न रजिस्टर, न टोकन और ना ही मिले भोजन करने वाले लोग

प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही दीनदयाल रसोई योजना में जरूरतमंदों को सिर्फ पांच रुपए में भोजन देने का प्रावधान है।

By: Praveen tamrakar

Published: 18 Dec 2018, 04:19 AM IST

राजगढ़. प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही दीनदयाल रसोई योजना में जरूरतमंदों को सिर्फ पांच रुपए में भोजन देने का प्रावधान है। पहले चरण में यह योजना जिला मुख्यालय पर शुरू की गई थी। दूसरे चरण में अन्य नगरीय क्षेत्रों में इसे लागू किया जाना था। लेकिन यह जिला मुख्यालय के अलावा कहीं दूसरी जगह शुरू नहीं हो सकी। यहां भी योजना खटाई में पड़ी हुई है। जहां खाद्यान्न का आवंटन तो हर माह किया जा रहा है। लेकिन यदि लाभ लेने वाले जरूरतमंदों की बात करें तो जब भी कोई निरीक्षण के लिए पहुंचा तो यहां कोई नहीं मिलता। ऐसे में आवंटित हुआ खाद्यान्न कहा जा रहा है, यह जांच का विषय है। लेकिन न तो इसकी कोई मानीटरिंग हो रही है और न ही गुणवत्ता आदि पर कोई ध्यान दिया गया।

यही कारण है कि जब नगरपालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि शैलेष गुप्ता पांच रुपए थाली योजना की हकीकत जानने के लिए मंगल भवन में संचालित हो रहे इस केन्द्र पर पहुंचे तो वहां केन्द्र पर न तो कोई बोर्ड लगा था और न ही किसी प्रकार की अन्य जानकारी वहां चस्पा थी। और तो और दोपहर 12 बजे तक कोई हितग्राही तक नजर नहीं आया। योजना के तहत जितने लोग भोजन करते हैं उनको टोकन देना और रजिस्टर में इसकी एंट्री करना जरूरी है। लेकिन मौके पर न तो कोई टोकन रखे मिले और न ही किसी तरह का रजिस्टर वहां मिला। फिर नपा किस हिसाब से इसका भुगतान या मूल्यांकन कर रही है।

सब्जी के पते नहीं, चावल भी नहीं मिला
योजना के तहत पांच रुपए में रोटी, दाल, सब्जी और सप्ताह के हर दिन अलग-अलग तरह का भोजन बनाने की योजना है। लेकिन मौके पर सिर्फ दाल और रोटी बनी थी। मौजूद कर्मचारी ने बताया कि सब्जी, चावल आज बनने थे, लेकिन नहीं बनाए। वहीं जिस जगह पांच रुपए थाली का भोजन बनाने का स्थान तय है, वह खाली पड़ा था।

गंदगी भी पसरी
जिस जगह रसोई का काम चल रहा था, वहां खासी गंदगी पसरी हुई थी। कुछ रोटियां भी जली हुई थीं। साफ सफाई के अभाव में बन रहे भोजन से कहीं न कहीं मध्याह्ल भोजन के लिए बच्चों को वितरित होने वाला भोजन कहीं उन्हें बीमार न कर दे।

&मौके पर रजिस्टर और टोकन के साथ ही जो खाना दिया जाना चाहिए, वह नहीं मिला। ऐसे में हम संचालक को नोटिस भेज रहे हैं। इसके बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी।
शैलेष गुप्ता, नपा अध्यक्ष प्रतिनिधि राजगढ़

Praveen tamrakar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned