scriptThere is a tussle in the election of MP-MLA | चुनावी दंगल 2022: सांसद-विधायक के चुनाव सी खींचतान, आखिरी तक बनाते रहे समीकरण | Patrika News

चुनावी दंगल 2022: सांसद-विधायक के चुनाव सी खींचतान, आखिरी तक बनाते रहे समीकरण

ग्रामीण मतदाता बोले- सोच-समझकर देंगे वोट

राजगढ़

Published: June 25, 2022 03:28:47 pm

राजगढ़ (ब्यावरा)। चुनावी दंगल की शुरुआत त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण से शनिवार से होने वाली है। इसे लेकर की जा रही तमाम तैयारियों पर पूर्णविराम एक दिन पहले लगा। हालांकि प्रत्याशियों ने सांसद, विधायक के बड़े चुनाव सी खींच-तान इसमें की। तमाम प्रकार के गणित आखिरी रात तक बैठाते रहे।

math_for_win.png

दरअसल, छोटे चुनाव की बड़ी पंचायत में वोटर्स कन्फ्यूज हो गए हैं। इतने दिन से जारी प्रचार-प्रसार थम गया। कोई पांव पड़ गया तो कोई हाथ जोड़ता रहा, तो कोई घर-घर जाकर संपर्क में जुटा रहा। कोई किसी की पहचान निकाल रहा था तो कोई रिश्तेदारी से संपर्क करने में जुटा था।

चुनाव के दिन पहले तक भी तमाम तरह के गणित सरपंच प्रत्याशी बैठाते रहे। हालांकि कई गांव ऐसे हैं जहां एक ही समाज के कई प्रत्याशी मैदान में हैं, इससे उनके सामने भी धर्म संकट खड़ा हो गया। वहीं, कुछ प्रत्याशी तमाम प्रकार के दावे, आश्वासन कर उन्हें मनाते और रिझाते रहे। यहां तक कि मतदान केंद्र तक ले जाने तक वे मतदाताओं को समझाते और मनाते रहे।

वोटर्स नाराज बोले- पानी नहीं मिला तब कहां गए थे?
चुनाव को लेकर ग्रामीणों की अपनी प्रतिक्रियाएं हैं। उनका कहना है कि भगवान के आगे जैसे झूकते हैं वैसे दंडवत होने वाले ये प्रत्याशी तब कहां गए थे जब हम परेशान थे? पूरी गर्मी पानी के लिए परेशान होते रहे। शासन स्तर भी पुराने सरपंचों ने कोई इंतजाम नहीं किया।

आपस में ही राजनीति करते रहे और ग्रामीणों की कोई परवाह नहीं की। अब ऐसे लोगों को हम कैसे चुनें? कैसे इन्हें जिम्मेदारी सौंपें। ऐसी तमाम प्रतिक्रियां ग्राम पंचायतों में सामने आ रही हैं। पानी के साथ ही अन्य कई समस्याओं से गांवों में जूझ रहे ग्रामीणों का रोष भी इस चुनाव के बहाने बाहर निकलकर आ रहा है।
जिसके पास ज्यादा वोट समूह, उसे मनाते-रिझाते रहे
पंचायतों में प्रचार-प्रसार का सिलसिला सरपंच पद तक ही सीमित नहीं रहा। जनपद और जिला पंचायत के लिए भी यहां सतत प्रचार हुए। इसमें मतदाता यह तय नहीं कर पाए कि आखिर वोट देना किसे है? प्रत्याशी भी ऐसे लोगों को ढूंढ़ते रहे जिनके पास वोट ज्यादा हैं और जिनकी बात ज्यादा लोग मानते हों। जिनके पास ज्यादा वोट वे नेता हो गए, उसे मनाते-रिझाते रहे। कोई रिश्तेदारी निकाल रहे तो कोई पुरानी पहचान। हाथ जोड़कर अभिवादन कर तरह-तरह के दावे-आश्वासन उनसे करते रहे।
आज का मतदाता पढ़ा-लिखा और जागरूक है। वह किसी की बातों में नहीं आता। वोट उसी को जाएगा जिसने कुछ कर के दिखाया हो। इतने सालों से देखते आए हैं, कहीं काम नहीं हुए हैं। जनता के जवाब देने का यह समय है, वह जवाब देगी।
- सचिन सुमन, ग्राम पंचायत, मलावर
गांवों में होने वाले चुनाव ज्यादा चुनौतीपूर्ण होते हैं। लोगों को हर स्तर पर संतुष्ट कर पाना भी बेहद कठिन है। लेकिन मतदाता भी अब जागरूक हुए हैं वे बातों में नहीं आते, सोच-समझकर अपने मत का उपयोग करते हैं।
- राधेश्याम दांगी, एएसआई (जीआरपी), ग्राम पंचायत, पड़ोनिया

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार कल 2 बजे लेंगे शपथ, मंत्रिमंडल में बन सकते हैं 35 मंत्रीनीतीश ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, कहा- हमें 164 विधायकों का समर्थनरवि शंकर प्रसाद ने नीतीश कुमार से पूछा बीजेपी के साथ क्यों आए थे? पीएम मोदी के नाम पर आपको जीत मिली, ये कैसा अपमान?पश्चिम बंगाल के बीरभूम में दर्दनाक हादसा, ऑटोरिक्शा और बस की टक्कर में 9 लोगों की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख'मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजाना23 बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन सेरेना विलियम्स ने अचानक किया रिटायरमेंट का ऐलान, फैंस हुए भावुकMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपBihar New Govt: नीतीश कुमार CM, डिप्टी CM व होम मिनिस्ट्री राजद के पाले में, कांग्रेस से स्पीकर बनाए जाने की चर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.