जंगली शूकर का शिकार करने वाले चार पकड़ाए

रेंजर यूके दुबे को मुखबिर से सूचना मिलते ही तत्काल टीम गठित की गई

By: chandan singh rajput

Published: 09 Jul 2020, 02:04 AM IST

सुल्तानपुर. चिलवाहा वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले नगर के वार्ड क्रमांक 10 के पंप हाउस पर रहने वाले आदिवासियों द्वारा जंगली शूकर का शिकार करने का मामला सामने आया है। वन विभाग द्वारा छापामार कार्रवाई की गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार रेंजर यूके दुबे को मुखबिर से सूचना मिलते ही तत्काल टीम गठित की गई। इसके बाद निशानदेही पर दबिश दी, तो कुछ आदिवासियों के घर मांस पका हुआ एवं कुछ के घर से कच्चा मांस के साथ तीन कुल्हाड़ी, सूअर की मुंडी, एक दाया पैर मौके से बरामद हुआ।

एक की तलाश जारी
दबिश की कार्रवाई में वन अमले ने चार आरोपी जीवन लाल पिता भंवरलाल निवासी पंप हाउस सुल्तानपुर, हक्कु पिता हरभजन निवासी राजबाड़ी, राधेश्याम पिता रामु निवासी पंप हाउस सुल्तानपुर, दयाराम पिता दौलत निवासी पंप हाउस वार्ड नंबर 10 सुल्तानपुर को गिरफ्तार किया है, जबकि एक आरोपी शिवराज फरार हो गया, उसकी तलाश जारी है।
कार्रवाई की टीम में कप्तान रेंजर यूके दुबे के अलावा जालिम सिंह कीर परिक्षेत्र सहायक ईंटखेड़ी, नरेश कुशवाहा परिक्षेत्र सहायक सुल्तानपुर, रवि कुमार सिंह सेंगर बीट गार्ड सुल्तानपुर, माखन साहू बीट गार्ड महुआखेड़ा, मुकुन्द तिवारी बीट गार्ड अर्जनी, पवन सिंह सेंगर वन रक्षक, रघुवीर प्रसाद दुबे बीट गार्ड कराघाटी, स्वाती सक्सेना वनरक्षक, बेबी भास्कर वनरक्षक, अमर सिंह दीवार स्थाई कर्मी, हरि सिंह सराठे स्थाई कर्मी शामिल रहे।

लकड़ी काटने से रोका तो चोरों ने किया हमला
सिलवानी. बुधवार को दोपहर जंगल में अवैघ रुप से सागौन की लकड़ी काट रहे बदमाशों ने वनकर्मियों पर हमला बोल दिया। हमले के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। सूचना मिलते ही घटना स्थल पर पहुंची पुलिस और वन विभाग के आधिकारियों ने घायल वनकर्मियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है। जहां उनका इलाज जारी है। पुलिस ने लकड़ी तस्करों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।
वन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक वन रक्षक जुबेर खान और हेल्पर इसरार खान पश्मिच रेंज के तहत आने वाली गैलपुर बीट पर गश्त कर रहे थे। तभी दोपहर करीब 1 बजे लकड़ी काटने की आवाज सुनाई दी।

जब गश्त कर रहे वनकर्मी लकड़ी काटने की जगह पर पहुंचे तो वहां 5 बदमाश अवैध रुप से सागौन की लकड़ी काट रहे थे। जब दोनों वनकर्मियों ने लकड़ी तस्कर को ऐसा करने से रोका, तो आरोपियों ने उन वनकर्मियों पर धारदार हथियार से हमला कर दिया और कटी हुई लकड़ी मौक पर ही छोड़कर फरार हो गए। एसआई दीपक वर्मा ने बताया कि हमले में घायल वनरक्षक जुबेर खान और हेल्पर इसरार खान को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। घायलों के बयान के आधार पर हमलावरों पर केस दर्ज किया गया है। वन परिक्षेत्र अधिकारी संजय सिंह ने बताया कि सिंगार गांव के पांच व्यक्ति गैलपुर बीट के जंगल से अवैध रुप से लकड़ी काट रहे थे। वन रक्षक जुबेर खान और हेल्पर के द्वारा पकडऩे का प्रयास किए जाने पर आरोपियों ने हमला कर उन्हें घायल कर दिया। दो आरोपियों की पहचान दिनेश कुमार सिंह और जीवन सिंह के रूप में की गई है। वन विभाग ने काटी गई सागौन की लकड़ी को जब्त कर लिया है।

Show More
chandan singh rajput
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned