फिर संवरेगी छार बाग की छत्रियां खुलेगी नेवज किनारे पॉथवे की फाइल

शहर के बांसवाड़ क्षेत्र में स्थापित छारबाग की छत्रियोंं के जीर्णाेधार का काम एक बार फिर शुरू होगासोमवार को कलेक्टर निधि निवेदिता ने छार बाग के निरिक्षण के दौरान पुरातत्तव विभाग के अधिकारी को छार बाग के जीर्णोधार सहित वहां होने वाले जरूरी काम के लिए प्रस्ताव तैयार उसका काम शुरू करने के निर्देश दिए है।

By: Prakash Vijayvargiye

Published: 27 Nov 2019, 10:53 AM IST

राजगढ़. शहर के बांसवाड़ क्षेत्र में स्थापित छारबाग की छत्रियोंं के जीर्णाेधार का काम एक बार फिर शुरू होगा। सोमवार को कलेक्टर निधि निवेदिता ने छार बाग के निरिक्षण के दौरान पुरातत्तव विभाग के अधिकारी को छार बाग के जीर्णोधार सहित वहां होने वाले जरूरी काम के लिए प्रस्ताव तैयार उसका काम शुरू करने के निर्देश दिए है।

 

उल्लेखनीय है की राजशी काल में तैयार इन छत्रियों को लगभग सौ वर्ष का समय हो चुका है। बेहद आकर्षक शिल्पकला से निर्मित छत्रियां पिछलेे कुछ वर्षाे में देखरेख के आभाव में क्षतिग्रस्त हो गई थी।

छत्रियों का जीर्णोधार शुरू किया था

दो वर्ष पूर्व प्रशासन की पहल पर पुरातत्व विभाग ने करीब 20 लाख की लागत से छत्रियों का जीर्णोधार शुरू किया था। कलेक्टर ने सोमवार को सुबह और शाम को छार का भ्रमण किया था। जहां मौजूद एतिहासिक धरोहरों से प्रभावित होकर उन्होंने यहां फिर से जीर्णोधार काम शुरू करवाने की बात कही है। इसके लिए उन्होंने पुरातत्व विभाग के अधिकारी को त्वरित प्रक्रिया करने के साथ ही उद्यानिकी, वन, लोकनिर्माण, राजस्व सहित अन्य शासकीय विभागों से सहयोग लेने की बात कही है।

 

उन्होंने बताया की जीर्णोधार के तहत छतरी स्थल से लेकर नदी तक स्वच्छता और पार्क निर्माण, छत्रियों पर आवश्यकताअनुसार पालिश ओर रंगरोंगन सिटिंग आदि काम किए जाएगें। इसके साथ ही नेवज नदी पर वोटिंग क्लब तैयार करने के लिए जरूरी काम के निर्देश भी दिए गए है।

news.png

खुलेगी नेवज पर पॉथवे की बंद फाइल
छारबाग के निरीक्षण के दौरान मौजूद लोगो ने कलेक्टर को पूर्व में नेवज नदी के किनाने छारबाग से लेकर शिवघाट तक पॉथवे का प्रस्ताव तैयार होने की जानकारी दी। जिसकी जानकारी लगने पर कलेक्टर मौजूद अधिकारियों से इसके संबंध में पूछा तो उन्होंने इसका पूर्ण प्रस्ताव, डीपीआर बनने और करीब २९ लाख का स्टीमेट तैयार होने के बाद प्रक्रिया अटकने की बात कही। जिस पर कलेक्टर ने इस प्रोजेक्ट को फिर से शुरू करने के लिए फिर से प्रक्रिया शुरू करने और उसकी फाइल उन तक पहुंचने के निर्देश दिए।

नगर भ्रमण के दौरान इन छतरियों को देखा था। ये नगर की धरोहर है यहां के सोन्दर्यकरण और अन्य कामों के लिए पुरातत्व विभाग सहित अन्य विभागो को जिम्मेदारी सौंपी है। इसके लिए आवश्यक प्रयास कर जल्द ही यहां काम शुरू करवाएगें।
निधि निवेदिता कलेक्टर राजरढ़

Show More
Prakash Vijayvargiye
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned