मंत्री के सामने फूट गया गुबार

सवा साल से दबी चिंगरी भड़की, भाजपा के दो गुटों में प्रभारी मंत्री के सामने संचालन को लेकर उभरा विवाद।

By: praveen shrivastava

Published: 12 Jul 2021, 08:53 PM IST

रायसेन. बीते साल मार्च में कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए डा. प्रभुराम चौधरी और उनके समर्थकों की पुराने भाजपाई और पूर्व मंत्री डा. गौरीशंकर के समर्थकों से पटरी नहीं बैठ रही है, यह बात जाहिर है। कई कार्यक्रमों, उपचुनाव प्रचार के दौरान भी ऐसे कई बार दोनो गुटों में नूराकुश्ती दिखाई दी। भाजपा दो गुटों में बंटी साफ दिखाई देती रही है, लेकिन सोमवार को रायसेन आए जिले के प्रभारी मंत्री अरविंद भदोरिया के सामने दोनो गुट आमने-सामने आ गए। कार्यकर्ताओं में सवा साल से दबी चिंगारी भड़क गई। मंच संचालन के बहाने दोनो गुटों के कार्यकर्ता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप करने लगे, बात झूमा झटकी तक पहुंच गई। इस दौरान प्रभारी मंत्री के अलावा स्वास्थ डा. चौधरी, सिलवानी विधायक रामपाल, पूर्व विधायक रामकिशन पटेल सहित जिले के अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे।
बताया जाता है कि प्रभारी मंत्री के स्वागत के दौरान मंच संचालन को लेकर मामले में तूल पकड़ा। मंच का संचालन जिला महामंत्री राकेश तोमर ने शुरू किया, जबकि स्वागत कर्ताओं की सूची अन्य कार्यकर्ता रामुकमार साहू के पास थी। तोमर ने उनसे सूची मांगी और यहीं से कहा सुनी शुरू हो गई। दोनो गुटों के कुछ कार्यकर्ता मंत्रियों के सामने ही एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने लगे। राजनीतिक दलों में ऐसे मामले होते रहते हैं, लेकिन रायसेन में और भाजपा में यह नई बात थी। जिसे देख वरिष्ठ कार्यकर्ता सकते में आ गए। स्थिति को देख रामपाल सिंह ने विवाद कर रहे कार्यकर्ताओं के बीच जाकर समझाकर शांत किया।
इनका कहना है
- पार्टी की गाइडलाइन के अनुसार जब तक जिले की नई कार्यकारिणी का गठन नहीं हो जाता, तब तक पुरानी कार्यकारिणी में महामंत्री या मंडल अध्यक्ष ही मंच का संचालन करते हैं। महामंत्री राकेश तोमर इसी के अनुसार संचालन कर रहे थे। उन्हे कार्यकर्ताओं की सूची तोमर को देना चाहिए था।
जितेंद्र शर्मा, मंडल अध्यक्ष रायसेन
- मंच संचालन कौन करेगा यह तय करना अध्यक्ष का अधिकार है। कोई बड़ी बात नहीं है। समझाइश के बाद मामला शांत हो गया था।
जेपी किरार, जिलाध्यक्ष भाजपा
- बड़े परिवार में इस तरह की बातें होती रहती हैं, कोई खास बात नहीं है। कार्यकर्ताओं को समझाकर मामला शांत कर दिया है। कोई और बात नहीं हैं।
रामपाल सिंह, विधायक सिलवानी
------------------------

मंत्री के सामने फूट गया गुबार
praveen shrivastava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned