भूमिपूजन में प्रोटोकाल के अनुसार भाजपा पदाधिकारियों की नहीं हुई पूछपरख, नाराज नेताओं ने किया विरोध ....

सड़क चौड़ीकरण की भूमिपूजन कर स्वीकृति कराने का झूठा श्रेय ले रहे विधायक

By: Nitin Dongre

Published: 16 Jul 2020, 08:54 AM IST

गंडई-पंडरिया. नर्मदा-साल्हेवारा राष्ट्रीय राजमार्ग के लिए केंद्र से 38 करोड़ 48 लाख रुपए की स्वीकृति कराने का विधायक देवव्रत सिंह झूठा श्रेय ले रहे हैं। यह आरोप भाजपाइयों ने लगाया है। मंगलवार इस मार्ग के पुनर्निर्माण व चौड़ीकरण के लिए विधायक देवव्रत सिंह ने भूमिपूजन किया। इस कार्यक्रम में प्रोटोकाल के हिसाब से सांसद संतोष पांडेय सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों को आमंत्रण नहीं भेजने को लेकर भाजपाइयों ने नर्मदा चौक में जमकर प्रदर्शन किया। विधायक पर झूठा श्रेय लेने का आरोप लगाते हुए भाजपाइयों ने बताया कि केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी जब छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान कबीरधाम जिले पहुंचे थे, उस समय आरआरपी (रूलर रोड प्रोजेक्ट) के तहत रोड चौड़ीकरण के लिए स्वीकृति प्रदान की थी है।

ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ से मध्यप्रदेश राज्यमार्ग नर्मदा से साल्हेवारा रोड का भूमिपूजन साल्हेवारा के बस स्टैंड में निर्धारित था, लेकिन पुलिस विभाग में पदस्थ एक कर्मचारी का कोरोना पॉजिटिव खबर मिलने से कार्यक्रम का स्थान परिवर्तन कर कार्यक्रम रेंगाखार में 14 जुलाई को संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्र के विधायक देवव्रत सिंह, अध्यक्षता जनपद अध्यक्ष नीना विनोद ताम्रकार, विशिष्ट अतिथि जिला पंचायत सदस्य ममता राजेश पाल उपस्थित हुए। कार्यक्रम में विधायक विलंब से पहुंचे।

संबंधित विभाग की भी लापरवाही

कार्यक्रम में प्रोटोकाल के हिसाब से सांसद सहित क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की अनदेखी को लेकर भाजपाइयों ने संबन्धित विभाग के अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए। विरोध प्रदर्शन में गंडई ब्लॉक अध्यक्ष संजय अग्रवाल, प्रेमनारायण चंद्राकर, निजामसिंह मंडावी, विक्की अग्रवाल, राकेश ताम्रकार, अनिल अग्रवाल, खम्हन ताम्रकार, नगर पंचायत अध्यक्ष श्यामपाल ताम्रकार, जावेद खान, राकेश ठाकुर, रवि भवनानी, भीखू हिरवानी, लीलाराम साहू, रामा साहू सहित कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

इसकी मुझे जानकारी ही नहीं है

लोक निर्माण विभाग छुईखदान के एसडीओ संजय चौहान ने कहा कि भूमिपूजन के संबंध में जानकारी मीडिया के माध्यम से हुई है। भूमिपूजन आफिसयली कार्यक्रम नहीं है। इस संबंध में किसी भी अखबार को आरओ जारी नहीं हुआ है। भूमिपूजन किसके द्वारा किया गया है। यह भी मुझे जानकारी नहीं है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned