तेज हवा और बारिश ने गिराए पेड़, उजाड़े कई छप्पर

हवा की रफ्तार इतनी अधिक थी कि लोगों को अपनी जान बचाने के लाले पड़ गए

By: chandan singh rajput

Published: 17 Jun 2020, 02:04 AM IST

सलामतपुर. नगर में मंगलवार की दोपहर में तेज हवा और बारिश ने कई जगह जमकर तबाही मचाई। बारिश के साथ तेज आंधी में कई कच्चे मकानों के छप्पर उड़ गए। लोगों के मकानों पर ढंकी चादर तेज हवा में यहां वहां उड़ती नजर आईं। हवा की रफ्तार इतनी अधिक थी कि लोगों को अपनी जान बचाने के लाले पड़ गए। जब आंधी शांत हुई तब लोगों की जान में जान आई। इसके बाद तेज बारिश शुरू हो गई। कच्चे मकानों के छप्पर उड़ जाने से बारिश का पानी घरों में भर गया, जिससे गृहस्थी का सारा सामान बर्बाद हो गया।

तेज आंधी और बारिश ने लगभग आधा घंटा जमकर कहर बरपाया। गनीमत यह रही कि कोई जनहानि नहीं हुई। आंधी और बारिश से राजीव नगर में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ। यहां के रहवासियों अशोक अहिवार, शिवचरन वाल्मिकी, राकेश वंशकार, गज्जू वंशकार, सुरेश वंशकार, गोपाल सेन, राजकुमारी सेन, अब्दुल, अनिफ शेख, जुलेख खां, गंगा वंशकार के कच्चे मकानों के छप्पर उड़ जाने से उनके घरों में रखा सामान खराब हो गया। उधर श्रीराम कॉलोनी, टोरिया मोहल्ला, सुनारी रोड पर भी तेज हवा चलने से कई मकानों के कबेलू छप्पर सहित नीचे आ गिरे। जगह-जगह तेज हवा में पेड़ भी धराशायी हो गए।

बारिश थमने के बाद विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल के नगर अध्यक्ष तनिश चौकसे, नगर संयोजक सौरभ पचेरवाल, नगर मंत्री सत्यम शर्मा, सत्संग प्रमुख अतुल रैकवार, अमित विश्वकर्मा और निशांत राजपूत ने प्रभावित क्षेत्रों में पहुंचकर लोगों की सहायता की। विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल ने प्रशासन से प्रभावित लोगों को आर्थिक मदद दिए जाने की मांग की है।
घंटों गुल रही बिजली
तेज हवा चलने और बारिश के बीच नगर में बिजली गुल हो गई। बारिश थमने के बाद भी घंटों बिजली नहीं लौटी, जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बारिश थमने के बाद बढ़ी उमस ने लोगों को बेहाल कर दिया।
इसी पर बिजली के नहीं रहने से लोगों को और अधिक परेशानी उठाना पड़ी।

Show More
chandan singh rajput
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned