शहर के रोड खुदे पड़े और बीजेपी मंडल अध्यक्ष खुद के घर के सामने बना रहे थे रोड, रुकवाया

तुलसी नगर में बनाई जा रही थी सडक़, लोगों ने किया विरोध, रुका काम
काम शुरू ही हुआ और रहवासी उतरे विरोध में, नपा के सब-इंजीनियर ने रुकवाया काम

By: Rajesh Kumar Vishwakarma

Published: 01 Mar 2021, 09:56 PM IST

ब्यावरा.लगातार 15 साल से ब्यावरा में नगर पालिका (nagar palika) बीजेपी (bjp) की होने के बावजूद शहर की जनता को खुदे रोड और धूल ही नसीब हुई है। शहरभर के वार्डों और लगभग हर कॉलोनी में सडक़ों की स्थिति किसी से छिपी नहीं है। ऐसे में बीजेपी मंडल अध्यक्ष पर अपने ही घर के सामने रोड बनवाने का आरोप सामने आया है।
दरअसल, अपना नगर से लगे तुलसी नगर क्षेत्र के रहवासियों ने सोमवार को कांग्रेस सेवा दल के जिला महामंत्री अतुल जगताप के नेतृत्व में विरोध जताया। रहवासियों नेआरोप लगाया कि बीजेपी के मंडल अध्यक्ष ने नेतागिरी कर अपने घर के सामने रोड बनाने की तैयारी कर ली, सामान जुटा लिए। नगर पालिका ने भी बिना देखे-परखे और सांठ-गांठ कर इतने ही रोड को बनाने की अनुमति दे दी? क्या बीजेपी के ही लोगों को रोड की जरूरत है, या आम लोगों को इसका अधिकार नहीं है। सभी रहवासी विरोध में उतर आएऔर जमकर विरोध किया उन्होंने नपा पर धांधली का आरोप भी लगाया है। जगताप ने कहा कि जो रोड तुलसी नगर, अमृत नगर से होकर वैकुंठ मार्ग तक बनना था उसे अकेले मंडल अध्यक्ष के यहां तक ही बनाया जा रहा है। उन्होंने नपा सीएमओऔर अन्य जिम्मेदारों को भी अवगत कराया। इस पर मौके पर पहुंची सब-इंजीनियर रूपेश नेताम ने उक्तसडक़ का काम रुकवाया और सीएमओ ने आश्वास्त किया कि पूरा रोड ही बनेगा। बता दें कि बीते कुछ साल में तत्कालीन सीएमओ से सांठ-गांठ कर उक्त रोड को स्वीकृत करवा लिया गया था। ऐसे अन्य कई काम ब्यावरा नगर पालिका में हुए हैं जिनमें बिना टेंडर, बिना स्वीकृति के कई ऑफ लाइन काम हुए हैं, जिनमें नेताओं और उनके संरक्षण प्राप्त लोगों को काम दे दिएगएऔर भुगतान भी लाखों का हो गया।

डेढ़ साल पहले बनाईगई टंकी भी घटिया!
रहवासियों और जगताप ने सीएमओ, सब-इंजीनियर को तुलसी नगर में ही करीब डेढ़ साल पहले बनाई गई पानी की टंकी दिखाई। इसमें बताया गया कि किस स्तर का भ्रष्टाचार हुआहै।यह भी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई, जिससे पानी लीकेज होता रहता है। उक्तटंकी का निर्माण भी टेंडर के माध्यम से भाजपा मंडल अध्यक्ष चंदन अग्रवाल ने ही करवाया। इसमें भी नपा से सांठ-गांठ और जिम्मेदारों से मिलीभगत कर घटिया निर्माण करने का आरोप लगाया है। अतुल जगताप ने नपा को स्पष्ट किया है कि इसे दुरुस्त नहीं कराया गया तो रहवासी ही इसे गिरा देंगे। वहां सामाजिक आयोजन होते हैं, पानी भरते ही फैलने लगता है जिससे ग्राउंड गीला हो जाता है, इसलिएउसकी रिपेयरिंग जरूरी है।
टुकड़ों में ही होते हैं टेंडर
जितना रोड का टेंडर हुआउतना ही काम कर रहे हैं, नपा के पास कई बार बजट की दिक्कत होती है। उसी अनुरूप वह स्वीकृत हुआ था।उससे आगे की यदि स्वीकृति मिलती है तो आगे का रोड भी बन जाएगा, हमें कोई दिक्कत नहीं है।
-चंदन अग्रवाल, भाजपा मंडल अध्यक्ष, ब्यावरा
राजनीतिक प्रभाव से करवा ली स्वीकृत
बीजेपी मंडल अध्यक्ष ने अपने राजनीतिक प्रभाव से खुद के घर के सामने की रोड स्वीकृत करवा ली और काम करने की भी तैयारी कर ली थी। हम सभी ने इसका विरोध किया। जनता रोड के लिएपरेशान हैं और इस तरह से रोड बनवा लेना कहां तक सही है।
-अतुल जगताप, जिला महामंत्री, कांग्रेस सेवा दल, ब्यावरा
पूरी रोड बनवाई जाएगी
पहले स्वीकृति कैसे हुई यह मैं नहीं बता सकता लेकिन जनता से जुड़ा मुद्दा है, ऐसे में रोड पूरी वैकुंठ धाम रोड तक ही बनेगी।इसके लिए दोबारा टेंडर करेंगे। फिलहाल उसका आगे का प्रपोजल हम बढ़वाएंगे। वैसे भी रोड पूरी ही बननी चाहिए।
-संजय श्रीवास्तव, सीएमओ, नपा, ब्यावरा

Rajesh Kumar Vishwakarma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned