चुनावी समर में कर दिए मनमाने पंजीयन, जांच हुई तो आधे निकले अपात्र

चुनावी समर में कर दिए मनमाने पंजीयन, जांच हुई तो आधे निकले अपात्र

Praveen tamrakar | Updated: 14 Jul 2019, 04:25:23 AM (IST) Rajgarh, Madhya Pradesh, India

चुनावी समर में योजनाओं का लाभ लेने मची होड़ की हकीकत अब सामने आ रही है। जिस संबल योजना का लाभ लेने के लिए मनमाने तरीके से पंजीयन कर लिए गए, सभी ने अपना फायदा देखते हुए पंजीयन करवा लिए अब उनकी पोल खुलने लगी है।


ब्यावरा. चुनावी समर में योजनाओं का लाभ लेने मची होड़ की हकीकत अब सामने आ रही है। जिस संबल योजना का लाभ लेने के लिए मनमाने तरीके से पंजीयन कर लिए गए, सभी ने अपना फायदा देखते हुए पंजीयन करवा लिए अब उनकी पोल खुलने लगी है। शासन की योजना का दुरुपयोग करने वाले फर्जी हितग्राहियों पर शिकंजा कसने के लिए नई सरकार ने नई व्यवस्था की है। संबल योजना का नाम बदलकर जन कल्याण पोर्टल नया सवेरा योजना कर दिया गया है। इसमें उन तमाम हितग्राहियों का सत्यापन (भौतिक) किया जा रहा है जिन्होंने पंजीयन जमा किए। उसमें शासन के तय मापदंड के हिसाब से जीआरएस और सचिव जांच कर रहे हैं। इसी आधार पर पंजीयन की वास्तविकता पता की जा रही है। जब पंजीयन की जांच हुई तो सामने आया कि आधे हितग्राही भी योजना में पात्र नहीं हैं। अब उन्हें अपात्र किया जा रहा है। जिले ही नहीं प्रदेशभर में ऐसी छंटनी शासन द्वारा करवाई जा रही है।

पात्रता के बिंदू पता नहीं और करवाए पंजीयन
संबल योजना में पंजीयन उन तमाम लोगों ने करवा लिए जिन्हें इसके फायदे समझ आए, लेकिन उसका मापदंड किसी ने देखना उचित नहीं समझा। शासन द्वारा तय मापदंड अनुसार एक हेक्टेयर से कम भूमि वाले हितग्राही, शासकीय सेवा में कोई कार्यरत नहीं होना चाहिए और इनक टैक्स पेयर नहीं होना चाहिए। यदि इन तीन बिंदुओं के आधार पर वे आते हैं तो संबंधित व्यक्ति इस योजना के लिए पात्र होगा। लेकिन चुनावी सीजन में लोगों ने बिना सोचे-समझे पंजीयन करवा लिए और अब सचिव, जीआरएस इनका सत्यापन कर अपात्रों के नाम हटा रहे हैं।

 

इन योजनाओं में मिलना है लाभ
संबल योजना की ही तर्ज पर नया सवेरा में भी प्रसूती सहायता 16 से बढ़ाकर 26 हजार रुपए कर दी गई है। वहीं, मृत्योपरांत अंत्येष्टि सहायता पांच हजार, सामान्य मृत्यु पर दो और एक्सीडेंटल मौत पर चार लाख रुपए देने का प्रावधान है। सरल समाधान योजना के तहत 100 यूनिट तक का बिजली बिल के लिए 100 रुपए देना होंगे इससे ऊपर सामान्य दरों से बिल लगेगा। वहीं, उच्च शिक्षा के लिए पात्र छात्रों को छात्रवृति सहित अन्य पढ़ाई की सुविधा भी इसमें शामिल हैं। बाकी ठेला संचालकों, सफाई कामगारों, पंजीकृत श्रमिकों सहित अन्य को पूरी योजना का लाभ संबल की ही तर्ज पर सहायात मिलेगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned