scriptAfter all, how ... ineligible farmers took more than 8 crore rupees in | आखिर कैसे ... अपात्र किसानों ने सम्मान निधि के नाम पर ले लिए 8 करोड़ से ज्यादा रुपए | Patrika News

आखिर कैसे ... अपात्र किसानों ने सम्मान निधि के नाम पर ले लिए 8 करोड़ से ज्यादा रुपए

जांच के बाद सिर्फ 3.90 प्रतिशत ही की गई वसूली, राशि लेने वालों में इनकम टैक्स धारी भी शामिल

राजगढ़

Published: February 17, 2022 06:22:27 pm





राजगढ़। प्रधानमंत्री सम्मान निधि को लेकर अपात्र किसानों ने भी आवेदन कर दिए जिसके बाद सिर्फ राजगढ़ जिले में 8 करोड़ से भी ज्यादा की राशि ऐसे किसानों के खाते में डाल दी गई, लेकिन केंद्र सरकार के माध्यम से जब इस पूरी योजना की जांच की गई तो बड़ी संख्या में ऐसे किसान मिले जो सरकारी कर्मचारी हैं, इनकम टैक्स धारी हैं और ऐसे किसान जिनके पास बड़ी मात्रा में जमीन है। उसके बावजूद भी वह प्रधानमंत्री सम्मान निधि लेते रहे।
तीन किस्त जारी होने के बाद पीएमओ के माध्यम से पूरे देश में जारी की गई, सम्मान निधि योजना शुरू करवाई गई। इसमें ऐसे किसान जो इनकम टैक्स धारी हैं या फिर सरकारी कर्मचारी हैं और भी कई किसान जो योजना के लिए पात्र नहीं थे। उनके खातों में भी यह राशि डाल दी गई, अब करोड़ों रुपए किसानों के खाते में पहुंचने के बाद इस राशि को वापस लेने के लिए केंद्र सरकार द्वारा निर्देश जारी किए गए। जिसके बाद इसकी वसूली भी शुरू हो गई। लेकिन 1 साल से भी ज्यादा समय होने के बाद भी अभी तक इसकी वसूली न के बराबर ही है।
वसूली में नहीं रुचि
बता दें जिन जो किसान सम्मान निधि के लिए अपात्र हैं, उन सभी किसानों की सूची प्रशासन के पास हैं। लेकिन वसूली को लेकर ज्यादा रुचि नहीं होने के कारण अभी तक 8 करोड़ ३७४६००० में से सिर्फ 32 लाख ६९600 ही वसूली की जा सकी है, जो बहुत कम है।
शोसल ऑडिट शुरू हुई
सम्मान निधि को लेकर अब सोशल ऑडिट शुरू की जा रही है। जिसमें जिन किसानों को अपात्र घोषित किया गया है या फि र सरकारी कर्मचारी हैं। इनकम टैक्स धारी हैं, उन सभी हितग्राहियों या किसानों के घर अधिकारी पहुंच रहे हैं और वह वहां जाकर हर पहलू पर जांच कर रहे हैं। जिसमें कहीं ऐसा तो नहीं कि गलत जानकारी चढऩे के बाद किसान को अपात्र किया गया हो या अभी भी कई ऐसे किसान इस सूची में शामिल हो जो पात्रता न रखते हो।
क्या है योजना
किसान सम्मान निधि के तहत केंद्र सरकार दोरा हर साल तीन किस्तों में दो दो हजार रुपए केंद्र सरकार और दो-दो हजार राज्य सरकार के माध्यम से किसानों के खाते में डाले जा रहे हैं। साल में कुल 10,000 सरकार किसान सम्मान निधि के रूप में यह राशि दे रही है।
फैक्ट फाइल
अपात्र किसान १०२३२
वसूली जाना है राशि ८३७४६०००
अब तक हुई वसूली ३२६९६००
शेष राशि ८०४७६४००
वसूली का प्रतिशत मात्र ३.९०
वर्जन। अभी सम्मान निधि की शोसल ऑडिट चल रही है। ग्रामसभाओ ंके माध्यम से,जो कई पहलुओं पर की जा रही है। रही बात वसूली की तो इसके लिए हमने सभी तहसीलदारों को निर्देशित किया है। जल्द ही वसूली में अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे।
कमलचंद्र नागर एडीएम राजगढ
ग्रामसभाओं के दौरान कलेक्टर भी कुछ गांव का निरीक्षण करने।
जांच के बाद सिर्फ 3.90 प्रतिशत ही की गई वसूली, राशि लेने वालों में इनकम टैक्स धारी भी शामिल
वसूली में नहीं रुचि
बता दें जिन जो किसान सम्मान निधि के लिए अपात्र हैं, उन सभी किसानों की सूची प्रशासन के पास हैं। लेकिन वसूली को लेकर ज्यादा रुचि नहीं होने के कारण अभी तक 8 करोड़ ३७४६००० में से सिर्फ 32 लाख ६९600 ही वसूली की जा सकी है, जो बहुत कम है।
शोसल ऑडिट शुरू हुई
सम्मान निधि को लेकर अब सोशल ऑडिट शुरू की जा रही है। जिसमें जिन किसानों को अपात्र घोषित किया गया है या फि र सरकारी कर्मचारी हैं। इनकम टैक्स धारी हैं, उन सभी हितग्राहियों या किसानों के घर अधिकारी पहुंच रहे हैं और वह वहां जाकर हर पहलू पर जांच कर रहे हैं। जिसमें कहीं ऐसा तो नहीं कि गलत जानकारी चढऩे के बाद किसान को अपात्र किया गया हो या अभी भी कई ऐसे किसान इस सूची में शामिल हो जो पात्रता न रखते हो।
क्या है योजना
किसान सम्मान निधि के तहत केंद्र सरकार दोरा हर साल तीन किस्तों में दो दो हजार रुपए केंद्र सरकार और दो-दो हजार राज्य सरकार के माध्यम से किसानों के खाते में डाले जा रहे हैं। साल में कुल 10,000 सरकार किसान सम्मान निधि के रूप में यह राशि दे रही है।

फैक्ट फाइल
अपात्र किसान १०२३२
वसूली जाना है राशि ८३७४६०००
अब तक हुई वसूली ३२६९६००
शेष राशि ८०४७६४००
वसूली का प्रतिशत मात्र ३.९०
वर्जन। अभी सम्मान निधि की शोसल ऑडिट चल रही है। ग्रामसभाओ ंके माध्यम से,जो कई पहलुओं पर की जा रही है। रही बात वसूली की तो इसके लिए हमने सभी तहसीलदारों को निर्देशित किया है। जल्द ही वसूली में अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे।
कमलचंद्र नागर एडीएम राजगढ

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Archery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दलंदन में राहुल गांधी के दिए बयान पर BJP हमलावर, बोली- 1984 से केरोसिन लेकर घूम रही कांग्रेसThailand Open 2022: सेमीफाइनल मुक़ाबले में ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट से हारीं सिंधु, टूर्नामेंट से हुई बाहरपैंगोंग झील पर जारी गतिरोध के बीच रेलवे ने सुपरफास्ट ट्रेनों के लिए चीनी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट क्यों दिया?Rajiv Gandhi 31st Death Anniversary: अधीर रंजन ने ये क्या कह दिया, Tweet डिलीट कर देनी पड़ रही सफाई, FIR तक पहुंची बातपाकिस्तान पुलिस ने पूर्व पीएम इमरान खान के आवास पर की छापेमारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.