गांव में जल संकट, नल-जल योजना पर जमाया कब्जा

इमलिया गांव के महिला, पुरुषों ने कलेक्टर को आवेदन देकर शिकायत की।

By: Rajesh Yadav

Published: 03 Mar 2019, 12:02 PM IST

रायसेन. अभी गर्मी का मौसम पूरी तरह से नहीं आया, लेकिन सर्दी के दिनों में ही शहर सहित जिले के कई हिस्सों में जल संकट की आहट सुनाई देने लगी है। ग्रामीण पेयजल की व्यवस्था के लिए सरकारी दफ्तरों में पहुंचकर गुहार लग रहे। इसी तरह की स्थिति गैरतगंज तहसील के ग्राम इमलिया में सामने आ रही है। जहां दो दर्जन से अधिक ग्रामीण महिला, पुरुषों ने पहुंचकर कलेक्टर एस प्रिया मिश्रा को आवेदन देकर शिकायत की।

शिकायत में बताया कि गांव में जल संकट उत्पन्न होने लगा है। गांव में लगे दो हैंडपंप पूरी तरह से सूख चुके हैं। गांव में स्वीकृत नल-जल योजना अभी तक शुरू नहीं हो सकी। हालांकि इसके लिए नलकूप खनन कराया गया है। इसमें सरकारी राशि से साढ़े सात हार्सपावर की मोटर डाली गई है। पानी कम होने से ग्रामीणों को पर्याप्त मात्रा मेें सप्लाई नहीं मिल रही। गांव की लगभग आठ सौ आबादी पानी के लिए परेशान हो रही है। लोगों को दूर खेतों में जाकर पानी लाना पड़ रहा है।

समिति अध्यक्ष ने जमाया कब्जा
शिकायतकत्र्ता ग्रामीण हरिनारायण, दीपक, मनीषा, पूनम, ओमवती, गिरजा बाई आदि ने बताया कि नल-जल योजना समिति के अध्यक्ष राम सिंह लोधी द्वारा पीएचई के अधिकारियों से सांठगांठ कर सरकारी नलकूप एवं साढ़े सात हार्सपावर की मोटर पर कब्जा कर एक इंची लाइन डालकर राम सिंह ने स्वंय के घर में पानी सप्लाई ले रखी है। जबकि गांव के अन्य लोग जल संकट से जूझ रहे। ग्रामीणों ने इस मामले में कलेक्टर एस प्रिया मिश्रा से जांच कराने और समिति अध्यक्ष एवं पीएचई अधिकारी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने का अनुरोध किया है।

Rajesh Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned