सुविधाएं कम, इन्फेक्शन का खतरा भी लेकिन कम नहीं हुआ जज्बा

कोरोना के कर्मवीर : आओ इन्हें सलाम करें

By: Rajesh Kumar Vishwakarma

Updated: 05 Apr 2020, 07:01 PM IST

ब्यावरा.अपनी कर्म स्थल पर पूरी निष्ठा से लगे कर्मवीर योद्धाओं के कारण आज हम सुरिक्षत हैं। इन पुलिसकर्मी में फील्ड में रहकर हमारी सेवा कर रहे हैं तो डॉक्टर्स हर कदम तमाम तरह की रिस्क लेकर दायित्यों का निर्वाहन कर रहे हैं। अस्पताल में सर्दी, खांसी से लेकर तमाम बीमारियों के मरीज आते हैं, जिनसे हरपल इन्फेक्शन का खतरा बना हुआ है लेकिन कभी हमारे इन जाबांज योद्धाओं के पग नहीं डगमगाते। पत्रिका ग्रुप ने इन्हीं योद्धाओं के लिए कर्मवीर चक्र अभियान की शुरुआत की है। इनके सम्मान में हर भारतीय को खड़ा होना चाहिए।
चैलेंजेस हैं लेकिन सीनियर्स के साथ मिलती है नई ऊर्जा
ब्यावरा.सिविल अस्पताल में पदस्थ युवा मेडिकल ऑफिसर डॉ. लखन दांगी भले ही राजनीतिक बैक ग्राउंड से हों लेकिन अपने काम के प्रति कोई कंप्रोमाइज हरगिज नहीं करते। ईमानदारी से ड्यूटी करना और सबके साथ मिलकर टीम वर्क से किसी काम को अंजाम देना का जज्बा उनमें हैं। डॉ. दांगी बताते हैं कि कोरोना वॉयरस ने भले ही देश दुनिया को परेशान कर रखा हो लेकिन हम इससे जंग जरूर जीतेंगे। दिन-रात हाईली इन्फेक्टिव जोन में हम रहते हैं लेकिन सीनियर्स को देखकर उनसे हमें नई ऊर्जा मिलती है और हम कोशिश करते हैं कि कर्तव्य पथ पर डटे रहें। हमारी पूरी टीम निष्ठा से लगी हुई है, कभी हमारा हौसला इससे नहीं डगमगाता। भले ही कितनी ही कड़ी चुनौती हो हम सब मिलकर उसे जरूर मात देंगे।

कदम-कदम पर चुनौतियां लेकिन कोरोना को हराकर रहेंगे
नरसिंहगढ़.कोरोना का मात देने नरसिंहगढ सिविल मेहताब अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर्स भी अपनी निष्ठा से लगे हुए हैं। कदम-कदम पर तमाम प्रकार की चुनौतियां हैं लेकिन इनका हौसला कभी नहीं डगमगाता। आम दिनों में भी ईमानदारी और निष्ठा के साथ काम करते रहने वाले डॉ. नरेश राजपूत बताते हैं कि ये थोड़ा चैजेंलिंग समय हम सभी के लिए हैं लेकिन हम इसका डटकर मुकाबला करेंगे। जो भी मरीज आता है और उन्हें जब हम ट्रीट करते हैं तो काफी कुछ सावधानी बरतते हैं लेकिन खतरा तो फिर भी है। परिवार से दूर रहकर सेवा में लगे डॉ. राजपूत कोरोना से लडऩे के लिए पूरी तरह तैयार हैं। पूरी काउंसिंलग करने के लिए वे डटे रहते हैं। उनका कहना है कि सब के साथ मिलकर हम इस जंग से जरूर जीतेंगे।
शादी से पहले निभाया कर्तव्य : रद्द करवा दी, एसपी ने सराहा
माचलपुर.नगर के थाने में पदस्थ एसआई जितेंद्र अजनारे ने मिसाल कायम की है। कोरोना महामारी के दौरान उन्होंने अपनी ड्यूटी को प्राथमिकता देते हुए शादी ही रद्द करवा दी। 4 अप्रैल को उनकी शादी फिक्स हो गई थी और तमाम तैयारियां भी की जा चुकी थीं लेकिन उन्होंने परिजनों को समझाया कि शादी तो बाद में भी हो जाएगी लेकिन फिलहाल मेरा ड्यूटी पर जाना बेहद जरूरी है, यह राष्ट्र सेवा का सवाल है और उन्होंने अपनी शादी रद्द करवा दी। खास बात यह है कि उनकी शादी के लिए 20 दिन की छुट्टी भी मंजूर हो गई थी लेकिन उन्होंने अपने काम को आगे रखा। इसके लिए एसपी प्रदीप शर्मा ने भी उनके इस साहस को सराहा है। उन्होंने अजनारे को प्रशस्ति पत्र भी दिया है।

Rajesh Kumar Vishwakarma
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned