विदिशा जिले की वन समिति रायसेन में पर्यटकों से कर रही वसूली

जागरुक नागरिक ने फेसबुक पर पोस्ट कर किया मामले को उजागर।

By: praveen shrivastava

Published: 07 Sep 2021, 09:25 PM IST

रायसेन. जिले के पर्यटन स्थलों पर दबंगों द्वारा अवैध रूप से पर्यटकों से वाहन पार्किंग, प्रवेश शुल्क के नाम पर वसूली की जा रही है। शहर के एक जागरुक नागरिक हाशम खुर्शीद ने इस संबंध में फेस पर पोस्ट डालकर खुलासा किया है। जिसमें कहा है कि हलाली डेम के आगे ब्लू वाटर झरना यानी छोटी पचमढ़ी के रास्ते एक बैनर लगा हुआ है, यहां पर चार-पांच युवक झरने पर घूमने आने वाले लोगों से 10 रुपए प्रति व्यक्ति शुल्क वसूल कर रहे हैं। पूछताछ करने पर बताते हैं कि ग्राम वन समिति बाला बरखेड़ा ने यह शुल्क निर्धारित किया है। यह ग्राम वन समिति विदिशा जिले से सम्बंधित है, जबकि यह झरना रायसेन जिले में है। सिर्फ रास्ते का थोड़ा सा हिस्सा विदिशा जिले में आता है। इस तरह विदिशा जिले की समिति रायसेन क्षेत्र में बाहर से आने वाले पर्यटकों से वसूली कर रही हैं। जिसके द्वारा लगाए गए युवक हाथ में डंडे लेकर पर्यटकों से जोर जबरदस्ती कर वसूली करते हैं।
उल्लेखनीय है कि केवल यही नहीं, जिले के अन्य पर्यटन स्थलों पर भी अवैध वसूली की जानकारी मिनती रही है। महादेव पानी, रायसेन किला पर भी वाहन पार्किंग के नाम पर वसूली की जाती रही है। जिले में केवल सांची के स्तूप और भीमबैठिका पर ही प्रवेश शुल्क लिया जाता है, जो पुरातत्व विभाग द्वारा तय किया गया है। शाहिम की पोस्ट पर कई लोगों ने प्रतिकिया देते हुए हलाली डेम क्षेत्र में अतिक्रमण कर भवन बनाने की बात भी लिखी है। पर्यटन स्थलों के लिए प्रसिद्ध रायसेन जिले में इस तरह अवैध रूप से वसूली से जिले की प्रतिष्ठा पर असर पड़ेगा।
---------------

विदिशा जिले की वन समिति रायसेन में पर्यटकों से कर रही वसूली
praveen shrivastava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned