निर्माण में बरती जा रही लापरवाही और गुणवत्ता की अनदेखी को लेकर कांग्रेस के पूर्व विधायक ने उठाया सवाल

कांग्रेस के ही विधायक पहुचे शिकायत करने, कार्यो का भूमिपूजन किया था मुख्यमंत्री ने

राजगढ़। राजगढ़ और खिलचीपुर के सैकड़ों गांव में पेयजल उपलब्ध कराने को लेकर जल निगम के माध्यम से एक अरब़ 19 करोड़ की लागत से गांव-गांव में पाइप लाइन बिछाई जा रही है । लेकिन इसकी गुणवत्ता को लेकर विपक्ष नहीं बल्कि कांग्रेस के ही पूर्व विधायक ने सवाल उठा दिए और खुद निर्माण में बरती जा रही लापरवाही और गुणवत्ता की अनदेखी को लेकर जल निगम के जीएम से मिलने पहुंचे।

निर्माण की जांच होना लाजिमी
यहां उन्होंने सबूतों के साथ अपनी शिकायत दर्ज कराई जिस पर विभाग ने क्वालिटी कंट्रोलर से इस पूरे मामले की जांच कराने का आश्वासन दिया है। लेकिन सवाल उठता है कि जब कोई जनप्रतिनिधि क्षेत्र में जाकर निर्माण की गलतियां पकड़ रहा है, तो विभाग इस मामले में अभी तक चुप्पी क्यों साधे हुए था। अब जब मामला उजागर हो चुका है तो चल रहे निर्माण की जांच होना लाजिमी हो जाता है।


जाकर देखा तो वहां भी ऐसा ही हाल था
पूर्व विधायक हेमराज कंल्पोनी ने शिकायत में बताया कि उनके गांव के आसपास हो रही गड़बडियों को लेकर कुछ अन्य गांव में जाकर देखा तो वहां भी ऐसा ही हाल था। जब लगातार जल निगम के माध्यम से करवाए जा रहे इस काम को अन्य जगह देखा तो, हर जगह नियम अनुसार ना तो पाइप डालने के लिए गड्डों को गहराई में खोदा जा रहा है, बल्कि जो पाइप भी डाले जा रही हैं वे भी एक साथ डाल रहे हैं, जो नियम अनुसार नहीं है। एक ही गड्डे में 3-3 एक साथ पाइप बिछाई जा रहे हैं। जबकि इनको बिछाने मैं निर्धारित दूरी जरूरी है।

 

क्या विभाग भी मिला है
यहां सवाल उठता है कि यह काम लंबे समय से चल रहा है, लेकिन विभिन्न एजेंसियों के माध्यम से बिछाई जा रही इस लाइन को लेकर अभी तक विभाग द्वारा किसी प्रकार की कोई कार्यवाही देखने को नहीं मिली है। ऐसे में कहीं यह पूरा मामला विभाग के संरक्षण में ही तो नहीं हो रहा है और विभाग के ही अधिकारी ठेकेदारों से सांठगांठ कर किसानों को आने वाले दिनों में चूना लगाने की तैयारी में तो नहीं है। क्योंकि यदि पाइप लाइन गलत भी है, तो इसका नुकसान भविष्य में जिले के किसानों को होगा।

rajg.png

ऐ हैं शंका के कारण
- लालपुरिया कुंडीबे गांव में बन रहे वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में घटिया निर्माण सामग्री का उपयोग हुआ है।
- लक्ष्मणपुरा, हजारीपुरा, खीमाखेड़ी, चाटूखेड़ा रामपुरिया आदि गांवों पानी की टंकी का घटिया निर्माण चल रहा है।
- चौतरा गांव में एक ही नाली में तीन पाइपलाइन डाल दी है।
- नरी जोड़ से जसापुरा तक एवं अधिकांश जगह जमीन की सतह पर ही लाइन डाल दी।
- डूंगरपुर के बाइहेड़ा तक 90 एमएल की लाइन डाल दी। जबकि यह मापदंडों के अनुरूप नही है।


पूर्व विधायक द्वारा की गई शिकायत को लेकर हम जांच करा रहे हैं, यदि गलती मिलती है तो संबंधित निर्माण एजेंसी के खिलाफ विभाग द्वारा कार्रवाई की जाएगी।
एसके जैन जीएम जल निगम राजगढ़

Show More
Bhanu Pratap Thakur
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned