scriptEliminating these 10 evils will burn the real Ravana | इन 10 बुराइयों को छोडेंगे, तभी होगा असली रावण का दहन | Patrika News

इन 10 बुराइयों को छोडेंगे, तभी होगा असली रावण का दहन

locationराजगढ़Published: Oct 05, 2022 01:51:31 pm

Submitted by:

Subodh Tripathi

बुराई का अंत करने के प्रतीक स्वरूप जलाए जाने वाले इस रावण का असली दहन तभी माना जाएगा, जब इन 10 बुराइयों को खत्म किया जाए।

इन 10 बुराइयों को छोडेंगे, तभी होगा असली रावण का दहन
इन 10 बुराइयों को छोडेंगे, तभी होगा असली रावण का दहन

राजगढ़. बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक रावण का दहन आज दशहरे के अवसर पर किया जाएगा। बुराई का अंत करने के प्रतीक स्वरूप जलाए जाने वाले इस रावण का असली दहन तभी माना जाएगा, जब इन 10 बुराइयों को खत्म किया जाए। राजगढ़ जिले में खासकर महिलाओं से जुड़े हुए अपराधों की संख्या ज्यादा है और यह स्थिति इसलिए निर्मित होती है क्योंकि यहां कई तरह की प्रथा के रूप में कुप्रथाए प्रचलित हैं। जिसके कारण घर में कलेश के साथ ही पारिवारिक विवाद और सामाजिक कलह बढ़ जाती है। यदि ऐसे अपराधों को रोकना है, तो इन 10 बुराइयों पर काबू पाना जरूरी है.



01. झगड़ा प्रथा जिले के लिए सबसे बड़ा श्राप है यदि यह खत्म होती है तो निश्चित रूप से कई तरह के आपराधिक सकेंगे।

02. जिले में बाल विवाह बड़ी संख्या में होते हैं। प्रशासन लगातार इन्हें रोकने का प्रयास कर रहा है, लेकिन कई समाज के रसूखदार ही इस अभियान में प्रशासन का सहयोग नहीं करते।

03. कई तरह की योजनाओं और भारी प्रचार-प्रसार के बाद भी दहेज प्रथा कम होने की जगह और बढ़ती ही जा रही है। जिले में सगाई के दौरान लड़के वाले और शादी में लड़की वाले इस रस्म को जोर-शोर से मनाते हैं।

04. आज भी क्षेत्र में ऐसी कई जगह हैं, जहां मिडिल स्कूल के बाद छात्र छात्राओं को लंबी दूरी तय करके हाई स्कूल पढ़ने जाना होता है। जिसके कारण कई छात्राएं अपनी पढ़ाई छोड़ देती है, लेकिन सामाजिक सुधार के लिए शिक्षा जरूरी है।

06. सामाजिक बंधुओं के कारण यहां आज भी पुरानी परंपरा है प्रचलित हैं, कई घरों में महिलाओं को खुद के व्यवसाय या फिर विभिन्न तरह की नौकरी पर भी रोक रहती है।

07. राजगढ़ ही नहीं बल्कि जिले के अधिकांश अस्पतालों में महिला चिकित्सकों की कमी हैं। इस कारण सबसे ज्यादा परेशानी उन प्रसूताओं को आती है जिनका प्रसव सीजर से होता है।

08. ग्रामीण क्षेत्र हो या शहरी क्षेत्र महिलाओं से जुड़े हुए योजनाओं का लाभ लेने के लिए उन्हें यहां-वहां भटकना पड़ता है। जबकि विधवा पेंशन, वृद्धावस्था पेंशन और आवाज़ जैसी योजनाओं का नाम उनके आवेदन पर ही होना चाहिए।

09. विभिन्न राजनीतिक दलों में लगातार काम करने वाली महिलाओं की जगह ऐसे नेताओं की प%ियों को या माताओं को टिकट दिए जाते हैं जो पार्टी के कार्य₹मों में तक शामिल नहीं होती। जबकि नेतृत्व की क्षमता रखने वाली महिलाओं को सभी पार्टी दरकिनार कर देती है।

10.अधिकांश शासकीय सेवाओं में जो पुरुष वर्ग होता है, रसूख से वह शहरी क्षेत्र में अपनी सेवाएं देते हैं। जबकि महिलाओं को ग्रामीण अंचल मैं सेवा के लिए भेजा जाता है। जिससे कई बार उन्हें विभिन्न तरह के कार्यों में डराया धमकाया जाता है।
05. इस क्षेत्र में नातरा प्रथा प्रचलन में हैं, लेकिन यहां कभी भी जिस बेटी या बहू का विवाह नातरा प्रथा के तहत अन्य जगह किया जाता है। कई बार कम उम्र की बालिकाओं को बड़ी उम्र के व्यक्ति के साथ भेज दिया जाता है, जो सही नहीं है। कई बार पढ़ी-लिखी बालिकाएं अनपढ़ लोगों के साथ चले जाने के कारण रिश्ता खटाई में पड़ जाता है।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

दिल्ली पुलिस को बड़ी सफलता, 22 पिस्टल और 5 मैगजीन के साथ तीन गिरफ्तारदिल्ली में श्रद्धा मर्डर जैसा एक और केस, शव के टुकड़े कर फ्रिज में रखा, मां-बेटा गिरफ्तारपायलट और गहलोत की कलह से भारत जोड़ो यात्रा पर नहीं पड़ेगा फर्क : राहुल गांधीCM भूपेश बघेल बोले- बलात्कारी को बचाने में लगी हुई है भाजपा, ED-IT को लेकर कही ये बातऋतुराज गायकवाड़ ने एक ओवर में 7 छक्के जड़कर बनाया विश्व रिकॉर्ड, युवराज को भी छोड़ा पीछेगुजरात चुनाव में 'आप' को झटका, वसंत खेतानी भाजपा में शामिल केजरीवाल निराशादिल्ली के स्कूल में बम की सूचना से मचा हड़कंप, डिस्पोजल स्क्वॉड मौके परयोगी के सभा में जाते लोगों में हुई धक्का-मुक्की, नाले में गिरे लोग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.