scriptAmazing hospital of MP, get the envelope make delivery | Breaking news : एमपी का गजब अस्पताल, लिफाफा दो-डिलिवरी कराओ | Patrika News

Breaking news : एमपी का गजब अस्पताल, लिफाफा दो-डिलिवरी कराओ

बदहाल सिस्टम : डिलिवरी, सीजर, ऑपरेशन में फेल ब्यावरा अस्पताल की छबि हो रही धूमिल
ट्रोल हो रहा अस्पताल, लोग बोले- लिफाफा दो तो होती है नॉमल डिलिवरी वरना रेफर!
-लोग बोले- सरकार दे रही इतनी तनख्वाह तो आखिरकार क्यों जारी है यह भ्रष्टाचार, कौन करेगा कार्रवाई

राजगढ़

Updated: March 26, 2022 09:19:26 pm

ब्यावरा.केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग की team lakshya... kayakalp में खुद को अव्वल बताने तमाम प्रयास करने, उसके लिए विभाग का ही खर्च करा देने वाला ब्यावरा अस्पताल प्रबंधन अपनी खामियों पर काम नहीं कर पा रहा है। कहने को 7 करोड़ की बिल्डिंग है, हर विधा के पर्याप्त डॉक्टर्स हैं, तमाम सुविधाएं हैं लेकिन हर दिन इसकी छबि धूमिल हो रही है। चुनिंदा अव्यवस्थाओं को भी मौजूदा प्रबंधन सुधार नहीं पा रहा।
सालों से यहां नहीं हो पाए cesar, opration के साथ ही normal delivery कराना भी यहां किसी चुनौती से कम नहीं है। इसी कारण अब इसकी छबि social media पर धूमिल हो रही है, हर दिन यह अपनी खामियों के कारण ट्रोल हो रहा है। कई पीडि़त लोग यहां आकर गाली-गलौज कर रहे हैं तो कई नेताओं के दबाव में आकर शिकायतें वापस ले लेते हैं, लेकिन ढर्रा नहीं सुधर पाया है। अस्पताल के वरिष्ठ कहे जाने वाले जिम्मेदार भी इसमें रुचि नहीं दिखाते, नतीजा कुछ चुनिंदा लोगों की अनदेखी के कारण पूरे hospital management को बदनामी झेलना पड़ती है, जिसमें तमाम प्रकार की घटिया राजनीति भी शामिल हो जाती है। ताजा मामला मैटरनिटी से जुड़ा ही सामने आया है, जिसमें नॉर्मल डिलिवरी के लिए आने वाली पीड़ा को सोशल मीडिया पर जाहिर किया गया है। इसमें ट्रोल हो रहा है कि ये है ब्यावरा अस्पताल जहां लिफाफा (रिश्वत) तो ही नॉर्मल डिलिवरी हो पाएगी।
Breaking news : एमपी का गजब अस्पताल, लिफाफा दो-डिलिवरी कराओ
-ब्यावरा.अस्पताल का मैटरनिटी विंग जहां होते हैं डिलिवरी के ठेके, रुपए दो तो नॉर्मल वरना रेफर करना तय।
social media user ने यूं जाहिर की पीड़ा...
कल govt. hospital में एक परिचित की डिलिवरी होना थी, पहले कहा गया केस क्रिटिकल है, राजगढ़ भेजना पड़ेगा। उन्हें ज्यादा समझ नहीं थी तो डर गए, फिर निवेदन किया कि हमारे साथ कोई महिला नहीं कृपया यहीं देख लीजिए। थोड़ी देर बाद महिला की सास आई, उन्होंने कहा कि पागल समझ रहे क्या आप लोग? जितनी आपकी उम्र नहीं उतनी डिलिवरी करवा चुकी हूं, आप डिलिवरी यहीं कराइए। इसके बाद नॉर्मल डिलिवरी हुई, स्वस्थ्य बच्ची को महिला ने जन्म दिया। कुल मिलाकर यह मनमानी का आलम यहां आम है। यूजर लिखता है कि इस सबके बाद भी वहां तैनात दो सिस्टर को 500-500 और आयाओं (स्वीपर) को 200-200 रुपए देना पड़े। क्या सरकार इनको सैलेरी नहीं देती?
पहले डराते हैं, फिर लेन-देन का दबाव बनाते हैं
सोशल मीडिया यूजर चीकू यादव लिखते हैं कि जब वहां हमने किसी से बात की तो बोले यह तो कुछ भी नहीं है। यहां पहले रेफर करने के नाम पर प्रसूताओं को डराया जाता है, उनके परिजनों पर दबाव बनाया जाता है। फिर ठेका होता है, यहां तैनात नर्सें चार से पांच हजार रुपए का ठेका करती हैं, फिर सामान्य डिलिवरी कराती हैं। उनका कहना था कि दो -पांच हजार रुपए के लिए कौन रिस्क ले, इसलिए दे देते हैं। यही हाल दूर-दराज से आने वाले गरीब वर्ग के लोगों का होता है। सभी नेता-अधिकारियों को इसकी जानकारी है तो फिर कोई कुछ कदम क्यों नहीं उठाता।
ट्रोल हो रहे इस वाकये पर आ रही ऐसी प्रतिक्रियाएं...
-दो महिलाओं को रेफर किया गया, जैसे ही लिफाफा दिया नॉर्मल डिलिवरी हो गई, 20 साल से देख रहे... संदीप शर्मा।
-शिवराज मामा से कहो कि बुल्डोजर पहले स्वास्थ्य विभाग पर चलाए, कचरा साफ करे... मनीष।
-ब्यावरा में बिना रुपए वाले केस हमेशा क्रिटिकल बताए जाते हैं, रेफर करने की धमकी दी जाती है, जैसे ही रुपए दो नॉर्मल डिलिवरी हो जाएगी। सिस्म करप्ट हो चुका है... विनोद।
-भ्रष्टाचार इसी को बोलते हैं जो कई दिनों से फैला हुआ है... जितेंद्र।
-इनके खिलाफ आवाज उठाओ तो राजगढ़ रेफर, वहां से भोपाल, जो काम पांच हजार में हो रहा वह सीधा 60 में होता है.... संदीप।
यह बर्दाश्त योग्य नहीं है
यह बेहद गलत बात है, शासन तमाम सुविधाएं मुहैया कराता है, फिर संबंधितों को ईमानदारी, निष्ठा से काम करना चाहिए। यह सब बर्दाश्त योग्य नहीं है। ब्यावरा में सीजर होने चाहिए, यदि उन्हें एनेस्थैटिक की जरूरत है तो 24 घंटे उपलब्ध कराएंगे, जनता के हित के काम तो करना ही होंगे।
-डॉ. दीपक पिप्पल, सीएमएचओ, राजगढ़

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.