scriptChanged the way for the transportation of straw, now the use of short | भूसे के परिवहन के लिए रास्ता बदला, अब हाइवे के साथ छोटे रास्तों का उपयोग | Patrika News

भूसे के परिवहन के लिए रास्ता बदला, अब हाइवे के साथ छोटे रास्तों का उपयोग

ब्यावरा, नरसिंहगढ़ में नहीं हो रही कार्रवाई

राजगढ़

Updated: April 09, 2022 06:17:05 pm




राजगढ़। प्रदेश में गोवंश की रक्षा और भूख मिटाने के लिए भूसे के परिवहन पर कई जिलों में प्रतिबंध लगा दिया है पिछले सालों तक मध्यप्रदेश से भारी मात्रा में यह भुजा राजस्थान भेजा जाता रहा है। यही कारण है कि अब ऐसा न हो इसके लिए जगह-जगह चेकिंग भी की जा रही है। लेकिन हाईवे पर हो रही चेकिंग के बाद उसी को राजस्थान ले जाने के लिए रास्ता बदल लिया गया है। अब राजगढ़ का टोल टैक्स क्रॉस करते हुए भोपाल सीहोर और राजगढ़ जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आने वाला भूसा ठंड जोड़ से सीधा फ लोदी होते हुए राजस्थान की सीमा में जा रहा है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में यहां से पिकअप और आईसर वाहन इस भूसे को लेकर राजस्थान की सीमा में प्रवेश कर रहे हैं। लेकिन क्या कारण है कि प्रशासन हो या पुलिस इसे रोकने में नाकाम है या फि र वह रोकना ही नहीं चाहते। सवाल यह भी है कि राजगढ़ जिले की सीमा में कुरावर नरसिंहगढ़ ब्यावरा देहात थाना भी पढ़ते हैं, लेकिन यहां से बेफि क्र होकर यह भूसा के ट्रक निकल रहे हैं और इनकी चेकिंग कहीं भी नहीं की जा रही है। इतना ही नहीं है यहां पर राजस्व विभाग की बात की जाए तो तीन तहसील और दो एसडीएम कार्यालय भी पढ़ते हैं। लेकिन उन के माध्यम से भी अभी तक एक भी भूसे के ट्रक पर कार्रवाई की गई हो या जांच की गई हो, यह भी देखने में नहीं आया।

हाईवे से निकल रहे ट्रक को रोका।
रात के अंधेरे में पिपलोदी के रास्ते राजस्थान सीमा में प्रवेश करते भूसे के ट्रक।
सिर्फ राजगढ़ में चेकिंग
राजगढ़ जिले की यदि बात की जाए तो सिर्फ मुख्यालय पर ही भूसे से भरे हुए ट्रकों की जांच की जा रही है, एडीएम कमल चंद नागर के माध्यम से कुछ ट्रकों से पूछताछ की गई है। इसके अलावा रात के समय भी इनके चालान बनाने की जानकारी है। लेकिन अन्य जगह पर ऐसी कोई कार्यवाही देखने को नहीं मिल रही है। यही कारण है कि ब्यावरा नरसिंहगढ़ से बेफिक्र होकर वह टोल नाके तक पहुंच जाते हैं इसके बाद हाइवे को छोडकऱ छोटे राते का उपयोग करते हुए राजस्थान की सीमा में प्रवेश कर जाते हैं।

भूसा भरा ट्रक पकड़ा, ड्राइवर बोला माचलपुर ले जा रहा हूं
शुक्रवार की रात एडीएम कमल चंद्र नागर ने जालपा मंदिर के पास एक दूसरे से भरा हुआ ट्रक रोका और उससे पूछताछ शुरू की। फिलहाल ट्रक ड्राइवर का कहना है कि वह कुरावर से यह भूसा माचलपुर ले जा रहा था। लेकिन न तो उसके कोई दस्तावेज ड्राइवर के पास थे और मालिक को जब इस संबंध में बुलाया गया तो 24 घंटे के बाद भी राजगढ़ नहीं पहुंचा। इससे कहीं न कहीं यह स्पष्ट होता है कि माचलपुर राजस्थान की सीमा से लगा हुआ है, इसलिए माचलपुर के नाम से यह ट्रक राजस्थान भेजे जा रहे हैं।

हर पल रहता है हादसे का अंदेशा
जिस तरह से ट्रकों में भूसा भरा हुआ होता है, वह एक वाहन नहीं बल्कि दो वाहन की जगह घेरता है, क्योंकि निर्धारित सीमा से इसमें पूछा की मात्रा बहुत ज्यादा रहती है। एडीएम द्वारा पकड़े गए ट्रक को जब थाने ले जाया गया तो वह थाने के गेट से ही अंदर नहीं जा पाया। ऐसे में कई बार हाईवे पर जब यह ट्रक चलते हैं तो हादसों का अंदेशा बना रहता है।

राजगढ़ में आ रही परेशानी
भूसे की यदि बात की जाए तो राजगढ़ में खासी परेशानी है क्योंकि यहां पथरीला क्षेत्र है और भूसा भी कम होता है। इसके अलावा आवारा पशुओं की संख्या अन्य जिलों की तुलना में बहुत ज्यादा है हर साल इनकी संख्या बढ़ती ही जा रही है। इस साल ही 60 हजार से ज्यादा संख्या रिकार्ड की गई थी। ऐसे यहां कई गौवंश से जुड़े पशुओं को खाने के लिए भूसा चारा न मिलने से यह जान गवां देते हैं।

वर्जन। ट्रक को रोककर थाने में खड़ा करवाए जा रहा था, लेकिन वहां के अंदर नहीं जा पाया। इसलिए कलेक्ट्रेट परिसर में उसे खड़ा करवाया है। अभी ड्राइवर का कहना है कि वह कुरावर से माचलपुर यह भूसा लेकर जा रहा था। मालिक को बुलवाया है लेकिन काफ ी समय पहले दी गई सूचना के बाद भी अभी तक राजगढ़ नहीं पहुंचा है। यदि गलत है तो निश्चित रूप से उस पर कार्रवाई होगी।
कमल चन्द्र नागर एडीएम राजगढ़

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्डIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाबिहार की सीमा जैसा ही कश्मीर के परवेज का हाल, रोज एक पैर पर कूदते हुए 2 किमी चलकर पहुंचता है स्कूलकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहाOla, Uber, Zomato, Swiggy में काम करके की पढ़ाई, अब आईटी कंपनी में बना सॉफ्टवेयर इंजीनियरपंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.