एक और 'आनंद कुमार' ने अपनी मेहनत से 'सुपर-13' को बनाया काबिल, युवा कोचिंग शिक्षक के जुनून ने दिलाई सफलता ...

सभी बच्चों को नवोदय में हुआ चयन, 8 वर्षों से लगातार कर रहे सफल मेहनत

By: Nitin Dongre

Published: 26 Jun 2020, 08:25 AM IST

डोंगरगढ़. यदि जुनून हो और दिल में हिम्मत तो कम शिक्षित व्यक्ति भी शिक्षा के क्षेत्र में एक बड़ा नाम बन सकता है। ऐसा कर दिखाया है विकासखंड के ग्राम मुसराकला के 47 वर्षीय युवा दीनदयाल साहू ने जो गत 8 वर्षों से लगातार नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा में अपने जुनून व लगन के बल पर ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को लगातार चयनित करा रहे हैं। यह उनकी सफलता का जादू है जो जिले के सभी विकासखंडों से बच्चे उनसे कोचिंग लेने आते हैं।

वर्ष 2020-21 की नवोदय प्रवेश परीक्षा में 40 में से 13 बच्चों को चयनित कर दीनदयाल ने एक रिकॉर्ड कायम किया है। वे अब तक कुल 48 बच्चों को नवोदय में प्रवेश दिला चुके हैं। ग्राम मुसराकला के युवा दीनदयाल साहू साइकिल स्टोर में पंचर बनाने का काम करते हैं। वे कक्षा बारहवीं तक पढ़े हैं। परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए पढा़ई छोडऩी पडी़ और साइकिल दुकान खोल परिवार का भरण पोषण करने लगे।

मनीष के चयन ने बदली दिशा

विवाह के पश्चात अपने पुत्र को जवाहर नवोदय विद्यालय में प्रवेश कराने की उन्होंने मन में ठानी और मुसरा के समीप ग्राम कातलवाही में पदस्थ तत्कालीन शिक्षक युगल किशोर रजक के पास अध्ययन के लिए अपने पुत्र मनीष को भेजा। वर्ष 2011 में मनीष का जवाहर नवोदय नवोदय विद्यालय में चयन हो गया। दीनदयाल की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इसके पहले उनके मन में धारणा थी कि नवोदय विद्यालय में बड़े लोगों के बच्चे ही चयनित होते हैं।

पुत्री व भांजी बनी पहली विद्यार्थी

इसके बाद अपनी पुत्री व भांजी को भी जवाहर नवोदय विद्यालय में प्रवेश के लिए दीनदयाल ने शिक्षक रजक से निवेदन किया। शिक्षक ने पढ़ाई के गुर भी सिखाकर दीनदयाल को अपनी पुत्री चंचल व भांजी विजया पिता चंद्रभान साहू को पढाऩे कहा। दीनदयाल की कोचिंग से 2013 में ये दोनों नवोदय में चयनित हो गए। इसके बाद दीनदयाल के मन में आत्मविश्वास बढ़ा। स्थानीय लोगों ने उन्हें प्रोत्साहित किया।

इस वर्ष इनका हुआ चयन

दीनदयाल साहू ने बताया कि उनकी कोचिंग क्लास से इस वर्ष 13 चयनित बच्चों में डोंगरगढ़ के पार्थ साहू दिव्यकांत निषाद व पायल साहू तथा ग्रामीण क्षेत्र के कन्हारगांव से दीपिका गंगाधर साहू सेम्हरा से सोहम वर्मा आमाटोला अंबागढ़ चौकी से साकेत साहू लालबहादुर नगर से तनिष्क बिलावर ठेकवा से मनीष साहू सलटिकरी से यामिनी साहू पारागांव खुर्द से आकृति वैष्णव आरबीरा से मोहनीश नंदेश्वर जामरी से दीप्ति सिन्हा तथा उनके स्वयं के गांव मुसराकला से दिव्या भुवार्य का चयन नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा में हुआ है। यह बच्चे अब आगामी सात वर्षों तक एक अच्छे आवासीय विद्यालय में रहकर निशुल्क अध्ययन करेंगे। 3 को छोड़कर 10 बच्चे ग्रामीण क्षेत्र से है।

खेती व साइकिल दुकान हुई प्रभावित

कोचिंग क्लास लेने के कारण सुबह और शाम दीनदयाल साहू व्यस्त रहते हैं इस कारण वे अपने साढे तीन एकड़ खेती को समय नहीं दे पाते। जब खेती प्रभावित हुई तो उन्होंने अपने पूरे खेत को रेगहा में देना प्रारंभ कर दिया। इसके अलावा साइकिल दुकान में भी वे ज्यादा समय नहीं दे पाते। ग्राहकी भी इसके चलते प्रभावित हुई। हालांकि उनका कहना है कि बच्चों का भविष्य ज्यादा जरूरी है।

पालकों के जज्बे को भी सलाम

अपने बच्चों को नवोदय विद्यालय में चयनित कराने जिले के सभी विकास खंडों से आने वाले बच्चों के पालकों का जज्बा भी बड़ा है। ये पालक सुबह 7 से 10 बजे तक अपने बच्चों की पढ़ाई के कारण मुसरा में ही बैठे रहते हैं और कोचिंग खत्म होने का इंतजार करते हैं।

प्रारंभ से ही पत्रिका के पाठक

दीनदयाल साहू ने बताया कि वे छत्तीसगढ़ में पत्रिका के प्रारंभ से ही पाठक रहे हैं तथा जब भी पत्रिका का कोई अंक उन्हें नहीं मिलता तो वे बेचैन हो जाते हैं तथा तत्काल पूछताछ कर उसे हासिल करके रहते हैं। वे शनिवार को प्रकाशित होने वाले मीनेस्ट को पढ़ते भी हैं और संभाल कर भी रखते हैं। वे कहते हैं कि शिक्षा की दिशा में पत्रिका का यह एक बड़ा प्रयास है। क्षेत्र में होने वाली असाधारण घटना की खबर भी वे तत्काल पत्रिका में देते हैं।

निशुल्क देते हैं अध्यापन सामग्री

अपनी कोचिंग के नियम के अंतर्गत दीनदयाल साहू अपने आप आने वाले बच्चों को पठनीय सामग्री पुस्तक नोटबुक व आंसर शीट स्वयं की ओर से निशुल्क देते हैं ताकि बच्चों की पढाई में एकरूपता बनी रहे उन्होंने बताया कि अधिकांश बच्चे निर्धन परिवार से हैं जिनका चयन हुआ है उन बच्चों के चयनित होने पर हर्ष व्यक्त करते हुए साहू ने उन्हें बधाई भी दी तथा उनके उज्जवल भविष्य की कामना भी की है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned