तहसीलदार के सरकारी आवास में दिन दहाड़े हुई चोरी

पत्नी के साथ डॉक्टर से उपचार कराने गए थे तहसीलदार, चोरों के हौसले बुलंद।

By: praveen shrivastava

Published: 01 Mar 2020, 09:48 PM IST

उदयपुरा. नगर में रविवार को उदयपुरा में कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल देने वाली घटना दोपहर करीब बारह बजे से दोपहर दो बजे के बीच घटित हुई। इसमें तहसील कार्यालय के सामने स्थित तहसीलदार ब्रजेश कुमार सिंह के सरकारी आवास को सूना पाकर अज्ञात चोरों ने निशाना बना लिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना में अज्ञात चोर लगभग 50 हजार रुपए नगदी के साथ लगभग 20 हजार कीमत के सोने के जेवरात चोरी गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार तहसीलदार ब्रजेश कुमार सिंह रविवार की दोपहर लगभग 12 बजे अपनी पत्नी के साथ डॉक्टर से अपने दांत का उपचार कराने गए थे। उपचार के बाद लगभग पौने दो बजे जैसे ही अपने आवास पर आए तो उन्होंने अपने पीछे जाने वाले रास्ते का दरवाजा टूटा और खुला पाया। उनके अंदर के कमरों का सामान भी बिखरा पड़ा था और अलमारी का ताला भी टूटा मिला। तत्काल तहसीलदार ने इसकी सूचना सबसे पहले देवी सिंह शेजवार और रामबाबू श्रीवास्तव को दी। जिसके बाद थाना उदयपुरा को दी। घटना की तस्दीक करने थाना उदयपुरा से एसआई आरएस ठाकुर, एएसआई शब्बीर मंसूरी और एएसआई अशोक तिवारी अपने जवानों के साथ पहुंचे और तहसीलदार के सरकारी आवास का मौका मुआयना किया। फि लहाल पुलिस ने अज्ञात चोर के विरुद्ध धारा 380 के तहत मामला दर्ज कर जांच में लिया है।
घात लगाकर दिया घटना को अंजाम
घटना को अंजाम देने चोर पहले से घात लगाकर बैठा था। जैसे ही तहसीलदार ब्रजेश कुमार सिंह अपनी पत्नी के साथ घर के दरवाजे में ताला डालकर दन्त चिकित्सक को दिखाने गए। इसी बीच चोर आवास के पीछे ले रास्ते की दीवार कूदकर अंदर आए और पूरी घटना को अंजाम दिया। चोर तहसीलदार आवास के पीछे से जाने बाले रास्ते से दीवार कूद कर पहले अंदर आया। फि र उसने अंदर जाने के लिये एक दरवाजे को तोडऩे की कोशिश की, जो नहीं टूटा तो फि र दूसरे कमरे के दरवाजे को तोड़कर चोर अंदर गया। जहां से वह पूरे घर में आसानी से यहां-वहां घूमकर चोरी की घटना को अंजाम दे सका। जबकि तहसीलदार के आवास के ठीक सामने न्यायाधीश का आवास भी है।
सुरक्षा व्यवस्था पर लगे सवालिया निशान
तहसील कार्यालय के सामने तहसीलदार के सरकारी आवास जिससे सामने न्यायधीश का आवास भी है। यहां दिन दहाड़े चोरी होने से पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान लगाता है। साथ ही तहसील कार्यलय सामने ही है, जहां 24 घण्टे पुलिस के जवान तैनात रहते है। जहां ये जवान रहते हैं, वहां से कुल 20 मीटर की दूरी पर ठीक सामने है तहसीलदार का आवास। क्षेत्र में अपराधियों के कितने हौसले बुलंद है, इसका अंदाजा भी लगाया जा सकता है।
वर्जन
जैसे ही चोरी की सूचना मिली हमने तत्काल घटना स्थल का बारीकी से मौका मुआयना किया। अज्ञात चोर के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। सरगर्मी से चोर की तलाश की जा रही ओर जल्दी ही गिरफ्तार किया जाएगा।
आरएस ठाकुर, एसआई, थाना उदयपुरा।
इनका कहना
मैं अपनी पत्नी के साथ घर में ताला लगाकर अपने दांत का इलाज कराने गया था। घर आया तो अंदर आकर देखा पीछे का दरवाजा टूटा है और सामान भी बिखरा है। तुरंत कुछ लोगों के साथ पुलिस को सूचना दी।
ब्रजेश कुमार सिंह, तहसीलदार उदयपुरा।
------------------------------------

तहसीलदार के सरकारी आवास में दिन दहाड़े हुई चोरी
praveen shrivastava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned