सुल्तानपुर और देवनगर के अस्पताल होंगे अपग्रेड

जिले के देवनगर और सुल्तापर स्थित सरकारी अस्पतालों को हेल्थ एडं वेलनेस सेंटर के रूप में विकसित किया जाना है।

रायसेन. जिले के देवनगर और सुल्तापर स्थित सरकारी अस्पतालों को हेल्थ एडं वेलनेस सेंटर के रूप में विकसित किया जाना है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग के संभागीय संयुक्त संचालक डॉ. मोहन सिंह ने इन दोनों अस्पतालों में उपलब्ध संसाधनों सहित स्टॉफ, इन्फ्राक्ट्रचर, लैब आदि की व्यवस्थाएं देखी। इसके बाद बुधवार शाम को संयुक्त संचालक डॉ. सिंह जिला अस्पताल पहुंचे।

यहां डॉ. सिंह ने मीडिया से चर्चा के दौरान बताया कि देवनगर और सुल्तापुर अस्पताल में व्यवस्थाओं की कमी को पूरा कर तय समय पर इन्हें अपग्रेड किया जाएगा। यह केन्द्र सरकार की योजना है। उन्होंने जिला अस्पताल में प्रसूति वार्ड मेें रिकॉर्ड का निरीक्षण कर डॉक्टरों से जानकारी ली। साथ ही मरीजों से भी सुविधाओं को लेकर चर्चा की गई।

एक सवाल के जवाब में डॉ. सिंह ने कहा कि डॉक्टरों की कमी की पूर्ति राज्य स्तर से की जाएगी। वहीं पिछले दिनों गैरतगंज से रैफर होकर आई महिला प्रसूता की मौत पर जिला अस्पताल एवं गैरतगंज के डॉक्टरों के विरोधाभासी बयान पर उन्होंने कहा कि यह जांच का विषय है। डॉ. सिंह ने सीएमएचओ को जांच कराने के निर्देश दिए। गौरतलब हो कि डिलेवरी से मृतक महिला की प्राथमिक जांचे भी नहीं कराई गई थी।

ऑडिट कराएं
सीएमएचओ डॉ. दिलीप कटहलिया एवं सिविल सर्जन डॉ. बीबी गुप्ता को बच्चों की मृत्यु होने पर उसका ऑडिट कराने के निर्देश दिए, जिससे बच्चों की मौत की वजह सामने आ सके।

बच्चों में क्या कमी रही या फिर उपचार में कमी रही। उन्होंने 15 अगस्त से प्रारंभ होने वाली आयुष्मान भारत योजना पर भी डॉक्टरों से चर्चा की। इस मौके पर नेत्ररोग विशेषज्ञ डॉ. एसी अग्रवाल, एनआरएचएम की डीपीएम शिखा सरावगी सहित अस्पताल के डॉक्टर एवं नर्स उपस्थित रहीं।

बेटे को लेकर कुएं में कूदी थी मां, साजा हुई
बेगमगंज. द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश बीआर यादव ने कुसुमबाई पत्नी विश्राम सिंह निवासी ग्राम जसरथी को अपने ही बेटे की हत्या के आरोप में सात साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है।

प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी अपर लोक अभियोजक बद्री विशाल गुप्ता एवं पैनल अधिवक्ता ओपी दुबे द्वारा की गई। गुप्ता ने बताया कि मामला थाना सुल्तानगंज का है, जिसमें पांच दिसंबर 2012 को दीपक रैकवार के खेत के कुआं में आरोपी कुसुम बाई पारिवारिक प्रताडऩा से तंग आकर अपने बेटे सहित कुएं में कूद गई थी। वह स्वयं तो बच गई, किन्तु छोटा बालक छोटू उर्फ राजाबाबू की मौत हो गई थी।

प्रकरण में जांच अधिकारी एएसआई बीपी तिवारी ने आरोपिया को गिरफ्तार कर मर्ग कायम कर धारा ३०२, ३०९ के अपराध का अभियोग पत्र प्रस्तुत किया। विभिन्न गवाहों और साक्ष्यों के आधार पर न्यायालय ने आरोपिया कुसुम बाई को धारा ३०४ का अपराधी पाते हुए सात वर्ष के कठोर कारावास एवं एक हजार रुपए अर्थदण्ड से दंडित कर जेल भेजा।

तेज रफ्तार जीप की टक्कर से 6 वर्षीय बालिका की मौत
यहां देवनगर थाना के तहत सागर स्टेट हाईवे पर ग्राम खंडेरा में शाम को लगभग छह बजे एक तेज रफ्तार जीप ने एक छह वर्षीय बालिका को टक्कर मार दिया। जिससे उस बालिका की मौत हो गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार बालिका अयोध्या बाई खंडेरा में सड़क किनारे खड़ी थी। इसी दौरान भोपाल से सागर जा रही एक तेज रफ्तार जीप के चालक ने तेज गति एवं लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाते हुए बालिका को टक्कर मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई।

जननी एक्सप्रेस खाई में गिरी
बरेली. भोपाल से मरीज को छोड़कर वापस बरेली आ रही जननी एक्सप्रेस बाड़ी के पास खाई में गिर गई। वाहन में चालक के अलावा कोई नहीं था। सीबीएमओ डॉ. गिरीश वर्मा ने बताया कि राहत की बात यह रही कि खाई में गिरने से पहले ही चालक ने वाहन से कूद कर अपने आप को बचा लिया। सड़क पर गीली मिट्टी के कारण जननी एक्सप्रेस फिसलने से चालक संतुलन खो दिया था।

Show More
chandan singh rajput
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned