कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए और पाचन शक्ति बढ़ाने आयुर्वेदिक विभाग पिला रहा है काढ़ा ...

स्वास्थ्य परिसर में कर्मचारियों सहित अस्पताल में आए लोगों को काढ़ा वितरण किया साथ ही लोगों को इसके बारे में जागरूक किया जा रहा है।

By: Nitin Dongre

Published: 01 Aug 2020, 08:08 AM IST

डोंगरगढ़. विश्वव्यापी कोरोनावायरस के संक्रमण से बचने के लिए स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के आयुर्वेद विभाग ने नगरपालिका परिसर, स्थानीय पुलिस थाना परिसर, स्वास्थ्य परिसर में कर्मचारियों सहित अस्पताल में आए लोगों को काढ़ा वितरण किया साथ ही लोगों को इसके बारे में जागरूक किया जा रहा है।

बताया कि इस काढ़ा के सेवन से पाचन तंत्र पूरी तरह से तंदुरुस्त रहता है और तंदुरुस्त पाचन तंत्र के चलते हम इस संक्रमण से बच सकते हैं साथ ही हमें करोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए घरेलु नुस्खे तथा दिन में अधिक से अधिक बार साबुन से लगभग आधा मिनट तक रगड़ का हाथ धोने, घर से बाहर निकलते समय नाक व मुंह को पूरी तरह से ढंक कर जरूरी होने पर ही बाहर निकले, लोगों से मिलते समय उचित दूरी बनाकर लोगों से बात करें तथा सार्वजनिक स्थानों जैसे लिफ्ट सीढिय़ों के बगल में लगे रैम्प अन्य चीजों को हाथ लगाने से बचें जैसे सावधानियों के बारे में लोगों को सचेत किया साथ ही घर में ही रहकर शासन के बताए हुए गाइड लाइन का पालन करने की बात कही। इस अवसर पर होमो पैथिक संस्था के आलोक कलचुरी, गायत्री मिश्रा, सुमरो मंडावी ने राहगीरों सहित बड़ी संख्या में पालिकाकर्मी को काढ़ा पिलाया।

काढ़ा से बढ़ती है रोग प्रतिरोधक क्षमता

स्थानीय शासकीय आयुर्वेदिक औषधालय की डॉक्टर शोबी खान ने बताया कि नगर में पालिका सहित विभिन्न स्थानो काढ़ा दिया जा रहा है, जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी बढ़ती है। इस काढ़ा के उपयोग से आसानी से हम किसी भी बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते हैं। साथ ही इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। इसका उपयोग किसी भी उम्र के बच्चे, बूढ़े, जवान कोई भी कर सकते हैं। इसे शरीर में स्फूर्ति बनी रहती है। खान ने बताया कि इस काढ़ा में त्रिकूट चूर्ण, तुलसी पत्ता, मुलेठी तथा काली मिर्च होता है, जिसको निश्चित मात्रा में मिलाकर काढ़ा बनाकर तैयार किया जाता है।

कम्युनिटी संक्रमण रोकने के लिए काढ़ा बेहतर उपाय

आयुर्वेदिक चिकित्सकों का मानना है कि कोरोना वायरस के संक्रमण के कम्युनिटी फैलाव को रोकने के लिए यदि हम हर स्थानों में प्रत्येक लोगों को काढा पीला देते हैं तो यह आम जनों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए बेहतर व कारगर उपाय साबित होगा। जिसे ध्यान रखते हुए विकासखंड के लगभग सभी आयुर्वेदिक सेंटरों द्वारा क्वॉरेंटाइन प्रवासी मजदूरों सहित आम लोगों को काढ़ा वितरण किया जा रहा है। ऐसे में लोगों को जागरूक करने जनप्रतिनिधि एवं समाजसेवी संस्था को आगे आने की अपील भी उन्होंने की है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned