काहे का लॉकडाउन? कैसी सख्ती... यहां बेवजह खूब सडक़ों पर घूम रहे लोग

ब्यावरा पीपल चौराहे पर अमला उतरा तो, लग गई लोगों की भीड़

By: Rajesh Kumar Vishwakarma

Published: 11 Apr 2021, 08:01 PM IST

ब्यावरा.कहने को कोरोना की चैन तोडऩे के लिए प्रशासन ने लॉकडाउन लगाकर सख्ती की है लेकिन लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे। कुछ लोग घरों से बाहर सिर्फ इसलिए निकल रहे हैं कि उन्हें लॉकडाउन देखना है। वहीं, कुछ लोग बेवजगह ही बाइक, एक्टिवा सहित अन्य वाहनों से घूम रहे हैं तो कुछ सुबह-शाम का घूमना नियमित तौर पर कर रहे हैं।
दरअसल, शासन स्तर पर 19 अप्रैल तक के लिए लगाए गए कोरोना का मकसद पॉजिटिव आने वाले केसेस की संख्या में कमी लाना और कोरोना संक्रमण के सैकेंड वेव की चैन को तोडऩा है, लेकिन लोग इसे अभी भी गंभीरता से नहीं ले रहे जबकि यह वेव जानलेवा ैहै। इसी को देखते हुए एसपी प्रदीप शर्मा के निर्देशन में शहर में पुलिस ने कार्रवाई शुरू की। पीपल चौराहा पर लोगों को रोकना शुरू किया तो लोगों की भीड़ जमा हो गई। आधे लोग भी सही कारण घरों से बाहर निकलने का नहीं दे पाए। यानि दो दिन के लॉकडाउन में ज्यादा कार्रवाई नहीं हुई इसलिए लोग बेफिक्र होकर घरों से निकलते रहे, अब 19 तक बढ़ाए जाने के बाद प्रशासन फिर से सख्ती के मूड में हैं।

अस्थाई जेल तैयार कराई, आज से डालना शुरू करेंगे
बेवजह घूमने वालों पर अब प्रशासन चालानी कार्रवाई और समझाइश न देते हुए सीधे अस्थाई जेल में डालेगा। प्रशासनिक अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि रविवार को हमने अस्थाई जेल तैयार करवा ली है, वहां की सफाई इत्यादि करवा ली। सोमवार से अब हम ऐसे लोगों को रोककर सीधा जेल में डालना शुरू करेंगे। चालान, समझाइश बहुत हो गया, लोग मानने को तैयार नहीं है, ऐसे में उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई हम करेंगे।
अब चालान नहीं, जेल में डालेंगे
लोगों को खूब समझाइश हम सप्ताहभर से दे रहे हैं, लेकिन जो लोग बेवजह घूम रहे हैं, उन पर हम अब और सख्ती करेंगे। समझाइश देने और चालान बनाने की बजाए उन्हें अब अस्थाई जेल में हम सीधे डलवाएंगे।
-महेंद्रप्रताप सिंह किरार, तहसीलदार, ब्यावरा

Rajesh Kumar Vishwakarma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned