school inspection : ​स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंची टीम को नहीं मिले टीचर, 13 टीचरों पर हुई कार्रवाई

school  inspection : ​स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंची टीम को नहीं मिले टीचर, 13 टीचरों पर हुई कार्रवाई

Rajesh Kumar Vishwakarma | Publish: Jul, 26 2019 05:23:46 PM (IST) Rajgarh, Madhya Pradesh, India

-शासन का नया निर्देश 10.30 से पांच बजे तक स्कूल में हर हाल में रहना होगा मौजूद, जेडी ने ली ब्लॉक के प्राचार्यों की बैठक, नहीं आने वालों को नोटिस

ब्यावरा। शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने और शासन की तमाम योजनाओं के सुचारू मूल्यांकन के लिए गुरुवार को उत्कृष्ट स्कूल पहुंची ज्वॉइंट डायरेक्टर joint director की टीम ने school inspection निरीक्षण किया। सुबह 11.15 बजे स्कूल पहुंची टीम को 13 शिक्षक अनुपस्थित मिले, उन्हें कारण बताओ नोटिस school notice जारी किए गए हैं।


दरअसल, लोक शिक्षण संचनालय के ज्वॉइंट डायरेक्टर संजय शर्मा और ऊषा सिंह ब्यावरा पहुंचीं। उन्होंने पूरे ब्लॉक संकुल प्राचार्य, जन-शिक्षक, बीईओ, बीआरसी सहित अन्य के साथ मुल्तानपुरा स्थित उत्कृष्ट स्कूल में बैठक की। उन्हें विभिन्न बिंदुओं पर दिशा-निर्देश दिए।

शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने में जुटे अधिकारी

शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के साथ ही लोगों के मन में सरकारी स्कूलों के प्रति विश्वास जगाने के लिए शासन स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। इसके तहत प्रत्येक माह ब्लॉक स्तर पर मॉनीटरिंग की प्लॉनिंग लोक शिक्षण संचनालय ने की है। स्कूल में 11.15 बजे तक भी नहीं पहुंचने वाले 13 शिक्षकों के अलावा बैठक में नहीं आने वाले ब्लॉक के तीन स्कूलों के प्राचार्यों से भी जवाब-तलब किया गया है।

इस पर जेडी ने बैठक में नहीं आने वाले ब्लॉक के पीपलबे स्कूल के प्राचार्य जगदीश शाक्यवार, सालरियाखेड़ी के संजय भारती और मॉडल स्कूल नयापुरा के मरदन सिंह मीना को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं।


समय से आने के निर्देश दिए
इसके बाद जेडी की टीम कन्या शाला स्कूल पहुंची जहां प्राचार्य जी. के. गुप्ता को स्कूल का बच्चों को पढ़ाने वाला टाइम टेबल सुधारने के निर्देश दिए। वहीं, स्टॉफ के साथ मीटिंग ली और उन्हें स्कूल समय से आने के निर्देश दिए। निरीक्षण और मॉनीटरिंग के दौरान बीईओ जे. पी. यादव, बीआरसी कैलाश दांगी सहित अन्य संकुल प्राचार्य, जन शिक्षक मौजूद रहे।


अब 12 के बजाए 10.30 से खुलेंगे स्कूल
स्कूलों के समय पर नहीं आने को लेकर प्राचार्य आर. के. यादव ने तर्क दिया कि दो शिफ्टों में लगने वाले स्कूल में हमने कुछ शिक्षकों का समय दोपहर 12 बजे से पांच बजे तक किया है लेकिन हाल ही में शासन ने आदेश जारी किए हैं। इसके तहत नया समय सुबह 10.30 से पांच रहेगा। भले ही क्लासेस न रहें लेकिन संंबंधित शिक्षकों को स्कूल आना होगा। प्राचार्य ने बताया कि दो शिफ्ट में उत्कृष्ट स्कूल का टाइम सुबह सात से दो और 10.30 से पांच बजे तक रहेगा।

इन बिंदुओं पर की जेडी ने प्राचार्यों से चर्चा
भोपाल लोक शिक्षण संचनालय से आईं जेडी ऊषा सिंह और संजय शर्मा ने विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि शासन के निर्देश हैं कि हर माह जाकर स्कूलों का रिव्यू लें, स्कूलों की स्थिति क्या है, बच्चों का फीडबैक और प्राचार्यों को मोटिवेट भी करें।

स्कूलों की समीक्षा की
जेडी सिंह ने बताया कि लोक शिक्षण संचनालय द्वारा निर्धारित बिंदुओं में स्कूल के परीक्षण परिणाम संबंधित कार्य योजना, एक परिसर एक शाला के क्रियांवयन की समीक्षा, ब्रिज कोर्स की समीक्षा, दक्षता संवर्धन की समीक्षा, शाला दर्पण के तहत किए जा रहे भ्रमण की समीक्षा, हैंडबुक-वर्क बुक की समीक्षा, मिशन-1000 वाले स्कूलों की समीक्षा, साइकिल वितरण, समग्र छात्रवृत्ति, पाठ्यपुस्तक वितरण, रजिस्ट्रेशन इत्यादि की मॉनीटरिंग व अन्य काम शामिल है।

 

जो लेट आए उन्हें नोटिस जारी किए
11.15 बजे तक भी उत्कृष्ट स्कूल में शिक्षक नहीं पहुंचे थे उन्हें नोटिस जारी किया गया। साथ ही बैठक में नहीं आने वाले तीन प्राचार्यों को भी नोटिस दिए हैं। बाकी हर माह होने वाली मॉनीटरिंग के तहत शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए यह समीक्षा की जाएगी।
-संजय सिंह, ज्वॉइंट डायरेक्टर, लोक शिक्षण संचनालय, भोपाल

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned