अमन और निखिल पर कई प्रकरण दर्ज

हत्या के तीन आरोपी पकड़े, चौथा अभी भी फरार

By: chandan singh rajput

Published: 04 Apr 2019, 02:04 AM IST

रायसेन. एक अप्रेल को शहर के वार्ड तीन में ओमप्रकाश यादव की चार युवकों ने चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी। इस सनसनीखेज मामले में पुलिस ने हत्या के तीन आरोपियों को तो गिरफ्तार कर लिया है। मगर आरोपी अभी भी फरार है। पुलिस उसे भी जल्द गिरफ्तार कर अप्रेल में ही मामले में चालान पेश किया जाएगा। बुधवार को पुलिस ने गिफ्तार आरोपियों २० वर्षीय अमन पुत्र राजकुमार बघेल निवासी कलेक्ट्रेट कॉलोनी, २० वर्षीय निखिल उर्फ बिट्टू पुत्र नंदकिशोर राठौर निवासी गंजबाजार तथा २० वर्षीय अंकित पुत्र अशोक वंशकार निवासी तालाब मोहल्ला को अदालत में पेश किया।

मीडिया से बात करते हुए एसपी मोनिका शुक्ला ने बताया कि मृतक ओमप्रकाश उर्फ छोटे यादव निवासी कालीटोल रायसेन और आरोपी निखिल उर्फ बिट्टू राठौर के बीच रंजिश चल रही थी। इसी के चलते आरोपी ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर छोटे यादव की हत्या कर दी। एसपी ने बताया कि आरोपी निखिल ने छोटे यादव पर चाकू से चार वार किए थे। जबकि बाकी तीन आरोपियों ने उसकी मदद की थी। हत्या की वारदात को अंजाम देकर आरोपी स्कूटर से विदिशा भाग गए थे।

वहां से ट्रेन से भोपाल और फिर भोपाल से बस पकड़कर इंदौर चले गए थे। आरोपियों की तलाश के लिए बनाए गए दल ने मुखबिर की सूचना पर आरोपियों का पीछा करते हुए मंगलवार शाम लगभग सात बजे इंदौर के बंगाली चौराहा से गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयक्त छुरा बरामद कर लिया है। एसपी ने बताया कि हत्याकांड के चौथे आरोपी गुड्डू पुत्र कमर कुरेशी की तलाश जारी है, जल्द ही उसे भी पकड़ लिया जाएगा। एसपी ने आरोपियों को पकडऩे वाले दल को छह हजार रुपए पुरस्कार देने की घोषणा की।

पुलिस ने बताया कि हत्या के आरोपी अमन बघेल पर पहले से कई अपराध दर्ज हैं।
जिलेभर के अपराधियों को किया चिन्हित
एसपी ने बताया कि पुलिस ने जिलेभर के अपराधियों को चिन्हित किया है। जिन पर विभिन्न अपराधों में प्रकरण दर्ज हैं। ऐसे अपराधियों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। कई अपराधी जिलाबदल की सूची में शामिल हैं, जिनके प्रकरण कलेक्टर कोर्ट में चल रहे हैं।

Show More
chandan singh rajput
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned