scriptAmazing of municipal officers in Rajnandgaon, installment of PM housin | Rajnandgaon में नगर निगम के अफसरों का कमाल, 1800 हितग्राहियों की रोक दी पीएम आवास योजना की किश्त | Patrika News

Rajnandgaon में नगर निगम के अफसरों का कमाल, 1800 हितग्राहियों की रोक दी पीएम आवास योजना की किश्त

राजनांदगांव (Rajnandgaon News ) के अधिकारियों की मनमानी देखनी हो तो यहां के अधिकारियों को के कामकाज को देखिए। नगर निगम के पीएम आवास योजना को देख रहे अधिकारी का प्रभार बदलते ही नियम बदल गया और हितग्राहियों की फाइलें रोक दी गईं।

राजनंदगांव

Published: March 31, 2022 08:15:10 pm

राजनांदगांव. (Rajnandgaon News ) प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पक्का मकान का सपना संजोकर अपने घर को तोडक़र लोग अब पछता रहे हैं। समय पर किश्त जारी नहीं होने के कारण शहरी क्षेत्र के लगभग 1800 मकान अधूरा पड़ा हुआ है। गर्मी का मौसम है और लोगों के सिर से छत गायब है।
Rajnandgaon में नगर निगम के अफसरों का कमाल, 1800 हितग्राहियों की रोक दी पीएम आवास योजना की किश्त
File Photo
अफसरों पर गंभीर आरोप
नेता प्रतिपक्ष किशुन यदु ने इस मामले में निगम के अफसरों पर गंभीर आरोप लगाया है, उनका कहना है कि पीएम आवास देख रहे अधिकारी का प्रभार बदलने के कारण मौजूदा निर्माण कार्यों का निरीक्षण करने का हवाला देकर फाइलें रोक दी गई है। इस वजह से हितग्राहियों को किश्त जारी नहीं हो रही है। इससे गरीब लोगों की परेशानी बढ़ गई है। कुछ हितग्राहियों ने यह भी आरोप लगाया है कि निगम में इस संबंध में पूछने जाओ तो स्पष्ट जानकारी नहीं दी जाती। इससे हितग्राहियों में आक्रोश पनप रहा है।
ज्ञात हो कि पीएम आवास की राशि हितग्राहियों को चार किश्तों में जारी होती है। मकान का नींव निकालने पर पहली किश्त जारी होती है, प्लींथ लेवल में दूसरी, छत ढलाई में तीसरी और मकान पूरा होने पर चौथी किश्त जारी होती है। इस बीच निगम के इंजीनियर लगातार हितग्राहियों के घर पहुंचकर निर्माण कार्यों का निरीक्षण कर रिपोर्ट बनाते हैं। ऐसे में जब हितग्राही मकान बनाना प्रारंभ कर चुका है, तो फिर निरीक्षण करने की बात कहकर क्यों अधिकारियों द्वारा हितग्राहियों को गुमराह किया जा रहा है।
प्रभार बदला, तो बदल गया नियम
Rajnandgaon News यदु ने कहा कि, पीएम आवास का प्रभार पहले दूसरे अधिकारियों के हवाले रहा। अब यह प्रभार निगम के सहायक अभियंता को सौंपा गया है। उन्होंने प्रभार लेते ही पीएम आवास की फाइलें रोके रखी हंै। कहा जाता है कि निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया जाएगा उसके बाद फाइलें आगे बढ़ेंगी। 18 सौ निर्माण कार्यों का निरीक्षण किस तरह तेजी से पूरा किया जाएगा। इसको लेकर उनके पास किसी तरह की कार्ययोजना नहीं है। यह फैसला महज हितग्राहियों की परेशान करने का तरीका है।
किस्तें रोका जाना गलत

Rajnandgaon News पीएम आवास के तहत मिलने वाले अनुदान में 360 वर्ग फीट निर्माण के नियम को आधार बनाकर किस्तें रोकी जा रही है। यह हैरान करने वाला है। यदु ने कहा कि बीते सालों से पीएम आवास के तहत मिले अनुदान से घर बनवाएं हैं। इसमें लोगों ने कुछ अपनी बचत लगाई और कुछ बड़े घर बनवाए। तब भी शासन से उन्हें उन्हें पूरा अनुदान देता रहा। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि, इस स्थिति में निगम प्रशासन स्पष्ट करें कि पहले किए गए भुगतान गलत थे या अभी हितग्राहियों की किस्तें रोका जाना गलत है। अगर किसी हितग्राही के पास जगह है और कुछ राशि है, जिसे जोडक़र वह अपने मकान अपने परिवार के अनुसार बनवाना चाहता है, तो इसमें गलत क्या है ?
नेता प्रतिपक्ष ने लगाया आरोप
नेता प्रतिपक्ष यदु ने कहा कि निगम में 10 से ज्यादा सब इंजीनियर और 4 सहायक अभियंता हैं, लेकिन इतने बड़े प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी एक ही अधिकारी को क्यूं दी गई है यह भी समझ से परे है। उन्होंने यह भी मांग रखी कि पीएम आवास योजना की जिम्मेदारियां सहायक अभियंताओं को अलग-अलग जोन बनाकर सौंपी जाए, ताकि गरीबों के आवास निर्माण में तेजी आ सके।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.