scriptBreaking News : नारकोटिक्स विभाग की कार्रवाई से हड़कंप, तीन कारोबारी हिरासत में | Patrika News
राजगढ़

Breaking News : नारकोटिक्स विभाग की कार्रवाई से हड़कंप, तीन कारोबारी हिरासत में

जिले में बुधवार को उज्जैन से दल आया व मैदानी कार्रवाई के बाद तीन कारोबारियों को हिरासत में लिया है। इनको नियम तोड़कर दवाओं की बिक्री करते पाया गया।

राजगढ़Jun 12, 2024 / 06:08 pm

Ashish Pathak

crime news

breaking news

राजगढ़। जिले में आमजन के स्वास्थ्य पर गंभीर असर डालने वाली दवाओं की बिक्री डॉक्टर की पर्ची के बगैर हो रही है। इस मामले में पत्रिका ने पूर्व में समाचार प्रका​शित किए थे। जिले में बुधवार को उज्जैन से दल आया व मैदानी कार्रवाई के बाद तीन कारोबारियों को हिरासत में लिया है। इनको नियम तोड़कर दवाओं की बिक्री करते पाया गया।
शासन ने स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालने वाली कई दवाई और ड्रग्स, सिरप और इंजेक्शन पर प्रतिबंध लगा रखा है। प्रतिबंधित इंजेक्शन, सिरप विशेष परिस्थिति में डॉक्टरों की सलाह या किसी बड़े सीजर और वरिष्ठ अधिकारी के आदेश के बाद ही मेडिकल पर उपलब्ध और खरीदी जा सकती है। बावजूद इसके सारंगपुर सहित जिलेभर के मेडिकलों पर खुलेआम प्रतिबंधित दवाइयां बिना किसी डॉक्टर की सलाह के दी जा रही है। इसी की जांच करने सोमवार को उज्जैन की नारकोटिक्स विभाग की टीम ने छापामार कार्रवाई सारंगपुर में की। इस दौरान टीम ने सिविल अस्पताल के सामने संचालित एक मेडिकल संचालक रूपेश पाटीदार समेत कर्मचारी अंकित पुष्पद, नरेंद्र भिलाला को हिरासत में लिया गया है। मेडिकल स्टोर पर प्रतिबंधित दवाइयों का स्टॉक मिला है। यहां से अन्य जगह भी सप्लाई करने की शिकायतें विभाग को मिली थी। इसी आधार पर उन्हें पूछताछ के लिए ले जाया गाय है। मामले में नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। टीम की कार्रवाई देख नगर के अधिकांश मेडिकल संचालक मेडिकल बंद कर भाग निकले।
ड्रग अधिकारी देखने तक नहीं आते

नगर में नियमों को ताक पर रखकर बिना डिग्री और लायसेंस के कई मेडिकल संचालित हो रही हैं। जिन पर मरीजों को बिना डॉक्टर की सलाह और पर्चे के दवाई दे दी जाती है। ऐसे में कई बार दवाई रिएक्शन करने से मरीज और गंभीर बीमार हो जाते है। साथ ही इन्हीं मेडिकलों से ड्रग्स और अन्य दवाईयां भी आसानी से मिल जाती है लेकिन जिले के ड्रग अधिकारी कभी भी जांच करने नहीं आते हैं। ऐसे में लोगों के स्वास्थ्य के साथ खूब खिलवाड़ किया जा रहा है। लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहा है।
हम जांच करने जाते हैं

हम समय-समय पर मेडिकल स्टोर्स पर जाकर जांच करते है। एक मेडिकल स्टोर की जानकारी मिली थी। जिस पर कार्रवाई भी गई। मेडिकल पर नारकोटिक्स विभाग की कार्रवाई की जानकारी नहीं है।
-दिलीप अग्रवाल, ड्रग इंस्पेक्टर, सारंगपुर

तीन लोगों को हिरासत में लिया

सारंगपुर के मेडिकल एजेंसी पर प्रतिबंधित दवाई की खरीदी-ब्रिकी की सूचना पर छापामार कार्रवाई की गई। मेडिकल संचालक सहित तीन व्यक्तियों को हिरासत में लिया है।
मुकेश खत्री, नारकोटिक्स विभाग, इंदौर-उज्जैन जोन

Hindi News/ Rajgarh / Breaking News : नारकोटिक्स विभाग की कार्रवाई से हड़कंप, तीन कारोबारी हिरासत में

ट्रेंडिंग वीडियो