नहीं माना सरकारी आदेश, अधिकारी पहुंचे जांच करने तो स्टॉफ करने लगा बतामीजी

नहीं माना सरकारी आदेश, अधिकारी पहुंचे जांच करने तो स्टॉफ करने लगा बतामीजी
छुट्टी घोषित फिर भी खुला था स्कूल, बीआरसी पहुंचे तो मोबाइल छुड़ाया, अभद्रता की

Rajesh Kumar Vishwakarma | Updated: 14 Sep 2019, 11:09:16 AM (IST) Rajgarh, Rajgarh, Madhya Pradesh, India

-एक दिन पहले दे दिए थे डीईओ ने दो दिन की छुट्टी के निर्देश, फिर भी खुल गया प्रोग्रेसिव हाईट्स स्कूल

 

ब्यावरा। अतिवृष्टि के कारण जिलेभर के सरकारी और गैर सकारी स्कूलों को बंद रखने के शासन के निर्देश का शहर के एक निजी स्कूल पर कोई असर नहीं पड़ा। न सिर्फ स्कूल चालू रखा बल्कि डीईओ के निर्देश पर जांच करने पहुंचे बीआरसी से स्टॉफ ने अभद्रता भी की। फोटो खींच रहे बीआरसी का मोबाइल स्टॉफ ने छीन लिया।

 

प्रोग्रेसिव हाईट्स खुला हुआ था
दरअसल, डीईओ ने आदेश जारी किया था कि तमाम स्कूलों का 13-14 सितंबर को अवकाश रहेगा। बावजूद इसके अपना नगर स्थित प्रोग्रेसिव हाईट्स खुला हुआ था, पहले से निर्धारित परीक्षा के लिएप्राचार्य ने पैरेंट्स को मैसेज भी किया था कि 13 को ही परीक्षा होगी। इसके बाद डीईओ बी. एस. बिसारिया के निर्देश पर बीआरसी के. एन. दांगी जांच करने पहुंचे।


परीक्षा ली जा रही थी
बकायदा स्कूल खुला हुआ था दिर्नेशों को दरकिनार कर परीक्षा ली जा रही थी। बीआरसी फोटो और वीडियो बनाने लगे तो वहां मौजूद स्टॉफ उनसे अभद्रता करने लगे। फोटो खींचने के दौरान ही बीआरसी श्री दांगी का मोबाइल छीन लिया गया, जबकि बीआरसी अपना परिचय दे चुके थे। संचालक योगेश अग्रवाल ने कहा कि जो कार्रवाई करना है कर लेना हमें कोई फर्क नहीं पड़़ता। इसके बाद मामला थाने पहुंच गया। वहीं, बीआरसी ने पूरे घटनाक्रम का पंचनामा बनाकर स्कूल के नाम नोटिस जारी किया है।

थाने पर संचालक ने माफी मांगी, हस्तक्षेप के बाद केस रफा-दफा
बीआरसी से बदतमीजी करने के बाद मामला सिटी थाने पहुंच गया। उनकी ओर से संचालक की शिकायत की गई। थाना प्रभारी डी. पी. लोहिया ने बताया कि सीधे तौर पर शासकीय कार्य में उल्लंघन का मामला था।हमने संचालक अग्रवाल को थाने बुलाया था, इसके बाद उसने आवेदक बीआरसी दांगी से माफी मांगी और कोई केस नहीं दर्ज हुआ।


माफी मांगी और कोई केस नहीं दर्ज हुआ
उल्लेखनीय है कि पूरे प्रकरणमें बीआरसी शिकायत करने पहुंचे लेकिन राजनीतिक हस्तक्षेप के बाद मामला रफा-दफा हो गया। नियमानुसार मामले में धारा-353 (शासकीय कार्य में बाधा, 332 (शा. कर्मी से मारपीट, अभद्रता), 294 सहित अन्य धाराओं केस दर्ज होता, लेकिन बीआरसी राजनीतिक दबाव के आगे कुछ नहीं कर पाए।


संचालक ने माफी मांग ली
डीईओ के निर्देशपर बारिश के कारण स्कूलों की छुट्टी घोषित थी लेकिन प्रोग्रेसिव हाईट्स स्कूल खुला था। मैंने निरीक्षण किया तो स्टॉफ ने बदतमीजी की।बाद में संचालक ने स्टॉफ और खुद की ओर से माफी मांग ली। हमने स्कूल को नोटिस जारी किया गया है।
-के. एन. दांगी, बीआरसी, ब्यावरा

 

 

शासकीय नियम का उल्लंघन
बच्चों की सुरक्षा के लिएनिर्देश जारी किए गए थे, फिर भी स्कूल वाले ने अपने तरीके से स्कूल खोला।हमारे यहां भी स्कूलों में परीक्षाएं थीं लेकिन सभी ने स्थगित की। शासकीय निमय का उल्लंघन स्कूल ने किया, नियमानुसार कड़ी कार्रवाई होगी।
-बी. एस. बिसारिया, डीईओ, राजगढ


नियमानुसार कार्रवाई होगी
बीआरसी के साथबदतमीजी करना गलत बात है। पूरे मामले की जांच करवाईजाएगी, आखिर शासन के नियमों का उल्लंघन क्यों किया गया। नियमानुसार उक्तस्कूल के प्रकरण में कार्रवाई जरूर की जाएगी।
निधिनिवेदिता, कलेक्टर, राजगढ़

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned