पुलिस की मुखबिरी करने का शक बदमाश ने गोली मारकर की हत्या

पुलिस की मुखबिरी करने का शक बदमाश ने गोली मारकर की हत्या

Ram kailash napit | Publish: Jun, 14 2018 02:16:24 PM (IST) Rajgarh, Madhya Pradesh, India

माचलपुर गांव का मामला, परिजनों ने इनामी आरोपी हरिसिंह पर लगाया हत्या का आरोप

राजगढ़. एक कार्यक्रम से लौट रहे माचलपुर गांव निवासी चैनसिंह तंवर (४०) को माचलपुर जोड़ से कुछ ही दूरी पर गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। जानकारी लगते ही परिजन सहित गांव के कई लोग मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक चैनसिंह दम तोड़ चुका था। हालांकि परिजन जिला अस्पताल भी उसे लेकर आए, लेकिन यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि चैनसिंह के शरीर में तीन गोली लगी है।

जबकि शरीर अंदर से छलनी-छलनी हो गया। वहीं लौटते में बोलेरो से मारी गई टक्कर से पैर में भी फैक्चर आया है। मृतक के पुत्र बनवारी ने बताया कि पिता की हत्या करने वाला कोई और नहीं हरिसिंह है। जिसने पहले ही वारदात को अंजाम देने की बात कही थी। पिता की हत्या का कारण पुलिस का सहयोग करना था। जिसमें मुखबिरी के शक पर यह वारदात की गई। पुलिस ने हरिसिंह तंवर निवासी माचलपुर के खिलाफ ३०२ का मामला दर्ज करते हुए उसकी तलाश शुरू कर दी है।

एक सप्ताह पहले चोरी गई थी बोलेरो: जिस बोलेरो से मृतक चैनसिंह को टक्कर मारी वह बोलेरो भूमरिया से करीब एक सप्ताह पहले चोरी गई थी। बताया जा रहा है कि इसकी शिकायत भी पुलिस में दर्ज की गई थी और टक्कर मारने के बाद बोलेरो के नीचे बाइक फंस जाने से वह आगे नहीं बढ़ पाई और आरोपी छोड़कर भाग गए।


ग्रामीण पहुंचे अस्पताल
रात को ही शव अस्पताल आ जाने के बाद भी पीएम में काफी लंबा समय लगा। इस बीच तंवरवाड़ क्षेत्र के कई ग्रामीण अस्पताल पहुंच गए और कब उन्हें शव दिया जाए। इसका इंतजार कर रहे थे। इस बीच पीएम में हो रही देरी को लेकर बीच में ग्रामीण आक्रोषित भी हुए, लेकिन डॉक्टर सुधीर कलावत ने उन्हें समझाया।

इनामी आरोपी है हरिसिंह
हरिसिंह उर्फ हरिया की तलाश पुलिस को लंबे समय से है। पहले भी कई वारदातों में हरिसिंह का नाम आ चुका है। पूर्व विधायक प्रताप मंडलोई की भैंस चोरी होने की स्थिति में भी हरिसिंह का नाम सामने आया था। जिसको लेकर पुलिस ने गांव में दबिश दी। उस समय भी गांव में दोनों तरफ से फायरिंग हुई थी। पुलिस का कहना था कि हरिसिंह रात में फायरिंग कर भाग गया। तब से ही पुलिस ने उसको पकडऩे के लिए गांव में डेरा डाले रखा था। वहीं मुखबिरी पर कई बार वहां जांच करने भी पहुंचे, लेकिन वह नहीं मिला। हरिसिंह पर पुलिस ने इनाम घोषित कर रखा है।

सूचना मिलने के साथ ही हम मौके पर पहुंचे। मृतक के शरीर में तीन गोली के निशान है। वहीं ग्रामीणों व परिजनों द्वारा दिए गए बयान के अनुसार चैनसिंह की हत्या हरिसिंह ने की है। जिसकी पुलिस को पहले से ही तलाश है।
मुकेश गौड़, टीआई राजगढ़


खड़े ऑटो को पीछे से कंटेनर ने मारी टक्कर, तीन घायल
एनएच-तीन पर यादव वेयर हाउस के पास बुधवार शाम चार बजे हुए। डीजल खत्म होने पर साइड में खड़े ऑटो को पीछे से आए कंटेनर ने टक्कर मार दी। इससे ऑटो में सवार तीन यात्री घायल हो गए। उन्हें उपचार के लिए सिविल अस्पताल पहुंचाया गया, वहीं टक्कर मारने वाले कंटेनर को ग्रामीणों ने थाने पहुंचाया।

सुरेश पिता बनेसिंह वर्मा निवासी महुवाबे (कालीपीठ) ने आरोप लगाया कि मैं अपने ऑटो से गांव जा रहा था। बीच रास्ते में डीजल खत्म होने पर यादव वेयर हाउस के पास हमने साइड में ऑटो खड़ा कर लिया। इतने में कंटनेर ने टक्कर मार दी। इसे बदेसिंह पिता धूलजी सौधिया (६०) चौकी चंदरपुरा (कालीपीठ), सुरेश सहित एक अन्य युवक को चोट आई है। पुलिस ने कंटेनर जब्त कर चाल के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned