सुरक्षा की चिंता किए बिना हाइवे के किनारे चल रहा काम

खनन में वर्तमान सड़क के किनारे गहरी खाईयां बन रही हैं। मगर निर्माण एजेंसी द्वारा सुरक्षा के इंतजाम नहीं किए जा रहे हैं

By: chandan singh rajput

Published: 29 Mar 2019, 02:04 AM IST

रायसेन/मंडीदीप. आमतौर पर हाइवे पर होने वाली दुर्घटनाओं में वाहन चालकों को दोषी माना जाता है, मगर हकीकत ये नहीं है। अनेक बार निर्माण कंपनी द्वारा निर्माण कार्य में लापरवाही बरतने से होती है। जी हां, इसका उदाहरण है हाईवे। दरअसल नगरीय क्षेत्र में हाईवे निर्माण एजेंसी द्वारा सुरक्षा मानकों को नजर अंदाज कर निर्माण कार्य किया जा रहा है। एजेंसी द्वारा हाईवे निर्माण के लिए मंडीदीप से बरेली तक कई जगह खुदाई की जा रही है। इस खनन में वर्तमान सड़क के किनारे गहरी खाईयां बन रही हैं।

मगर निर्माण एजेंसी द्वारा सुरक्षा के इंतजाम नहीं किए जा रहे हैं। यहां न लाइट की व्यवस्था, न रेडियम के संकेतक और न ही चेतावनी के बोर्ड लगाए गए हैं, ऐसे में यदि रात में कोई हादसा हो जाए तो वाहन सीधे सड़क से फिसल कर 30 फीट से ज्यादा गहरी खाई में गिर जाएगा। गौरतलब है कि मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम द्वारा भोपाल से जबलपुर के बीच हाईवे निर्माण किया जा रहा है। इसके तहत मिसरोद से मंडीदीप के बीच 8 लेन हाईवे का निर्माण किया जा रहा है, लेकिन सुरक्षों मानकों की परवाह किए बिना।

निर्माण एजेंसी एचईजी के सामने होशंगाबाद की ओर जाने वाली सड़क पर घाटी की खुदाई की जा रही है। कंपनी ने करीब 500 मीटर क्षेत्र में पहाड़ी को 30 फीट से ज्यादा गहरा खोद दिया है। यहां से 24 घंटे औद्योगिक क्षेत्र से हाईवे पर आने वाले छोटे-बड़े वाहन गुजरते हैं जो यहां कच्ची सड़क होने से फिसलते हैं।

निर्माण कार्य वाला स्थान पर पूरी साइट कवर होना चाहिए, ट्रैफिक डायवर्सन और मेन एट वर्क के ऐसे बोर्ड लगाए जाए जो वाहन चालकों को अंधेरे में भी नजर आएं। सुरक्षित तरीके से बेरिकेडिंग हो ताकि सड़क से गुजरने वाले वाहन दुर्घटना का शिकार न हो और निर्माण स्थल पर लाइट के पुख्ता इंतजाम किए जाएं।
रिमाइंड कराया जाएगा
निर्माण एजेंसी द्वारा एचईजी घाटी पर खनन कार्य के दौरान सुरक्षा इंतजामों को लेकर पत्र लिखा गया है, इसके बाद भी कंपनी व्यस्था नहीं कर रही है तो इसे रिमाइंड कराया जाएगा।
पियुष चाल्र्स, थाना प्रभारी सतलापुर

Show More
chandan singh rajput
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned