले आए सामने, 314 की मौतCM Yogi बोले- पेशेवर अपराधियों को टिकट देने वाली सपा का असली चेहरा आया सबके सामनेछत्तीसगढ़ के इस जिले में 25 फीसदी पहुंचा कोरोना पॉजिटिविटी रेट, हर दिन मिल रहे पांच सौ से ज्यादा नए मरीजतमिलनाडु के Jallikattu उत्सव में पुलिसकर्मियों समेत कई लोग घायल, अस्पताल में भर्ती
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.