उद्योग की राह तलाशने कुंडालिया के बाद आज मोहनपुरा डैम जाएंंगे मत्स्य विभाग मंत्री

गौशालाओं को लेकर बोले कि इस साल 3000 गौशालाएं होगी नइ निर्मित

By: Bhanu Pratap Thakur

Updated: 03 Jan 2020, 02:23 PM IST

राजगढ़। जिले में कुंडालिया और मोहनपुरा जैसी बड़ी सिंचाई परियोजनाएं बनने के बाद यहां कई तरह के उद्योगों को लगाने की कवायद की जा रही है। इसी कड़ी में पशुपालन और मत्स्य विभाग के मंत्री लाखन सिंह यादव गुरुवार को दो दिवसीय प्रवास पर राजगढ़ पहुंचे। जहां उन्होंने गुरुवार को कुंडालिया डैम पहुंचकर वहां का जायजा लिया।

 

आज मंत्री राजगढ़ के मोहनपुरा डैम पहुंचेंगे जहां भी मत्स्य उद्योग को लेकर क्या प्रयास किए जा सकते हैं इसको लेकर विभाग के कर्मचारियों के साथ एक बैठक करेंगे। इसके अलावा मछुआरों से भी चर्चा गुरुवारों को की गई। जिसमें उन्होंने बताया कि वर्तमान में कितने लोग इन दोनों ही डेमो के बनने के बाद रोजगार से जुड़े हैं।

 

उनके परिवार के पालन.पोषण में क्या सुधार आया है। साथ ही उन्होंने मत्स्य विभाग से यह भी जानकारी ली और ऐसे कितने आवेदन पड़े हैं कितनी समितियां मछली पकडऩे को लेकर काम करना चाहती हैं। इस दौरान ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह भी मौजूद थे। जिन्होंने खिलचीपुर और जीरापुर क्षेत्र से उन्हें अवगत कराया साथ ही कुंडलिया में पर्यटन की दिशा में किए जा रहे कार्यों से भी बताया। इस दौरान विधायक बापू सिंह तवर गोवर्धन दांगी भी मौजूद थे।

1000 गौशालाओं का जनवरी अंत तक पूरा काम
कांग्रेस द्वारा चुनाव से पूर्व दिए गए वचन पत्र में प्रदेश में 1000 गौशालाओं को खोलने का लक्ष्य रखा गया था। इस लक्ष्य में राजगढ़ जिले में 30 गौशालाओं की स्वीकृति दी गई थी। जनवरी अंत तक उनका काम पूरा हो जाएगा। पांच पूरी भी हो चुकी है। यहां मंत्री लाखन सिंह ने कहा कि फ रवरी माह में 3000 नई गौशालाओं को खोलने की स्वीकृति दी जाएगी। कमलनाथ सरकार गौ संरक्षण को लेकर बहुत ही गंभीर है। उनके संरक्षण को लेकर हर संभव प्रयास कर रही है।

संवाद कार्यक्रम में हुए शामिल
ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह और पशुपालन मंत्री लाखन सिंह कांग्रेस कार्यालय में आयोजित संवाद कार्यक्रम में शामिल हुए। यहां ऊर्जा मंत्री ने कार्यकर्ताओं को शासन द्वारा चलाई जा रही योजनाओं से अवगत कराया। उन योजनाओं को जन-जन तक कैसे पहुंचाएं यह भी सुझाव दिए। इस दौरान बिजली के क्षेत्र में हुए कार्यों को भी कार्यकर्ताओं के बीच रखा। वही पशुपालन मंत्री ने गौशालाओं को लेकर किए जा रहे कार्यों को विस्तार से बताया।

आज जो भी हूँ राजा साहब की देन
मंत्री लाखन सिंह ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि मैं आज जो भी हूं राजा दिग्विजय सिंह की देन है। जब मैं बसपा में था। उस समय वे लगातार मुझे कांग्रेस में आने का कहते रहे और उनकी वजह से ही मैं कांग्रेस में आया। कांग्रेस जब ज्वाइन की तो मुझे यहां तक भी उन्होंने ही पहुंचाया।

खास खास
- आज भी जिले के दौरे पर रहेंगे पशुपालन मंत्री और ऊर्जा मंत्री।
- जिले में संचालित होने वाली गौशालाओं की जानकारी नहीं थी मंत्री को।
- जिलाध्यक्ष नारायण सिंह आमलाबे को दिग्विजय सिंह का सबसे करीबी बताया।
- राजगढ़ से एक ही वाहन पर गए दोनों मंत्री और राजगढ़,ब्यावरा विधायक ।
- संवाद कार्यक्रम में लगाई गई एलईडी नहीं चलने से आधा ही संवाद देख सके कार्यकर्ता बाद में मंत्रियों ने मंच से अवगत कराए शासन की एक साल की उपलब्धियां।

 

Show More
Bhanu Pratap Thakur Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned