आधी रात गिरा मकान, दबनेे से हुई बालिका की मौत

महेश्वर निवासी कमलेश हरिजन का कच्चा मकान अचानक भरभरा कर धराशायी हो गया।

By: chandan singh rajput

Published: 13 Oct 2021, 01:02 AM IST

रायसेन. बरेली थाना क्षेत्र के ग्राम महेश्वर में सोमवार-मंगलवार की रात लगभग १२ बजे एक मकान गिरने से परिवार के पांच सदस्य मलबे में दब गए। जिनमें से एक 12 वर्षीय बालिका की इलाज के दौरान मौत हो गई। बाकी सदस्यों का बरेली अस्पताल में इलाज चल रहा है। जानकारी के अनुसार ग्राम महेश्वर निवासी कमलेश हरिजन का कच्चा मकान अचानक भरभरा कर धराशायी हो गया। मकान के अंदर गहरी नींद में सो रहे कमलेश की मां बत्ती बाई 62 वर्ष, पत्नी राम देवी 35 वर्ष, पुत्री ज्योति 12 वर्ष, छोटी पुत्री किरण 6 वर्ष, पुत्र आशिक 15 वर्ष को गंभीर चोटें आईं। जिसमें घटना घटित हुई उस समय घर का मुखिया कमलेश घर में नहीं था।

मकान गिरने की आवाज सुन पहुंचे पड़ोस के लोगों ने तुरंत मलबे में दबे लोगों को निकालना शुरू किया और 108 एंबुलेंस को फोन लगाया, लेकिन एंबुलेंस एक घंटे तक नहीं पहुंची, ग्रामीणों ने एक जीप से सभी घायलों को बरेली सिविल हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां से 12 वर्षीय पुत्री ज्योति को जिला अस्पताल रेफर किया गया, लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। सुबह पुलिस बल और पटवारी महेश्वर पहुंचे और पंचनामा तैयार किया।

दो दिन से गायब व्यक्ति का शव वेयरहाउस के पीछे मिला
बेगमगंज. मंगलवार की शाम 4 बजे के करीब वेयरहाउस की गोदाम और श्मशान भूमि की दीवार के बीच एक व्यक्ति का शव पड़ा मिला। सूचना पर पुलिस ने मौके पर जाकर देखा के एक व्यक्ति बैठी अवस्था में मृत है और उसके शरीर पर छाले से उभर आए हैं। शव दो-तीन दिन पुराना पाए जाने पर आसपास के इलाके में गायब लोगों की जानकारी ली गई। जिसमें मृतक के परिजन मौके पर पहुंचे, उन्होंने शव की शिनाख्त मुन्ना लाल जाटव के रूप में की।

पुलिस ने आवश्यक कार्यवाही कर शव को पीएम कराकर परिजनों को सौंप दिया। जानकारी के अनुसार 50 वर्षीय मुन्ना लाल जाटव पुत्र राधेलाल निवासी वार्ड 2 चुरक्का 2 दिन से गायब था। 9 अक्टूबर की रात में करीब 10 बजे वह नशे की हालत में घर पहुंचा था। पत्नी ने पैसों की मांग की तो वह घर से चला गया। रात में घर नहीं पहुंचने पर दूसरे दिन तलाश की गई, लेकिन उसका कोई पता नहीं चला नहीं चला। पुलिस को भी सूचना दी गई। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया है। थाना प्रभारी इंद्राज सिंह का कहना है कि पीएम रिपोर्ट के बाद ही कुछ कहा जा सकता है, कि उसकी मौत किस कारण से हुई है।

Show More
chandan singh rajput
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned