मंगल को आई मंगलदायक खबर, जिले में एक भी नया केस नहीं, 12 डिस्चार्ज हुए ...

राजनांदगांव के दो निजी चिकित्सक और लखोली के 7 हुए ठीक

By: Nitin Dongre

Published: 01 Jul 2020, 06:40 AM IST

राजनांदगांव. शहर सहित जिले में लगातार बढ़ते कोरोना मामलों में मंगलवार को मंगलदायक खबर आई है। आज यहां से एक भी नया केस सामने नहीं आया है। लखोली के एक पॉजिटिव की खबर सुबह आई थी, वह सोमवार रात की थी। इसी के साथ ही बडी़ राहत की खबर है कि मंगलवार को कोरोना से ठीक होकर 12 लोग डिस्चार्ज हुए हैं। इनमें पिछले दिनों संक्रमित शहर के दो निजी डॉक्टर भी हैं। उधर कोरोना संक्रमित होकर एम्स रायपुर में भर्ती डोंगरगांव विधायक भी आज ठीक होकर डिस्चार्ज हो गए हैं।

राजनांदगांव जिले में पिछले कुछ दिनों से हर दिन बडी़ संख्या में आ रहे कोरोना पॉजिटिव केस ने शहर में दहशत का माहौल पैदा कर दिया था लेकिन मंगलवार को बडी़ राहत की खबर आई है। सुबह लखोली क्षेत्र के पॉजिटिव की जो खबर आई है, वह सोमवार रात की है। एक ओर जहां मंगलवार को एक भी मामला नहीं आया, वहीं आज डिस्चार्ज होने वालों में ज्यादातर लखोली क्षेत्र के ही हैं। शहर के लखोली क्षेत्र से बड़ी तेजी से कोरोना संक्रमित आए थे लेकिन इस इलाके के लिए अब लगातार राहत वाली खबर आ रही है और यहां के अधिकांश लोग कोरोना मुक्त होकर डिस्चार्ज हो गए हैं।

पौने 2 सौ रिपोर्ट आई, सब नेगेटिव

राजनांदगांव जिले से गए सैंपल में से मंगलवार को 175 सैंपल की रिपोर्ट आई है और सभी रिपोर्ट नेगेटिव रही है। इस तरह कई दिनों बाद राजनांदगांव में एक भी कोरोना केस नहीं आया है। लगातार मिल रहे केस के बीच यह राहत की बात है लेकिन अब भी सावधानी जरूरी है।

यहां के मरीज हुए ठीक

कोविड-19 हॉस्पिटल से आज 12 लोगों की छुट्टी हो रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी ने बताया कि मंगलवार को 12 कोरोना मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। कोरोना मुक्त होकर अस्पताल से बाहर आने वालों में भरकापारा और लालबाग क्षेत्र के निजी डॉक्टरों के साथ ही लखोली क्षेत्र के 7, सुखरी करमतरा के 2 और तेलीपारा के 1 मरीज हैं। सभी को उनके घर भेज दिया गया है और फिलहाल होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है।

पांच डाक्टर हुए ठीक

कोरोना मरीजों का इलाज करने के दौरान राजनांदगांव के पेंड्री स्थित मेडिकल कालेज अस्पताल और बसंतपुर अस्पताल के डॉक्टरों के बाद कोरोना संदिग्ध के संपर्क में आकर दो निजी चिकित्सक कोरोना संक्रमित हुए थे। कल तीनों शासकीय चिकित्सक कोरोना मुक्त हो गए थे और आज निजी चिकित्सकों के भी ठीक हो जाने से डाक्टर्स में राहत की स्थिति है।

आठ दिन में ठीक हुए विधायक

अपने क्षेत्र के शोक कार्यक्रम में कोरोना संदिग्ध के संपर्क में आकर डोंगरगांव विधायक संक्रमित हुए थे। 22 जून को पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद विधायक को एम्स रायपुर में भर्ती किया गया था। आज एम्स ने उनको ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया है। ठीक होकर घर पहुंचने पर विधायक की पत्नी ने आरती उतारकर और समर्थकों ने तालियां बजाकर स्वागत किया।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned